scriptbharatpur-dholpur jat aarakshan sangharsh samiti warned the government | राजस्थान में जाट आरक्षण को लेकर आमरण अनशन शुरू , इन दिन से करेंगे रेलवे ट्रैक जाम | Patrika News

राजस्थान में जाट आरक्षण को लेकर आमरण अनशन शुरू , इन दिन से करेंगे रेलवे ट्रैक जाम

locationभरतपुरPublished: Feb 05, 2024 10:27:27 am

Submitted by:

Rakesh Mishra

वार्ता के लिए सरकार का कोई संदेश नहीं आने पर आंदोलन के 19वें दिन रणनीति के तहत समाज के महिला-पुरुषों ने महापड़ाव स्थल पर आमरण अनशन पर बैठ गए।

jat_aarakshan.jpg
भरतपुर-धौलपुर जाट आरक्षण संघर्ष समिति की ओर से गांव जयचोली में महापड़ाव जारी रहा। महापड़ाव स्थल पर 6 महिलाओं सहित 19 जने आमरण अनशन पर बैठ गए। आमरण अनशन पर बैठने से पूर्व जाट समाज के लोगों ने अनशनकारियों का माला पहनाकर सम्मान किया। उधर, दूसरे गुट ने 21 सदस्यीय कमेटी का गठन कर दिया है।
फौजदार ने दी चेतावनी
आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक नेमसिंह फौजदार ने कहा कि 18 दिन तक जाट समाज की ओर से गांधीवादी तरीके से जगह-जगह पड़ाव डाला गया, लेकिन 3 फरवरी की शाम तक वार्ता के लिए सरकार का कोई संदेश नहीं आने पर आंदोलन के 19वें दिन रणनीति के तहत समाज के महिला-पुरुषों ने महापड़ाव स्थल पर आमरण अनशन पर बैठ गए। काफी समझाइश के बाद भी महिलाएं नहीं मानी और अनशन पर बैठ गईं। सरकार का रुख सकारात्मक नहीं होता है तो 7 फरवरी को दोपहर 12 बजे दिल्ली-मुम्बई रेलवे ट्रैक को बंद कर दिया जाएगा। फौजदार ने कहा कि सरकार ने सकारात्मक पहल नहीं की तो 7 फरवरी को दोपहर 12 बजे दिल्ली-मुम्बई रेलवे ट्रैक जाम करेंगे।
यह भी पढ़ें

जाट आरक्षण आंदोलन में बड़ी उथल-पुथल...गुटबाजी के बीच अब दोनों गुटों की परीक्षा



बहकावे में नहीं आएंः विश्वेंद्र सिंह
गौरतलब है कि पूर्व मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने समाज को नसीहत भी दे डाली थी कि लोग दलालों के बहकावे में नहीं आएं। शहर के राज गार्डन मैरिज होम में हुई सभा में पूर्व मंत्री विश्वेंद्र सिंह पहुंचे थे। विश्वेन्द्र सिंह ने कहा कि मेरी डिप्टी सीएम से वार्ता हो गई है। उन्होंने वार्ता के लिए कमेटी बनाने के लिए बोला है। डिप्टी सीएम का कहना है कि, हम केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखने के लिए तैयार हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो