जज्बे को सलाम: एक तरफ पिता की अर्थी, दूसरी तरफ धापू ने दी बोर्ड परीक्षा

जज्बे को सलाम: एक तरफ पिता की अर्थी, दूसरी तरफ धापू ने दी बोर्ड परीक्षा

tej narayan | Publish: Mar, 14 2018 09:56:29 AM (IST) | Updated: Mar, 14 2018 10:34:37 AM (IST) Bhilwara, Rajasthan, India

एक तरफ पिता के खो जाने का गम, तो वहीं दूसरी और भविष्य की चिंता। खुद ने रखी हिम्मत और वहीं सुनहरे भविष्य का सपना संजोए खुद ने बढ़ाया अपना हौंसला

हुरड़ा।
एक तरफ पिता के खो जाने का गम, तो वहीं दूसरी और भविष्य की चिंता। खुद ने रखी हिम्मत और वहीं सुनहरे भविष्य का सपना संजोए खुद ने बढ़ाया अपना हौंसला। वही साथ दिया परिवार ने गांव ने और इसी में सकारात्मक भूमिका निभाई विद्यालय परिवार ने। कुछ ऐसा ही वाकया क्षेत्र के सनोदिया गांव में हुआ। ग्राम की छात्रा धापू दरोगा जो राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय कंवलियास में कक्षा 12 बोर्ड की परीक्षार्थी है । जिसके बारहवीं बोर्ड कला संकाय का पेपर था। इस बीच विगत दो दिनों से भीलवाड़ा रामस्नेही चिकित्सालय में भर्ती उसके पिता शिवलाल वर्मा की बीती शाम तबीयत ज्यादा खराब होने पर उदयपुर रेफर किया गया। आधी रात के लगभग उदयपुर ले जाने के दौरान वर्मा ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

 

READ: 8 लाख में खरीदी कार, भुगतान नहीं करने पर युवक का अपहरण

 

परिजन सुबह पांच बजे शव लेकर गांव पहुंचे। घर में ऐसी विपदा आने की जानकारी मिलने पर धापू ने अपने आप को संभालते हुए हिम्मत रख कर परीक्षा देने का निर्णय किया। जिसमें सभी परिवारजनों ने भी साथ दिया और जहां पिता के अंतिम संस्कार की तैयारियां शुरू हुई वहीं धापू ने परीक्षा कक्ष की ओर बढ़ाएं कदम और चल पड़ी विद्यालय। वह एकाग्र होकर परीक्षा देकर घर लौटी तब तक पिता का अंतिम संस्कार हो चुका था।

 

READ: तिलकनगर में कार सहित एक युवक का अपहरण, नाकेबंदी में धरे गए अपहर्ता


घर पहुंचा प्रशासन
प्रशासन सनोदिया ग्राम पहुंचा और धापू के घर जाकर परिवार की स्थिति से वाकिफ हुआ। उपखंड अधिकारी नंदकिशोर राजोरा, प्रशिक्षु आईएएस विकास अधिकारी रोहिताश्व सिंह तोमर ने सनोदिया पहुंचकर कक्षा 12 वीं बोर्ड की परीक्षार्थी धापू से मिलकर उसके द्वारा पिता के देहांत हो जाने पर हिम्मत रख कर परीक्षा देने के निर्णय पर उसे प्रोत्साहित कर और आगे बढ़ने की प्रेरणा दी।

 

विभिन्न योजनाओं से जोड़ा
धापू के कच्चे घर एवं असहाय निर्धनता की हदें पार कर जी रहे परिवार की समस्त जानकारी लेकर उपखंड अधिकारी राजोरा ने पंचायत के सरपंच और सचिव से परिवार को बीपीएल श्रेणी में जोड़ते हुए खाद्य सुरक्षा योजना से भी जोड़ने , प्रधानमंत्री आवास योजना में परिवार को शामिल करते हुए आवास की स्वीकृति प्रदान कराने, स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय की राशि स्वीकृत कराने, छात्रा धापू को सामाजिक अधिकारिता विभाग के द्वारा देय छात्रवृत्ति की श्रेणी में शामिल करने एवं उसके 18 वर्ष से छोटे भाई बहनों को पालनहार योजना में भी लाभांवित करने के हाथों हाथ निर्देश दिए। इसके अलावा धापू के कक्षा 12वीं उत्तीर्ण करने के बाद कॉलेज की शिक्षा भी सरकारी योजना के अंतर्गत निशुल्क करवाने की व्यवस्था का भी राजोरा ने आश्वासन दिया। मौके पर जमा ग्रामवासियों ने इस अवसर पर प्रशासन का आभार जताया।

 

मदद को उठे हाथ
वही शाम तहसील क्षेत्र की जीवन ज्योति सेवा समिति संस्था हुरडा के पदाधिकारियों ने भी पहुंचकर धापू से मुलाकात की। समिति की ओर से परिवार को 11 हजार की आर्थिक सहायता, सरपंच गोपाल नाथ योगी ने दो बोरी गेहूं कि मदद की। दूसरी तरफ छात्रा धापू के विद्यालय प्राचार्य विनीत कुमार शर्मा, प्राध्यापक गोपाल लाल भील, बालिका माध्यमिक विद्यालय सनोदिया की प्राचार्य वर्षा नायर ने भी धापू के परिवार के पास पहुंचकर सभी को सांत्वना देते हुए धापू को शेष दो पेपर को सफलतापूर्वक हल करने के गुर सिखाए। इस अवसर पर समिति के संरक्षक राजेंद्र कुमार बजाज, संस्थापक सदस्य उपप्रधान मधुसूदन पारीक, अमित आत्रे, रमेश सोनी, हिम्मत सिंह राठौड़ सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारी मौजूद थे।

 

गौरतलब है कि क्षेत्र के सनोदिया गांव की छात्रा धापू दरोगा जो कंवलियास उच्च माध्यमिक विद्यालय में कक्षा 12 बोर्ड की छात्रा है। जिसके पिता शिवलाल वर्मा का एक दिन पूर्व देहांत हो जाने पर परिजन शव लेकर गांव पहुंचे । घर में ऐसी विपदा आने की जानकारी मिलने पर धापू ने अपने आप को संभालते हुए हिम्मत रख कर कल कक्षा 12 कला संकाय की परीक्षा देने का निर्णय किया था जिस पर सभी परिवारजनों सहित ग्राम वासियों ने भी उसकी हिम्मत बंधाई। जहां पिता के अंतिम संस्कार की तैयारियां शुरू हुई वही धापू ने परीक्षा कक्ष की ओर बढ़ाये कदम और वह जब परीक्षा देकर लौटी तब तक पिता का अंतिम संस्कार हो चुका था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned