script मकानों पर लगाया खतरे का निशान, फिर भी रह रहे लोग | Danger marks on houses, still used, fear of accident | Patrika News

मकानों पर लगाया खतरे का निशान, फिर भी रह रहे लोग

locationभोपालPublished: Nov 24, 2023 08:25:03 pm

- शिवाजी नगर, तुलसी नगर क्षेत्र में लापरवाही, जर्जर मकानों में गोदाम
- कभी यहां पर निवास करते थे सरकारी कर्मचारी

awas_tulsi.jpg
,,,,
भोपाल. तुलसी नगर शिवाजी नगर क्षेत्र में दो हजार से ज्यादा आवास जर्जर हो गए हैं। कभी भी ये ढह सकते हैं। इन पर लाल निशान लगाकर खतरा बता दिया गया फिर भी कई लोग जान जोखिम में डाल रहे हैं। ऐसे कुछ आवासों में जहां लोग रह रहे हैं तो कुछ को गोदाम की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है। कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।
छह नंबर स्टॉप से लेकर शिवाजी नगर, तुलसी नगर सहित यहां दो हजार से ज्यादा आवास हैं। पीडब्ल्यूडी इनकी देखरेख का काम कर रहा है। अधिकांश तीस साल से ज्यादा पुराने हैं। ज्यादातर को जर्जर घोषित करने हुए विभाग ने इन्हें खाली करवा लिया था। जो गिरने की कगार पर हैं उन पर खतरे का निशान भी लगाया है। बावजूद इसके कुछ में लोग रह रहे हैं। इनकी जांच के बाद इन्हें खतरनाक घोषित करते हुए खतरे का निशान लगाया गया था। कई आवासोंं से तो खिड़की दरवाजे भी निकाल लिए गए है। खंडहर बाकी बचा है।
देखरेख की है कमी
रहवासियों ने बताया कि यहां मॉनीटरिंग की कमी है। जिसके कारण कई बार यहां असामाजिक तत्व भी जमा हो जाते हैं। खंडहर मकानों में जमा दिखे चुनावी बैनर पोस्टर जानकारी के मुताबिक विभाग के रिकॉर्ड में तुलसी नगर शिवाजी नगर के करीब डेढ़ सौ मकान खाली हैं। इसके इसके अलावा कई जर्जर भी खाली के रूप में दर्ज है। लेकिन मौके पर इनका उपयोग होता नजर आया। इन पर अवैध कब्जे कर लोगों ने सामान जमा कर लिया है। इनका उपयोग चुनावी दौर में ज्यादा हुआ। चुनावी बैनर पोस्टर यहां रखे गए थे।
रिकॉर्ड में खाली हैं कई मकान
जानकारी के मुताबिक विभाग के रिकॉर्ड में तुलसी नगर शिवाजी नगर के करीब डेढ़ सौ मकान खाली हैं। इसके इसके अलावा कई जर्जर भी खाली के रूप में दर्ज है। लेकिन मौके पर इनका उपयोग होता नजर आया। इन पर अवैध कब्जे कर लोगों ने सामान जमा कर लिया है। खाली और सुनसान जगह होने के कारण यहां से अवैध गतिविधियों का भी अंदेशा है। यहां जांच की जानी चाहिए।
-----------------

आवासों का रखरखाव और इनसे जुड़े सभी काम का जिम्मा पीडब्ल्यूडी का है। यहां साफ सफाई और सीवेज व्यवस्था नगर निगम देखता है। इसके लिए यहां निगम अमला काम कर रहा है।
नीलेश श्रीवास्तव, जोनल अधिकारी नगर निगम

ट्रेंडिंग वीडियो