script10th fail thug fraud cm mohan yadav closest person earned lakhs of rupees crime branch crime mp | 10वीं फेल लेता था नौकरी दिलाने का कांट्रेक्ट, बड़े-बड़े बुद्धिमानों को लगा दी चपत | Patrika News

10वीं फेल लेता था नौकरी दिलाने का कांट्रेक्ट, बड़े-बड़े बुद्धिमानों को लगा दी चपत

locationभोपालPublished: Jan 15, 2024 09:51:32 am

Submitted by:

Sanjana Kumar

राजधानी भोपाल में 10वीं फेल का शातिराना अंदाज सुनकर आप भी सतर्क हो जाएंगे। नौकरी, ट्रांसफर और राजनीतिक पार्टियों में पद दिलाने के नाम पर 10वीं फेल ये शख्स खुद को सीएम मोहन यादव का खास बताकर कैसे पूरे घटनाक्रम को अंजाम दे रहा था...

dusvin_fail_thug_fraud_crime_in_mp_vm_mohan_yadav.jpg

राजधानी भोपाल में 10वीं फेल का शातिराना अंदाज सुनकर आप भी सतर्क हो जाएंगे। नौकरी, ट्रांसफर और राजनीतिक पार्टियों में पद दिलाने के नाम पर 10वीं फेल ये शख्स खुद को सीएम मोहन यादव का खास बताकर पूरे घटनाक्रम को अंजाम दे रहा था। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर का रहने वाला यह शख्स इतना शातिर था कि हर कोई आसानी से इसकी बातों में आ जाता था और उसे मुंह मांगी कीमत देकर अपनी नौकरी लगने, ट्रांसफर होने या पार्टी में पद पाने का इंतजार करने लगता था। ऐसे हुआ खुलासा 10वीं फेल इस शख्स के कारनामों का खुलासा तब हुआ जब भोपाल क्राइम ब्रांच के पास इसकी शिकायत पहुंची। क्राइम ब्रांच ने इस शातिर शख्स को इंदौर से गिरफ्तार किया।

यहां पढ़ें शातिर शख्स का शातिराना अंदाज

नवीन सिंह..., इंदौर के कैसरबाग रोड पर रहता है। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक वह 1998 से 2007 तक संघ के लिए काम करता रहा है। आरएसएस से जुड़ा रहा है। उसके परिवार के लोग भी संघ से कथित रूप से जुड़े हुए हैं। वहीं, वह एमपी के कांग्रेस के एक बड़े नेता से भी जुड़ा रहा है जो इंदौर के रहने वाले हैं। डॉ. मोहन यादव के सीएम बनने के बाद 10वीं फेल इस शख्स ने खुद को सीएम का करीबी और खास बताना शुरू कर दिया था। वह लोगों को कहता कि कुछ भी काम हो तो बताना सीएम से बात करके करवा देंगे। चाहे नौकरी दिलाने की बात हो या ट्रांसफर की। यहां तक कि कुछ लोगों से उसने पार्टी में पद दिलाने की भी बात की। 10वीं फेल ये शातिर शख्स लोगों से सीएम के नाम पर मनमुताबिक काम करवाने के वादों के नाम पर उनसे मुंह मांगी रकम ऐंठ रहा था।

कई शिकायतों के बाद उठाया कदम मामले में जब लोगों को अहसास हुआ कि वो ठगे जा रहे हैं, तब उसकी एक के बाद एक कई शिकायतें भोपाल क्राइम ब्रांच के पास पहुंची। और मौका हाथ लगते ही क्राइम ब्रांच ने उसे इंदौर से गिरफ्तार कर लिया। अब उससे पूछताछ की जा रही है।

एक जनवरी को आया था भोपाल

आरोपी नवीन सिंह इंदौर में ड्राय फ्रूट की दुकान चलाता है। वह एक जनवरी को भोपाल आया था। यहां शिक्षा संघ के पदाधिकारियों से होटल में मिलकर नियुक्ति की बात की थी। कहा जा रहा है कि आरोपी ने उनमें से कुछ लोगों से ट्रांसफर के नाम पर पैसे लिए हैं। क्राइम ब्रांच उससे पूछताछ कर रही है।

ट्रेंडिंग वीडियो