scriptThree dummy teachers arrested, main accused absconding | तीन डमी शिक्षक गिरफ्तार, मुख्य आरोपी फरार | Patrika News

तीन डमी शिक्षक गिरफ्तार, मुख्य आरोपी फरार

locationबारांPublished: Feb 12, 2024 09:40:49 pm

Submitted by:

mukesh gour

पुलिस ने निकटवर्ती राजपुरा गांव स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक दम्पति के स्थान पर अवैध रूप से स्कूल में शिक्षण कार्य कर बच्चों को पढ़ाने के आरोप में तीन डमी (फर्जी) शिक्षकों को गिरफ्तार किया है।

तीन डमी शिक्षक गिरफ्तार, मुख्य आरोपी फरार
तीन डमी शिक्षक गिरफ्तार, मुख्य आरोपी फरार

बारां. पुलिस ने निकटवर्ती राजपुरा गांव स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक दम्पति के स्थान पर अवैध रूप से स्कूल में शिक्षण कार्य कर बच्चों को पढ़ाने के आरोप में तीन डमी (फर्जी) शिक्षकों को गिरफ्तार किया है। इस प्रकरण में अब तक चार डमी शिक्षक गिरफ्तार किए जा चुके है। इस मामले में 21 दिसम्बर को सदर थाना पुलिस ने न्यू सिविल लाइन कोटा रोड निवासी तेजस सुमन की रिपोर्ट पर स्कूल में मूल रूप से पदस्थापित शिक्षक विष्णु गर्ग व उसकी पत्नी मंजू गर्ग के खिलाफ साजिश के तहत धोखाधड़ी कर बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया था।
रिपोर्ट के साथ ही पहुंच गई थी पुलिस
रिपोर्ट पर 21 दिसम्बर को ही पुलिस ने राजपुरा गांव स्थित प्राथमिक विधालय में पीईओ कौशलेस सोनी की मौजूदगी में जांच की गई थी। इस दौरान तत्कालीन सेवारत शिक्षिका मौसमी मीणा के अलावा डमी शिक्षक विष्णु भारद्वाज निवासी शिवाजी नगर, खुशबु मीणा निवासी राजपुरा व सुगना मीणा निवासी राजपुरा मौके पर स्कूल में मिले थे। इन तीनों ने पुलिस पूछताछ में बताया था कि स्कूल में मूल रूप से पदस्थापित शिक्षक विष्णु गर्ग व उसकी पत्नी मंजू गर्ग ने उन्हें पढ़ाने के लिए स्कूल में लगा रखा है तथा इस कार्य के लिए पैसे देते है।
पहले किया डिटेन,
अब किया गिरफ्तार
पुलिस अधीक्षक राजकुमार चौधरी ने बताया कि प्रकरण में अनुसंधान के लिए पुलिस उपाधीक्षक राजेन्द्र कुमार मीणा के निर्देशन में प्रकरण के अनुसंधान अधिकारी सदर थाना प्रभारी छुट्टनलाल मीना के नेतृत्व में गठित टीम ने सोमवार को राजकीय प्राथमिक विद्यालय राजपुरा में आरोपी शिक्षक विष्णु गर्ग व मंजू गर्ग के स्थान पर पढाने वाले 3 डमी शिक्षकों को गिरफ्तार किया है। एक डमी शिक्षक विष्णु भारद्वाज को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। अब आरोपी राजपुरा निवासी महावीर प्रसाद मीणा, सुगना मीणा व खुशबू मीणा को गिरफ्तार किया गया है। हालांकि महिला आरोपी फर्जी शिक्षिकाओं को भी 21 दिसम्बर को ही डिटेन कर लिया गया था, लेकिन उसके बाद छोड़ दिया। डेढ़ माह बाद गिरफ्तारी की गई है। मुख्य आरोपी शिक्षक घटना के बाद से ही फरार है।
अब तक यह निलम्बित
प्रकरण में अब तक पांच कर्मचारियों को निलम्बित किया जा चुका है। इनमें शिक्षिका मौसमी मीणा, पीईईओ कौशलेस सोनी व मुख्य आरोपी शिक्षक दम्पति तथा सीबीईओ गणपत लाल शामिल है। इन पांचों को निलम्बित कर इनका मुख्यालय शिक्षा निदेशालय बीकानेर किया हुआ है।

ट्रेंडिंग वीडियो