खांचा भूमि आवंटन गलत व दो साल टॉय ट्रेन बंद रहने का माना गंभीर


स्वायत शासन विभाग : डीडीआर ने किया निरीक्षण, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश, कम से कम छह अपशिष्ट निस्तारण संयंत्र लगाने होंगे, ट्रेचिंग ग्राउंड भी करवाने होंगे सही


ब्यावर. स्वायत शासन विभाग की उपनिदेशक क्षेत्रीय अनुपमा टेलर ने शुक्रवार को नगर परिषद का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान शहर में नगरीय ठोस अपशिष्ट निस्तारण संयंत्र लगाने एवं ट्रेचिंग ग्राउंड को विकसित कर डिस्पोजल यूनिट जल्द लगाने के निर्देश दिए। लम्बे समय से लम्बित चल रहे प्रकरणों एवं पट्टे व नक्शे से संबंधित प्रकरणों का निश्चित समय में निस्तारण करने को प्राथमिकता से करने के लिए चेताया। निरीक्षण के दौरान चल रहे ऑडिट पैरो की भी जानकारी ली। इसमें अब तक की प्रगति रिपोर्ट जानी।

READ MORE : आयुक्तालय के आदेश की नहीं हुई पालना, व्याख्यानों की रिकॉर्डिंग हुई न भेजी कोई सूचना

स्वायत शासन विभाग की उपनिदेशक क्षेत्रीय अनुपमा टेलर ने नगर परिषद पहुंचकर निरीक्षण किया। उन्होंने स्वच्छता को लेकर विशेष ध्यान देने को कहा। अब तक नगरीय ठोस अपशिष्ट निस्तारण संयंत्र नहीं लग पाने के कारण जाने। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों व संबंधित कर्मचारियों को छह संयंत्र जल्द से जल्द लगवाने एवं ट्रेचिंग ग्राउंड पर डिस्पोजल यूनिट लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने लम्बे समय से लम्बित चल रहे प्रकरणों के बारे में जानकारी ली। नगर परिषद की अलग-अलग शाखाओं से संबंधित ऑडिट पैरा के बारे में जानकारी लेकर अब तक की प्रगति रिपोर्ट ली। शहरी आजिविका मिशन के बारे में जानकारी ली। इस दौरान आयुक्त राजेन्द्रसिंह सहित अन्य कर्मचारी मौजूद रहे। उन्होंने कर्मचारियों से शाखावार जानकारी ली। बकाया प्रकरणों के बारे में जानकारी ली।

READ MORE : अलग अलग एकत्र करने लगे सूखा व गीला कचरा

टॉय ट्रेन बंद रहने की मांगी तथ्यात्मक रिपोर्ट
उपनिदेशक क्षेत्रीय अनुपमा टेलर ने सुभाष उद्यान में स्थित टॉय ट्रेन का भी निरीक्षण किया। इस टॉय ट्रेन के दो साल तक खड़े रहने व संचालन नहीं किए जाने को गंभीर माना। उस वक्त के अधिकारियों व संबंधित कर्मचारियों की जानकारी मांगी। इस टॉय ट्रेन के संचालन नहीं किए जाने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर नियमानुसार कार्रवाई कर तथ्यामक रिपोर्ट मांगी।

READ MORE : ठेला व्यवसाइयों को दी आर्थिक राहत

९५ पत्रावली के बारे में ली जानकारी
उपनिदेशक क्षेत्रीय कार्यालय से नगर परिषद को ९५ पत्र लिखे गए। इन पत्रावली पर परिषद की ओर से की गई कार्रवाई एवं जिन पत्रावलियों पर जवाब नहीं दिया गया। इस मामले में नगर परिषद प्रशासन से जवाब मांगा। इन पत्रावलियों का जवाब नहीं देने वाले कर्मचारी कौन थे। कार्रवाई नहीं करने के पीछे क्या कारण रहे? इन सब बिन्दुओं पर जवाब देने के निर्देश दिए।

READ MORE : स्कूल के पूर्व छात्र रहे भामाशाह ने किया सहयोग तो बदल गए हालात
खांचा भूमि का आवंटन सही नहीं, संबंधित पर करे कार्रवाई
उपनिदेशक क्षेत्रीय ने चांगगेट पर खांचा भूमि के आवंटन स्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने प्रारम्भिक तौर पर खांचा भूमि के किए गए आवंटन को सही नहीं माना। आवंटन को निरस्त करने एवं खांचा भूमि आवंटन करने वाले कर्मचारी व अन्य के खिलाफ कार्रवाई कर रिपोर्ट भेजने को कहा।

READ MORE : सीमाज्ञान हो तो पता चले, कहां से कहां तक है जमीन?

सीएमओ कार्यालय से आए पत्रों की ली जानकारी
डीडीआर ने मुख्यमंत्री कार्यालय से आए पत्रों के बारे में जानकारी ली। मुख्यमंत्री कार्यालय से कितने पत्र आए। कितने पत्रों का वापस जवाब दे दिया। इससे संबंधित कितनी पत्रावलियों पर कार्रवाई नहीं हुई। अगर किसी पत्रावलियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो क्या कारण रहे? इनका भी जवाब मांगा।

sunil jain
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned