मध्यप्रदेश में काले गुब्बारे बेचने पर अघोषित रोक

मध्यप्रदेश में काले गुब्बारे बेचने पर अघोषित रोक

Harish Divekar | Publish: Sep, 20 2018 08:31:10 PM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

सतना में काले गुब्बारे बेचने वाले व्यापारी के खिलाफ मामला दर्ज



मध्यप्रदेश में एट्रोसिटी एक्ट का विरोध बढने पर सरकार अब इसे दबाने में लग गई है। सवर्ण समाज मंत्रियों—सांसदों को घेरकर काले झंडे दिखा रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कडी सुरक्षा के घेरे में जब आंदोलनकारी नहीं पहुंच पाए तो उन्होंने काले गुब्बारे छोडकर सीएम के सामने अपना विरोध दर्ज कराया। इसके बाद से पुलिस ने प्रदेश में अघोषित रुप से काले गुब्बारे बेचने पर रोक लगा रखी है।
सीएम के सतना दौरे में सवर्ण समाज ने काले गुब्बारे छोडकर विरोध जताया। पुलिस ने आंदोलनकारियों के खिलाफ कार्रवाई तो की ही साथ में उन्होंने जिस व्यापारी से ये गुब्बारे खरीदे थे उसके खिलाफ भी प्रकरण दर्ज कर लिया। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने सीएम की हिटलरशाही करार देते हुए कहा कि एक तरफ तो सीएम पत्थर फेंकने वालों को गले लगाने की बात करते हैं ।

वहीं दूसरी तरफ सतना के काले गुब्बारे बेचने वालों पर आठ धाराएं लगवा देते हैं, सीएम की कथनी और करनी में बहुत अंतर है।

अजय सिंह ने कहा कि सतना प्रवास पर सीएम ने कहा कि पत्थर फेंकने वालों को गले लगाकर माला पहनाउंगा लेकिन विरोध करने वालों को काले गुब्बारे बेचने वाले हीरु सेवानी पर बलवा और आठ धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया गया। इससे पहले भी सीएम चुरहट मामले में आरोपियों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज करवा चुके हैं।

मंत्री रामपाल के बंगले में विरोध करना पडा भारी
सवर्ण समाज के लोग मंत्री रामपाल सिंह के बंगले में विरोध करने पहुंचे। यहां उन्होंने जैसे ही मंत्री को काले झंडे दिखाए, वैसे ही उनके सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मी आंदोलनकारियों पर टूट पडे।

पुलिस का रोद्र रुप देखकर कई आंदोलनकारी बंगले से भाग खडे हुए, लेकिन धर्मेंद्र शर्मा पुलिस के हत्थे चढ गए, उन्हें बंगले में ही पटककर पुलिस ने लात घुंसों से मारा। पुलिस की इस कार्रवाई को सपाक्स और सवर्ण समाज ने दमनकारी नीति बताते हुए इसकी कडी निंदा की है। सवर्ण समाज ने चेतावनी दी है कि जल्द ही प्रदेश स्तर पर बडा आंदोलन चलाया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned