scriptमौसम ने बदला रुख, अगले 54 घंटे तक मंडरा रहा बारिश, ओलावृष्टि और तूफान का खतरा, ALERT जारी | Danger of rain, hailstorm and storm looms for next 54 hours | Patrika News
भिलाई

मौसम ने बदला रुख, अगले 54 घंटे तक मंडरा रहा बारिश, ओलावृष्टि और तूफान का खतरा, ALERT जारी

CG Weather Update: आज से एक दो नहीं बल्कि तीन-तीन नए सिस्टम सक्रिय हो गए है। इसके असर से अगले 54 घंटे तक मौसम कहर बरपा सकता है। (CG Weather Department) मौसम विभाग ने सभी जिलों को चेतावनी ( IMD Alert ) जारी किया है।

भिलाईMar 02, 2024 / 04:37 pm

चंदू निर्मलकर

weather_news.jpg
cg weather Update: छत्तीसगढ़ में एक बार फिर हवाओं ने रूख बदल लिया है। जिसके चलते प्रदेश में फिर से बारिश के साथ ओलावृष्टि और तूफान का खतरा मंडरा रहा है। (Rain in Chhattigarh) दरअसल आज से एक दो नहीं बल्कि तीन-तीन नए सिस्टम सक्रिय हो गए है। इसके असर से अगले 54 घंटे तक मौसम कहर बरपा सकता है। (CG Weather Department) मौसम विभाग ने सभी जिलों को चेतावनी जारी किया है।

शनिवार सुबह बादल छाए रहे। वहीं हवाओं का रूख भी बदल गया। वहीं अब फिर से बारिश के हालात बन रहे हैं। हालांकि दोपहर में तीखी धूप के चलते तापमान में बढ़ोतरी हो गई। पारा 34 के पार जाने से लोग गर्मी से परेशान नजर आए। यह हाल राजधानी समेत सभी जिलों में रहा। हालांकि आज रात से मौसम में बदलाव के आसार है। 3 और 4 मार्च तक बारिश के चलते एक बार फिर गर्मी से राहत की उम्मीद है।
मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में कोई विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है। मौसम विशेषज्ञ एच.पी. चंद्रा के मुताबिक एक पश्चिमी विक्षोभ ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवात के रूप में उत्तर पश्चिमी अफगानिस्तान तथा उसके आसपास, 3.8 किलोमीटर से 12.6 किलोमीटर ऊंचाई तक फैला हुआ है।
इसके अलावा एक द्रोणिका ऊपरी हवा में बने चक्रीय चक्रवात से उत्तर पश्चिमी अरब सागर तक 3.5 किमी से 7.6 किमी ऊंचाई तक फैली है। एक प्रेरित ऊपरी हवा का चक्रीय चक्रवात दक्षिण-पश्चिम राजस्थान और उसके लगे पाकिस्तान के ऊपर 1.5 किमी ऊंचाई तक विस्तारित है।
पश्चिम विक्षोभ से महीने की शुरूआत पहाड़ों पर बर्फबारी और मैदानी इलाकों में बारिश के साथ हो रही है। तीन मार्च तक कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बर्फबारी हो सकती है। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली यूपी, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और उत्तरी मध्यप्रदेश में तेज हवाओं के साथ बारिश और ओलावृष्टि की संभावना है।

देश में इस बार मानसून के दौरान अच्छी बारिश होने की संभावना है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि गर्मियों के बाद अलनीनो खत्म होने लगेगा। यह बढ़िया मानसून के लिए संकेत है। मौसम विभाग के अनुसार मानसून के उत्तरार्ध में ला-नीना परिस्थिति बनने की संभावना है। इससे अच्छी बारिश हो सकती है।

Hindi News/ Bhilai / मौसम ने बदला रुख, अगले 54 घंटे तक मंडरा रहा बारिश, ओलावृष्टि और तूफान का खतरा, ALERT जारी

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो