North Korea: वर्कर्स पार्टी के 75 साल पूरे होने पर शनिवार को होगा भव्य समारोह, Kim Jong Un के सामने कई चुनौतियां

HIGHLIGHTS

  • किम जोंग उन ( Kim KJong Un ) की वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया के 75 साल पूरे होने के मौके पर 10 अक्टूबर यानी शनिवार को एक भव्य समारोह का आयोजन किया जाएगा।
  • इस समारोह से पहले दुनिया के सामने सबसे कम उम्र का तानाशाह के तौर पर किम जोंग उन ने 7 मई 2016 को अपने देश के 25 मिलियन (2.5 करोड़) नागरिकों को संबोधित करते हुए कई ऐतिहासिक और साहसिक वादे किए थे।

By: Anil Kumar

Updated: 09 Oct 2020, 10:12 PM IST

सियोल। उत्तर कोरिया के तानाशाह शासक किम जोंग उन ( Kim Jong Un ) की वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया ( Worker's Party Of Korea ) के 75 साल पूरे होने के मौके पर 10 अक्टूबर यानी शनिवार को एक भव्य समारोह का आयोजन किया जाएगा। इस समारोह को लेकर व्यापक तैयारियां की गई हैं। लेकिन इस उत्सव से इतर किम जोंग उन के सामने देश को आगे बढ़ाने को लेकर कई चुनौतियां खड़ी है। उत्तर कोरिया हाल के वर्षों में कई सबसे महत्वपूर्ण चुनौतियों का सामना कर रहा है।

इस समारोह से पहले दुनिया के सामने सबसे कम उम्र का तानाशाह के तौर पर किम जोंग उन ने 7 मई 2016 को अपने देश के 25 मिलियन (2.5 करोड़) नागरिकों को संबोधित करते हुए कई ऐतिहासिक और साहसिक वादे किए थे। लेकिन अब चार साल गुजर जाने के बाद भी उन वादों को पूरा नहीं किया जा सका है।

South Korean नागरिक की बेरहमी से हुई हत्या के मामले में उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग ने मांगी माफी

उन्होंने अपने भाषण में कहा था कि अगले पांच वर्षों में उत्तर कोरिया के सभी नागरिकों की आजीविका में उल्लेखनीय सुधार होगा। हमारा देश एक 'अत्यधिक सभ्य समाजवादी देश' बन जाएगा। किम ने कहा था कि देश के लोग अत्यधिक सभ्य जीवन जीएंगे। किम जोंग जब देश के लोगों को संबोधित कर ये वादा कर रहे थे तब वे 32 वर्ष के थे। किम न जो वादे किए वह महत्वकांक्षी थी लेकिन असंभव था।

मौजूदा समय में उत्तर कोरिया दुनिया के सबसे गरीब देशों में से एक है। अपने परमाणु हथियार कार्यक्रमों को आगे बढ़ाने की वजह से कई अतंर्राष्ट्रीय प्रतिबंधों का सामना करना पड़ रहा है। किम जोंग आत्मविश्वास से भरे थे और अपने पिता के अधीन काम करने वाले तमाम अच्छे अधिकारियों के साथ मिलकर देश को सही दिशा में आगे बढ़ा सकते थे। इसी दृष्टिकोण और विचार के साथ 2016 में एक बड़े सम्मेलन में हिस्सा लेते हुए लोगों को भरोसा दिया था।

किम के पास देश को बढ़ाने का अवसर

आपको बता दें कि 2016 में किम जोंग उन ने 1980 के बाद पहली बार हुए पार्टी के अधिवेशन की अध्यक्षता की थी। उस सम्मेलन में लगभग 3,500 प्रतिनिधियों ने भाग लिया था। इस सम्मेलन में देश को समृद्ध करने और आगे बढ़ाने को लेकर पंचवर्षीय योजना के अलावा कई अन्य योजनाओं पर विचार रखे गए।

किम जोंग उन ने इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए कोई विशेष नीतिगत बदलाव नहीं किए गए और न ही कोई विशेष नीति थी। अब 10 अक्टूबर शनिवार को वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया की स्थापना के 75 साल पूरे होने के मौके पर भव्य समारोह का आयोजन किया जाएगा।

Corona: खतरनाक Kim jong का एक और खतरनाक फैसला, स्कूल से घर नहीं लौट सकेंगे बीमार बच्चे !

इस विशेष मौके पर किम जोंग अपने सबसे महत्वपूर्ण राष्ट्रीय दिनों में से एक के साथ अपने देश की आर्थिक सफलता का भी जश्न मना सकते हैं। यह कोरियाई इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों में से एक या कम से कम उत्तर कोरिया के इतिहास के रूप में किम के पास खुद को चित्रित करने का एक सुनहरा अवसर होगा।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned