सितारा लाइफ जीने वाली चिटफंड कंपनी की महिला डॉयरेक्टर की बेटियां पढ़ती हैं इग्लैंड और आस्टे्रलिया में

सितारा लाइफ जीने वाली चिटफंड कंपनी की महिला डॉयरेक्टर की बेटियां पढ़ती हैं इग्लैंड और आस्टे्रलिया में

Satyanarayan Shukla | Updated: 11 Jul 2019, 10:55:38 PM (IST) Bhilai, Durg, Chhattisgarh, India

कम समय में पैसा दोगुना करने का झांसा देकर सेकड़ों लोगों से करोड़ों की धोखाधड़ी करने वाली (Amway Chitfund Company) चिटफंड कंपनी एमवे की महिला डायरेक्टर सुनीता परिहार 45 साल को पुलिस ने नागपुर से गिरफ्तार कर लिया है। (Balod district court) आरोपी महिला को बालोद न्यायालय ने रिमांड पर दुर्ग जेल भेज दिया गया है।

बालोद@Patrika. कम समय में पैसा दोगुना करने का झांसा देकर सेकड़ों लोगों से करोड़ों की धोखाधड़ी करने वाली चिटफंड कंपनी एमवे (Amway Chitfund Company) की महिला डायरेक्टर सुनीता परिहार 45 साल को पुलिस ने नागपुर से गिरफ्तार कर लिया है। (Balod police) आरोपी महिला को गुरुवार को (Balod District Court) बालोद जिला न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे रिमांड पर दुर्ग जेल भेज दिया गया है। (Sent to durg jail)


जानकारी के मुताबिक जिला मुख्यालय के मधु चौक स्थित भाटिया काम्प्लेक्स में एमवे चिटफंड कंपनी का संचालन किया जा रहा था। इस कंपनी में पूरे जिले के 150 से ज्यादा लोगों ने करोड़ों की राशि जमा की गई थी। (Balod crime news) निवेशकों को जमा अवधि दो साल पूरा होने के बाद भी राशि नहीं दी गई। (Balod patrika news) निवेशकों ने इसकी शिकायत थाने में की थी।

2018 में कंपनी बंद कर कर्ताधर्ता फरार हो गए
इस मामले में दल्ली राजझरा की राजकुमारी 68 साल ने सबसे पहले शिकायत की थी। उसकी शिखायत पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। एसपी के निर्देश पर 6 दिन पहले ही पुलीस की पांच सदस्य टीम नागपुर पहुंची। आरोपी डायरेक्टर के बताए पते पर पुलिस पहुंची तो पता गलत निकला। इसके बाद भी पुलिस नागपुर के अलग अलग क्षेत्रों में पतासाजी की तब जाकर आरोपी महिला पुलिस के हाथ आई।

Read More : #Swindle: एक और चिटफंड कंपनी ने लोगों के करोड़ों रुपए हड़प लिए

 

balod crime

पति भी शामिल इस धोखाधड़ी में
इस मामले में मुख्य आरोपी महिला डायरेक्टर सुनीता परिहार के साथ उसके पति धर्मेन्द्र परिहार भी शामल है। थाना प्रभारी प्रशिक्षु डीएसपी अमर सिदार ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार करने में पुलिस को बहुत मेहनत करनी पड़ी है। इस मामले के चार आरोििपयों में से एक ही आरोपी की गिरफ्तारी हुई है। तीन आरोपी अभी भी फरार है जिसकी तलाश की जा रही है। इस कार्रवाई में हवलदार राम प्रसाद गजभिए, संदीप यादव, राहुल मनहरे और दुलेश्वरी शामिल थे।

Read More : रायपुर सेंट्रल जेल में बंद आस्था चिटफंड कंपनी के डायरेक्टर पर फोरम ने लगाया सात लाख हर्जाना

आरोपी की बेटियां पढ़ रही विदेश में
पुलिस ने बताया कि निवेशकों के पैसों से ऐशो आराम की जिंदगी जीने वाली आरोपी महिला की दो बेटी विदेशों में पढ़ाई कर रही है। एक बेटी आस्ट्रेलिया तो दूसरी इंग्लैंड में पढ़ाई कर रही है। गिरफ्तारी के समय दोनों बेटियां अपनी मां को पुलिस के हवाले करने नहीं दे रही थी। पुलिस ने उनके विरोधों को दरकिनार कर सख्ती के साथ गिरफ्तार कर बालोद ले आई।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned