सोनभद्र के बाद अब बरेली में जमीनी विवाद को लेकर खून बहा, police से पिस्टल छीनी

पुलिस से भी ग्रामीण भिड़ गए और police के साथ धक्कामुक्की कर पिस्टल छीन ली।

By: jitendra verma

Published: 18 Jul 2019, 04:35 PM IST

बरेली। सोनभद्र में जमीनी विवाद के चलते हुए नरसंहार के बाद बरेली में भी जमीनी विवाद में दो पक्षों में जमकर फायरिंग और आगजनी हुई। इस घटना में दो लोग घायल हो गए जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की जानकारी होने पर मौके पर पहुँची police से भी ग्रामीण भिड़ गए और पुलिस के साथ धक्कामुक्की कर पिस्टल छीन ली। इलाके में तनाव को देखते हुए भारी पुलिस फोर्स को मौके पर तैनात किया गया है।

clash between two groups for land dispute,  <a href=pistol sieve from police" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/07/18/vlcsnap-2019-07-18-16h12m36s133_4854454-m.png">

जमीनी विवाद में हुआ फायरिंग

फतेहगंज पूर्वी के गांव पंखाखेड़ा के इरशाद ने रामगंगा नदी पार बदायूं के दातागंज के गांव सेहरहा के रकबे में जमीन खरीदी थी। वहीं पर पढ़ेरा गांव के अतर अली ने भी पड़ोस का खेत खरीद लिया। दोनों में जमीन के बंटवारे को लेकर विवाद चल रहा था। दोनों पक्ष एक दूसरे की जमीन पर अपना हक जता रहे थे। गुरुवार सुबह पंखाखेड़ा के इरशाद और पढ़ेरा के अतर अली ट्रैक्टर लेकर जमीन जोतने के लिए पहुंचे। दोनों ने एक दूसरे के खेत में ट्रैक्टर से जुताई शुरू की। जिसको लेकर पहले तो दोनों में गाली-गलौच हुई। इसके बाद इरशाद और अतर अली ने अपने-अपने पक्ष के लोगों को बुला लिया। जिसके बाद दोनों पक्षों की ओर से जमकर फायरिंग होने लगी। इस दौरान कुछ लोगों ने ट्रैक्टर में आग भी लगा दी। रामगंगा कटरी के खेतों में काम कर रहे किसानों ने सूचना देकर पुलिस police को बुला लिया।

clash between two groups for land dispute, Pistol sieve from police

पुलिस कार्रवाई में जुटी

झगड़े की सूचना पर फतेहगंज पूर्वी और बदायूं से दातागंज पुलिस मौके पर पहुंची। दोनों पक्ष के लोग पुलिस के आने के बाद भी फायरिंग करते रहे। इसके बाद ग्रामीण पुलिस से भी भिड़ गए और एक सिपाही की पिस्टल छीन ली। जिसके बाद पुलिस ने दोनों पक्ष केलोगों को खदेड़कर फायरिंग रुकवाई। पुलिस मौके से दोनों पक्षों के लोगों पकड़कर थाने ले आई। गोली लगने से घायल इरशाद और फड़वा लगने से घायल बाले हसन को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

jitendra verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned