अमेठी में औंधे मुंह गिरी शौचालय निर्माण योजना, ओडीएफ गांव में खेतों में जा रहे ग्रामीण

अमेठी में औंधे मुंह गिरी शौचालय निर्माण योजना, ओडीएफ गांव में खेतों में जा रहे ग्रामीण

Karishma Lalwani | Publish: Jun, 14 2019 08:45:17 AM (IST) | Updated: Jun, 14 2019 11:58:11 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

स्वच्छता मिशन के तहत ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल शौचालय निर्माण योजना केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में औंधे मुंह गिर गया है

अमेठी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के स्वच्छता मिशन के तहत ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल शौचालय निर्माण योजना अमेठी में औंधे मुंह गिर गया है। स्थित ये है कि प्रशासन द्वारा ओडीएफ घोषित गांव के लोग आज भी शौच के लिए खेत में जा रहे हैं। वजह ये है कि जिला प्रशासन ने शौचालय निर्माण की जो जिम्मेदारी प्रधानों को दी थी उसमें इन जनप्रतिनिधियों ने ही सेंध मारी कर दिया है।

संग्रामपुर ब्लॉक के सहजीपुर ग्रामसभा का मामला

जिले के संग्रामपुर ब्लॉक अंतर्गत सहजीपुर ग्रामसभा में बने शौचालयों में कहीं एक गड्ढे बने हैं तो कहीं बगैर छत के बने हैं। यही नहीं बल्कि दीवार और सीट भी ठीक ढंग से नहीं बनी है।

क्या कहते हैं ग्रामीण

गांव निवासी रामकली का कहना है कि उनके घर बने शौचालय में जाने लायक नहीं है। बहुत परेशानी होती है। बारिश के दौरान परेशानी बढ़ जाती है। इस मामले को प्रधान तक भी पहुंचाया गया मगर वे दूसरे आदमी की बात कह कर चले गए। दूसरे आदमी ने इसे बनवाया तो वो लीप पोतकर चले गए। रामकली ने कहा कि शौच इस तरह बना है कि एक लात मार दो तो दीवार गिर जाए। विद्या देवी बताती हैं ढंग से शौचालय बना नहीं है इसलिए शौच सुविधा होने के बाद भी वे बाहर जाते हैं। शत्रुघन बताते हैं कि जहां देखो भसक जा रहा है। शिकायत करो तो कोई सुनता ही नही। प्रधान ठेका देकर बनवाए हैं। पूरा गांव आज भी खेत में शौच के लिए जा रहा है।

जांच के बाद दोषी पर होगी सख्त कार्यवाही

इसमें अधिकारी देवेंद्र सिंह ने मामले की जांच कराने की बात की है। उन्होंने कहा कि एक-एक शौचालय की जांच होगी और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ हम सख्त कार्यवाही करेंगे।

ये भी पढ़े: खुले में कचरा जलाने वालों पर होगी कार्रवाई, सूचना देने वालों को किया जाएगा पुरस्कृत

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned