भविष्य बनाने की चाह में 10 माह बाद 40581 बच्चे पहुंचेंगे स्कूल

चार दिन बाद जिले में अनलॉक होंगे मिडिल स्कूल

By: mukesh gour

Published: 03 Feb 2021, 10:57 PM IST

बारां. कोरोना के चलते करीब दस माह तक बंद रहे मीडिल स्कूल आगामी चार दिन बाद अनलॉक हो जाएंगे। स्कूल खुलते ही कक्षा 6 से 8वीं तक के छोटे बच्चों की पढ़ाई शुरू हो जाएगी। बारां जिले में करीब 40 हजार 581 बच्चे लाभांवित होंगे। स्कूल बंद होने से शिक्षण व्यवस्था खासी प्रभावित हो रही थी। सरकार की ओर से गत 18 जनवरी से शुरू की गई कक्षा 9 से 12वीं तक की कक्षाओं का फीडबैक लेने के बाद 8 फरवरी से कक्षा छठी से 8वीं तक के स्कूल शुरू करने का सराहनीय कदम उठाया गया है। इन कक्षाओं के लिए विद्यालय समय सुबह 10.30 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगा। कक्षा में विद्यार्थी सोशल डिस्टेंस के साथ बिठाए जाएंगे। मिड-डे-मील नहीं बनाया जाएगा। सूखा पोषाहार राशन वितरण व्यवस्था के तहत ही दिया जाएगा। कक्षाओं में नियमित शिक्षण कार्य शुरू करने से पूर्व मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) की पालना सुनिश्चित की जाएगी। माता-पिता अभिभावकों से अनुमति ली जाएगी।

read also : कोटा में हर दिन तीन घरों के टूट रहे हैं ताले
अभिभावक शामिल होंगे
कक्षाएं शुरू करने से एक दिन पूर्व 7 फरवरी को स्कूलों में पीटीएम आयोजित करना होगा। इसमें अभिभावकों को स्कूलों में किए जा रहे सुरक्षा प्रबंधों की जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा यह जानकारी भी दी जाएगी की विद्यार्थी को जुकाम, बुखार या अन्य बीमारी के लक्षण दिखाई दे तो उन्हें स्कूल ना भेजें। कक्षा कक्ष शौचालय एवं बच्चों की बैठक व्यवस्था के स्थान को पूर्ण स्वच्छ एवं सैनेटाइज किया जाएगा। विद्यार्थियों को अपने साथ स्वयं की पानी की बोतल साथ लानी होगी। बोतल नहीं लाने वाले बच्चों के लिए स्कूल में ही पेयजल की व्यवस्था की जाएगी। बीमारी व अन्य कारणों से विद्यालय में उपस्थित नहीं होने वाले बच्चों के लिए ऑनलाइन अध्ययन कराया जाएगा उनके लिए अतिरिक्त कक्षा कक्ष का आयोजन भी किया जाए।
जिम्मेदारी तय
संस्था प्रधान व पीईईओ कोविड.19 के कारण संक्षिप्त किए गए पाठ्यक्रम, नवीन परीक्षा योजना एवं पेपर पैटर्न की जानकारी बच्चों तक पहुंच की पुष्टि करेंगे। विभागीय वेबसाइट पर उपलब्ध मॉडल प्रश्न पत्र के माध्यम से परीक्षा के प्रश्न पत्रों से विद्यार्थियों को परिचित कराएंगे। विद्यालय संचालन को लेकर किसी तरह की समस्या, शिकायत होने पर टोल फ्री नंबर 181 पर कॉल किया जा सकता है। इसके अलावा ब्लॉक के मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी, जिला कलक्टर, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी को भी अवगत कराया जा सकता है।

read also : पानी में इंतजार कर रही थी मौत
सितम्बर से शुरू हुए शैक्षिक कदम
भारत सरकार के गृह मंत्रालय के आदेशों की पालना में राज्य सरकार की ओर से 30 सितंबर से कंटेनमेंट जोन के बाहर के विद्यालयों में कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों को स्वैच्छिक रूप से विद्यालय में जाकर अध्यापकों से मार्गदर्शन प्राप्त करने की अनुमति दी गई थी। इसके बाद गत 18 जनवरी से सभी सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों में कक्षा 9 से 12वीं की नियमित कक्षाएं शुरू की गई। इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए सरकार के आदेश पर सभी सरकारी, गैर सरकारी स्कूलों में कक्षा छठी से आठवीं तक की कक्षाएं नियमित रूप से शुरू की जा रही है।

Show More
mukesh gour
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned