scriptएमपी का ‘मौत का शहर’, हर साल 200 लोगों की हो रही अकाल मौत | Every year 200 people die in accidents in Bhopal | Patrika News
भोपाल

एमपी का ‘मौत का शहर’, हर साल 200 लोगों की हो रही अकाल मौत

Bhopal accidents Every year 200 people die in accidents in Bhopal एमपी के इस शहर में इतनी मौतें हो रहीं हैं कि हर कोई दहल उठता है। अच्छे भले युवाओं की सांसे पल भर में उखड़ रहीं हैं। उनके परिजन बेबस देखते रह जाते हैं, मां-पिता, पति-पत्नी, बच्चों को रोता छोड़कर लोग उनकी जिंदगी से हमेशा के लिए रुखसत हो जाते हैं।

भोपालJun 06, 2024 / 08:36 pm

deepak deewan

Bhopal accidents

Bhopal accidents

Every year 200 people die in accidents in Bhopal अकाल मौतों का ऐसा आंकड़ा हर किसी को थर्रा सकता है। यहां हर साल 200 लोग असमय दम तोड़ रहे हैं। एमपी के इस शहर में इतनी मौतें हो रहीं हैं कि हर कोई दहल उठता है। अच्छे भले युवाओं की सांसे पल भर में उखड़ रहीं हैं। उनके परिजन बेबस देखते रह जाते हैं, मां-पिता, पति-पत्नी, बच्चों को रोता छोड़कर लोग उनकी जिंदगी से हमेशा के लिए रुखसत हो जाते हैं। इन सैंकड़ों अकाल मौतों की सबसे बड़ी वजह है- सड़क हादसे।
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल मानो सड़क दुर्घटनाओं की भी राजधानी बन गई है। यहां हर साल ढाई हजार से ज्यादा हादसे हो रहे हैं जोकि सैंकड़ों लोगों की जिंदगियां लील रहे हैं। सबसे बुरी बात तो यह है कि जिन लोगों की हादसों में मौत हो रही है, उनमें से अधिकांश युवा हैं।
यह भी पढ़ें : युवा बेटे को कंधा देते हुए बिलख उठे कलेक्टर, जबलपुर में भाई ने दी मुखाग्नि

भोपाल में सड़क दुर्घटनाओं accidents in Bhopal की बाढ़ सी आ गई है। इसी साल के आंकड़े देख लीजिए- शहर में अभी तक 956 रोड एक्सीडेंट हो चुके हैं। हादसे होते हैं और किसी न किसी की जान लेकर जाते हैं, अभी तक 74 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।
यह भी पढ़ें : बेहद फलदायक साबित होते हैं ये छोटे उपाय, सोया हुआ भाग्य जगा देंगे शनिदेव

पिछले दो साल के आंकड़े तो और भी भयावह हैं। इस दौरान औसतन 200 लोगों ने हादसों में दम तोड़ा है। पिछले साल यानि सन 2023 में शहर की सड़कों पर 2906 हादसे हुए। इन हादसों में 196 लोगों ने असमय अपनी जान गंवा दी। इस प्रकार हर 15 वां हादसा जानलेवा साबित हुआ जिसमें किसी न किसी की अकाल मौत हुई।
इससे पहले यानि सन 2022 तो हादसों में हुई मौतों के नजरिए से और बुरा साबित हुआ था। उस साल शहर में एक के बाद एक हादसे होते रहे और लोग अपनी जान गंवाते रहे। सरकारी आंकड़े बताते हैं कि उस साल भोपाल accidents in Bhopal में 2788 ऐसे सड़क हादसे हुए थे जिन्हें गंभीर दुर्घटनाओं की श्रेणी में रखा जाता है। इन रोड एक्सीडेंट में 205 लोगों की मौत हो गई थी। यानि पिछले दो साल से सड़क हादसों में औसतन 200 लोगों की जानें जा रहीं हैं।

Hindi News/ Bhopal / एमपी का ‘मौत का शहर’, हर साल 200 लोगों की हो रही अकाल मौत

ट्रेंडिंग वीडियो