राम मंदिर निधि समर्पण अभियान का समापन, अयोध्या वैदिक सिटी के साथ बनेगी नॉलेज सिटी

- रामराज्य का होगा पुनर्जागरण, पेश किया गया विकास का खाका

By: Neeraj Patel

Published: 27 Feb 2021, 03:39 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
अयोध्या. राम मंदिर निधि समर्पण अभियान का शनिवार को समापन हो गया है। इस अवसर पर पर विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने दक्षिणी दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि 44 दिनों तक चले विश्व के सबसे बड़े अभियान-श्रीराम मंदिर निधि समर्पण अभियान का शुभारंभ गत मकर संक्रांति अर्थात 15 जनवरी, 2021 को हुआ था। हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हमारे सभी मदद करने वाले हाथ,सहायक कर्मचारी,या वे लोग जो हमारे जीवन को आसान बनाते हैं (यथा ड्राइवर, प्रेसमैन, सफाई कर्मी, नाई, मोची आदि), को भी भगवान श्री राम की जन्मभूमि पर बनने वाले भव्य-दिव्य मंदिर से जुड़ने का यह अनुपम व पवित्र अवसर मिला या नहीं।

वहीं रामनगरी अयोध्या को वैदिक सिटी, नॉलेज सिटी व श्रीराम संस्कृति की राजधानी के रूप में विकसित करने की तैयारी है। अयोध्या के समग्र विकास के लिए चयनित एलईए एसोसिएट, सीबी कुकरेजा सहित ट्रस्ट द्वारा अनुबंधित डिजाइनर एसोसिएट नोएडा के अधिकारियों ने रामजन्मभूमि परिसर सहित अयोध्या के समग्र विकास के लिए बैठक में विकास का खाका पेश किया गया।

श्रीरामजन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट व मंदिर निर्माण समिति की संयुक्त बैठक में न सिर्फ राममंदिर निर्माण के प्लान पर चर्चा हुई बल्कि 70 एकड़ के परिसर सहित अयोध्या के समग्र विकास पर भी चर्चा की गई। रामजन्मभूमि की भव्यता सहित अयोध्या के संपूर्ण विकास को लेकर करीब दो घंटे तक चर्चा की गई। बैठक के बाद ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरि ने कहा बैठक में अधिकारियों ने रामजन्मभूमि परिसर सहित अयोध्या के विकास को जो प्रजेंटेशन दिया वह संतोषजनक रहा। अयोध्या को वैदिक सिटी, नॉलेज सिटी सहित राम संस्कृति की राजधानी के रूप में विकसित करने के लिए योगी सरकार जो पहल कर रही है वह सराहनीय है। श्रीराम की परंपरा ने जो वैभव दिया था, उस वैभव की ओर अयोध्या को ले जाने का प्रयास है।

रामनगरी अयोध्या में एयरपोर्ट से लेकर निराश्रित महिलाओं के लिए कौशल्या सदन का निर्माण होने जा रहा है। वहीं गांव की गरीबी दूर करने के लिए कॉटेज इंडस्ट्री की स्थापना की जाएगी। बैठक में श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, प्रमुख सचिव आवास विकास दीपक कुमार, प्रमुख सचिव शहरी नियोजन, अर्बन डेवलपमेंट रजनीश दुबे, मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा, ट्रस्टी डॉ. अनिल मिश्र, डॉ. बिमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र, नगर आयुक्त विशाल सिंह सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned