script27 elephants blocked the National Highway, long queue of vehicles | 27 हाथियों ने नेशनल हाइवे किया जाम, वाहनों की लगी लंबी कतार, पहुंचे एसडीओ-रेंजर और पुलिस जवान | Patrika News

27 हाथियों ने नेशनल हाइवे किया जाम, वाहनों की लगी लंबी कतार, पहुंचे एसडीओ-रेंजर और पुलिस जवान

locationबलरामपुरPublished: Dec 24, 2023 07:52:39 pm

Elephants blocked NH: रात में अंबिकापुर-रामानुजगंज एनएच-343 पर पहुंचा हाथियों का दल, वाहन चालकों ने हाथियों को देखा तो उड़ गए होश, 2 घंटे तक दर्जनों वाहनों के थमे रहे पहिए

Elephants news
NH-343 Road blocked by elephants
राजपुर. Elephants blocked NH: बलरामपुर जिले के राजपुर वन परिक्षेत्र के अंतर्गत एनएच-343 पर गागर नदी के पास शनिवार की रात 27 हाथियों का दल पहुंच गया। हाथियों को देख वाहन चालकों के होश उड़ गए। हाथी करीब 2 घंटे तक एनएच पर खड़े रहे, इससे आवागमन बाधित हो गया। इस दौरान सडक़ के दोनों ओर वाहन की लंबी लाइन लग गईं। सूचना मिलते ही फारेस्ट एसडीओ, रेंजर व पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और रास्ता क्लीयर कराया। इसके बाद आवागमन चालू हो पाया।

गौरतलब है कि प्रतापपुर क्षेत्र से 27 हाथियों का दल राजपुर वन परिक्षेत्र के चाची, नरसिंहपुर, धंधापुर गांव में विचरण कर शनिवार की रात करीब 8 बजे गागर नदी के ऊपर एनएच 343 पर पहुंच गया।
यहां दो घंटे तक हाथी सडक़ पर ही जमे रहे। हाथियों के सडक़ पर आ जाने से सडक़ के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। सूचना पर फॉरेस्ट एसडीओ आरएसएल श्रीवास्तव, रेंजर महाजन लाल साहू, पुलिसकर्मी प्रदीप यादव, रिंकू कश्यप मौके पर पहुंचे।
27 हाथियों ने नेशनल हाइवे किया जाम, वाहनों की लगी लंबी कतार, पहुंचे एसडीओ-रेंजर और पुलिस जवानउन्होंने किसी तरह जाम को क्लीयर कराया, इसके बाद आवागमन चालू हुआ। रात करीब 3 बजे 26 हाथियों का दल धौरपुर-लुंड्रा बॉर्डर पर पहुंच गया। वन विभाग द्वारा हाथियों से बचाव के लिए ग्रामीणों को टॉर्च, मशाल, पंपलेट, मिर्च पाउडर वितरित किया गया है।
यह भी पढ़ें
झारखंड से पिकनिक मनाने छत्तीसगढ़ आया युवक पलटन घाट में डूबा, नहाने के दौरान फिसला पैर


हाथी प्रभावित गांवों में कराई जा रही मुनादी
वन विभाग द्वारा राजपुर वन परिक्षेत्र अंतर्गत ग्राम चाची, खुखरी, मंदरीडांड़, सुटकोना, दुप्पी, बूढ़ाडांड़, मरकाडांड़, चौरा, लोधीडांड़, चिलमा, नरसिंहपुर, गोपालपुर, करवां, मुरका, दबगड़ी आदि गांवों में हाथियों से दूर रहने मुनादी कराई जा रही है।
यह भी पढ़ें
Breaking News: शहर के युवा क्रिकेट कोच ने की आत्महत्या, कमरे में फांसी के फंदे पर लटकती मिली लाश


दल से बिछड़ा एक हाथी
वन परिक्षेत्राधिकारी महाजन लाल साहू ने कहा कि ग्रामीणों की हाथियों से जो नुकसान हुआ है उन्हें मुआवजा दिया जाएगा। बीती रात 26 हाथियों के दल को गांव से बाहर निकाला गया है।
वर्तमान में धौरपुर-लुंड्रा बॉर्डर पर यह दल विचरण कर रहा है। एक हाथी चाची के सुपकोना जंगल में विचरण कर रहा है। ग्रामीणों को हाथियों से दूर रहने की समझाइश दी जा रही हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो