scriptUnable to pay car Loan EMI know your rights as a defaulter | Car Loan Tips: नहीं भरी है अपनी कार की EMI तो अपनाएं ये आसान तरीका, बैंक के झंझट से मिलेगा छुटकारा | Patrika News

Car Loan Tips: नहीं भरी है अपनी कार की EMI तो अपनाएं ये आसान तरीका, बैंक के झंझट से मिलेगा छुटकारा

सबसे जरूरी बात अगर 3 महीनें बाद भी आपने अपनी किश्त का भुगतान नहीं किया है, तो बैंक या फाइनेंस कंपनी द्वारा वसूली के लिए रखे गए लोग आपको परेशान कर सकते हैं।

नई दिल्ली

Updated: December 22, 2021 02:15:49 pm

वाहन और घर खरीदनें के लिए आज ज्यादात्तर लोग ईएमआई का विकल्प चुनते हैं, जिसे समय पर भरना आवश्यक होता है। लेकिन ग्राहकों का एक बड़ा वर्ग फाइनेंस तो करा लेता है, लेकिन ईएमआई समय पर ना देने से डिफाल्टर घोषित हो जाता है। आज हमारा यह लेख ऐसे ही लोगों के लिए हैं, जो आम जिंदगी में बैंक या फाइनेंस कंपनी के कर्जबंद हो जाते हैं, और इससे छूटकारा पाने के रास्ते तलाशते रहते हैं।

Car Loan-amp
Car Loan Defaulter

सबसे पहली बात आपको यह याद रखनी चाहिए कि लोन लेने वाला ग्राहक पहले महीने भुगतान ना करने पर डिफ़ॉल्टर नहीं कहलाते हैं। अगर कर्जदार के खाते से 90 दिनों से अधिक समय तक ईएमआई नहीं भरी गई है, तो उसे एनपीए Non-performing asset कर दिया जाता है। अगर आपको नहीं पता है, तो बता दें कि एनपीए का मतलब है कि आपने लगातार 3 ईएमआई का भुगतान नहीं किया है, और आप डिफ़ॉल्टर घोषित हो सकते हैं।


कैसे समझे परिस्थिति

1. अगर आप किसी भी परिस्थिति में ईएमआई का भुगतान नहीं कर पा रहे हैं, तो इसके लिए सबसे पहले आपको अपने बैंक या फाइनेंस संस्था से संपर्क करने की जरूरत है। बैंक से आप अपनी ईएमआई ना भरने की जायज वजह को बताकर अपने ऊपर लगने वाले ब्याज से छुटकारा पा सकते हैं।

खैर, अब सबसे जरूरी बात अगर 3 महीनें बाद भी आपने अपनी किश्त का भुगतान नहीं किया है, तो बैंक या फाइनेंस कंपनी द्वारा वसूली के लिए रखे गए लोग आपको परेशान कर सकते हैं। आपके घर के रोज चक्कर लगाकर ये लोग आपका वाहन के साथ घर से बाहर निकलना मुश्किल कर देते हैं। ऐसे केस में आप इन्हें कुछ समय के लिए चंद रुपयों का लालच देकर टाल सकते हैं, लेकिन बैंक का प्रेशर पड़ने पर ये आपको दोबारा परेशान करेंगे।
जानें ऑनलाइन ड्राइविंग लाइसेंस रिन्यू कराने की प्रक्रिया

वहीं अगर बैंक या फाइनेंस कंपनी ने आपकी अपील को खारिज कर दिया है, और लगातार आपके खाते से चेक बाउंस हो रहा है, तो आपको 2 से 3 महीने तक इसके लिए परेशान होने के जरूरत नहीं है। बजाय इसके आप चौथे महीने ईएमआई को भरने की तैयारी कर सकते हैं, क्योंकि हम पहले ही बता चुके हैं, कि तीन महीनों तक ईएमआई ना देने कानूनी तौर पर कोई गुनाह नहीं है।


ये हैं देश की सबसे ज्यादा बिकने वाली कार, जानें क्या है इनमें खास


कैसे करें बचाव

ऐसे केस में सलाह दी जाती है, कि आप किसी भी तरह ईएमआई का भुगतान करें। 3 महीनें की ईएमआई आपको भारी लग रही है, तो आप 2 महीने की किश्त का भुगतान करके भी कुछ समय तक इस झमेले से छुटकारा पा सकते हैं। वहीं ऐसे केस में आप बैंक से सेटेलमेंट भी कर सकते हैं, जिसके लिए आपको कुछ महीनों का समय भी दिया जाएगा। बैंक द्वारा दिए गए समय के भीतर आपको ईएमआई या बैंक के साथ हुई समझौते की राशि जमा करनी होती है। हालांकि इससे आपका क्रेडिट स्कोर खराब हो जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.