scriptForgotten by making selfie point, plan to create responsible food zone | सेल्फी पॉइंट बनाकर भूल गए जिम्मेदार फूड जोन बनाने की योजना ठंडे बस्ते में | Patrika News

सेल्फी पॉइंट बनाकर भूल गए जिम्मेदार फूड जोन बनाने की योजना ठंडे बस्ते में

locationभोपालPublished: Jan 05, 2024 08:42:46 pm

भोपाल. बड़े तालाब किनारे प्राकृतिक खूबसूरती में बना वीआईपी रोड पर्यटकों व स्थानीय लोगों को सबसे अधिक आकर्षित करता है। ढलते सूर्य की सेल्फी लेने के लिए बड़ी संख्या में लोग राजाभोज की मूर्ति के पास जमा हो जाते है।

सेल्फी पॉइंट बनाकर भूल गए जिम्मेदार फूड जोन बनाने की योजना ठंडे बस्ते में
सेल्फी पॉइंट बनाकर भूल गए जिम्मेदार फूड जोन बनाने की योजना ठंडे बस्ते में
चार किलोमीटर लम्बे इस मार्ग पर रेतघाट से राजाभोज की प्रतिमा तक सबसे अधिक लोग घूमने के लिए आते है। जिसे देखते हुए नगर निगम ने सामने की पहाड़ी वाले हिस्से में करीब 5 करोड़ की लागत से सेल्फी पाइंट एक्सप्लोर भोपाल के नाम से स्पॉट विकसित किया। जिसमें पाथवे पर घूमने वाले सडक़ से हटकर यहां इंजाय कर सकें,लेकिन फूड जोन सात साल बाद भी शुरू नहीं हुआ। बताया गया कि शुरू में इसका ठेका सीहोर की पार्टी को दिया गया था। उन्होने इसे लम्बे समय तक शुरू नहीं किया तो ठेका निरस्त कर नया ठेका देने की तैयारी भी कर ली गई थी, लेकिन उसके बाद दूसरा ठेका हुआ ही नही। इसमें पार्क, झूले, पंतगों से मंडप आदि बना हुआ है। शौचालय से लेकर साइकिलिंग तक की व्यवस्था है।
म्युजिकल लेजर शो भी शुरू नहीं हुआ
सैलानियों को आकर्षित करने वह सेल्फी पाइंट में लोगों की भीड़ बढ़ाने के लिए निगम ने करीब डेढ़ साल पहले सेल्फी पाइंट के सामने ही म्युजिकल लेजर शो का स्पॉट भी विकसित किया है। जिसका संचालन सेल्फी पाइंट से करने के लिए केबिन बनाकर टेस्टिंग भी की जा चुकी है,लेकिन उसे भी निगम ने शुरू नहीं किया है।
आसामाजिक तत्वों की पनाहगाह बन गया
देखरेख के अभाव में छुट्टी के दिनों में लोग सेल्फी पाइंट कुछ बच्चे झूलों पर खेलते नजर आते है। बाकी दिनों में यहां आसामाजिक तत्वों की सक्रियता के चलते कोई प्रवेश भी नहीं करता है। कुछ दिन पहले ही इसमें एक व्यक्ति कार लेकर इसकी बाउंड्र्री से टकरा गया था। जिससे दीवार टूट गई थी। हाल ही में नगर निगम ने टूटी दीवार की दुरुस्त करवाने के बाद इसमें जाने वाले मार्गो पर लगे गेट पर ताला लगा दिया है। अब छुट्टी के दिन भी इसे खोला नहीं जा रहा है।
- वीआईपी रोड पर सैकड़ों लोग घूमने के लिए आते हंै। भीड़ पाथवे पर जमा न हो इसके लिए सेल्फी पाइंट करोड़ों रुपए खर्च करके बनाया गया। उसमें फूडजोन खोलने का मामला सात सालों से ठंडे बस्ते में है।
मोहम्मद सऊद, पूर्व पार्षद
-राजस्व की तरफ से ही मामला रुका हुआ है। जहां तक हमें जानकारी है, उसके टेंडर प्रक्रियां भी हुई थी,लेकिन बाद में मामला क्यों रुका है। उसे देखकर ही बताया जा सकता है।
केशव पाठक, एई सिविल, नगर निगम

ट्रेंडिंग वीडियो