scriptMore than 145 cases of theft have been reported so far this year | इस जिले में सालभर में अब तक चोरी के 145 से अधिक मामले आए सामने | Patrika News

इस जिले में सालभर में अब तक चोरी के 145 से अधिक मामले आए सामने

locationबालोदPublished: Nov 25, 2023 11:26:38 pm

बालोद जिले में चोरों के हौसलें बुलंद हैं। चोरों को न सीसीटीवी कैमरा का डर है न ही पुलिस का। तभी तो दिन दहाड़े व रात के समय चोरी की घटना को अंजाम दे रहे हैं।

चोरों पर सीसीटीवी का भी खौफ नहीं, पहले करते हैं रेकी

बालोद. जिले में चोरों के हौसलें बुलंद हैं। चोरों को न सीसीटीवी कैमरा का डर है न ही पुलिस का। तभी तो दिन दहाड़े व रात के समय चोरी की घटना को अंजाम दे रहे हैं। जिले में इस साल पूरा गुजरा नहीं है और बीते साल में हुए चोरी के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। यह हम नहीं बल्कि पुलिस के आंकड़े बता रहे हैं। लगातार चोरी की घटना के बाद पुलिस एक्शन मोड पर है। एसपी डॉ. जितेंद्र कुमार यादव ने चोरी के मामले में चोरों की तलाश कर गिरफ्तार करने के निर्देश दिए हैं।

बीते साल सिर्फ 106 प्रकरण ही हुए थे दर्ज
हालांकि पुलिस ने इस साल हुए चोरी के अधिकांश मामले में चोर को गिरफ्तार भी किया है। वहीं कुछ चोरी के मामले ऐसे हैं, जिसके आरोपी अभी भी फरार हैं। पुलिस विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक इस साल जनवरी से नवंबर माह तक लगभग 145 से अधिक चोरी के मामले सामने आ चुके हैं। जबकि बीते साल जनवरी से दिसंबर माह तक 106 चोरी के मामले थे।

जानें, कौन से माह कितने चोरी के मामले
माह - चोरी के मामले
जनवरी -16
फरवरी -12
मार्च -15
अप्रैल -14
मई -19
जून -11
जुलाई -10
अगस्त -12
सितंबर -15
अक्टूबर -10
नवंबर -10
कुल-14

चोर पहले करते हैं रेकी फिर देते हैं चोरी की घटना को अंजाम
मामले में एसडीओपी प्रतीक चतुर्वेदी ने बताया कि अभी तक जितने बड़े चोरी के मामलों में आरोपी पकड़े गए हैं, उसमे उन्होंने पूछताछ में खुलासा किया कि वे पहले गांव में रेकी करते है। देखते हैं किस घर में ताला लगा है। फिर रात के समय उस घर में चोरी की घटना को अंजाम देते हैं।

गांव व दुकानों में अनिवार्य रूप से लगाएं सीसीटीवी कैमरा
वहीं मामले में पुलिस अधीक्षक डॉ. जितेंद्र कुमार यादव ने कहा जिले में हुए चोरी सहित अन्य मामलों के आरोपियों की तलाश व गिरफ्तारी टीम बनाकर करने के निर्देश दिए गए हैं। चोरी के मामले में पुलिस टीम लगातार आरोपी चोरों की गिरफ्तारी कर रही है। लोग अपने दुकानों व गांवो तथा घरों में भी सुरक्षा की दृष्टि से अनिवार्य रूप से सीसी टीवी कैमरा लगाएं। ताकि असामाजिक तत्व के लोगों पर नजर रखी जा सके।

शहर में भी बंद सीसीटीवी कैमरे को फिर चालू करना होगा
शहर में भी पुलिस विभाग व नगर पालिका द्वारा चौक-चौराहे में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, लेकिन इन सीसीटीवी कैमरे में कई कैमरों का दिशा विपरीत दिशा में है। वहीं शहर के अन्य मोहल्लों में भी मुख्य गली में कैमरे लगाने की जरूरत है।

सबसे ज्यादा चोरी मई माह में
जिले में अगर चोरी के मामले देखें तो इस साल सबसे अधिक चोरी के मामले मई माह में 19 चोरी की घटनाएं हुईं। इन चोरी के मामलों में अभी भी कई आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो