script सबसे बड़े अस्पताल के दिन बदलेंगे, मरीजों के लिए आई अच्छी खबर | Good news for patients, gate closed for 6 years will open | Patrika News

सबसे बड़े अस्पताल के दिन बदलेंगे, मरीजों के लिए आई अच्छी खबर

locationभोपालPublished: Nov 25, 2023 07:58:12 am

Submitted by:

Manish Gite

हमीदिया अस्पताल प्रबंधन को फतेहगढ़ गेट खुलवाने के लिए ननि के जवाब का इंतजार, एंबुलेंस के लिए नया गेट शुरू, लेकिन ई-रिक्शा, ऑटो के चलते निकलना मुश्किल

hamidia-hospital.png
,,

हमीदिया अस्पताल में रोजाना 6 हजार से अधिक लोगों की आवाजाही रहती है। इन सभी के आने जाने के लिए वर्तमान में रॉयल मार्केट की तरफ वाला एक ही गेट इस्तेमाल हो रहा है। इसके अलावा दो अन्य गेट हैं। जिसमें फतेहगढ़ वाला गेट अवैध कब्जे के कारण बंद पड़ा है। प्रबंधन का कहना है कि नगर निगम को अतिक्रमण हटाने के लिए कई पत्र लिखे गए हैं। वहीं इन दोनों के बीच एक और गेट है, जिसे सिर्फ एंबुलेंस के लिए आरक्षित रखा गया है।

रॉयल मार्केट की तरफ वाला मेन गेट

हमीदिया अस्पताल और जीएमसी में आने जाने के लिए इसी गेट का इस्तेमाल हो रहा है। इस गेट के बाहर भी ठेलों से लेकर कई गुमटियां हैं। साथ ही ई-रिक्शा से लेकर बस तक खड़ी होती है। जिससे यहां दिन के समय अक्सर जाम जैसे हालात रहते हैं। इसके कारण आवागमन में परेशानी होती है।

नया इमरजेंसी गेट

इस गेट को एंबुलेंस से इमरजेंसी में आने वाले मरीजों के लिए रिजर्व रखा गया है। एंबुलेंस यहां से सीधे इमरजेंसी मेडिसिन विभाग के गेट तक पहुंचती है। इसके सामने भी ई-रिक्शा, ऑटो व बस अक्सर खड़े रहते हैं। जिससे एंबुलेंस की आवाजाही प्रभावित होती है।

6 साल से बंद फतेहगढ़ गेट

साल 2017 में पुराने ड्रग स्टोर को तोड़ा गया था। इस दौरान विवाद भी हुआ था। जिसके कारण हुए दंगों के बाद से यह गेट बंद है। अब गेट के सामने पान की गुमटी से लेकर कई ठेले स्थायी रूप से खड़े रहते हैं। वहीं गेट के साइड में टूटी दीवार पर चढ़ कर आना-जाना चलता है। इनका कहना है कि रॉयल मार्केट वाले गेट तक जाने के लिए लंबा रास्ता है। इसलिए यहीं से निकल जाते हैं। प्रबंधन का कहना है कि निगम और प्रशासन से बात की गई है। यह गेट जल्द खोला जाएगा।

हमीदिया अस्पताल में विस्तार का काम तेजी से चल रहा है। मरीजों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं देने के लिए हम सभी काम कर रहे हैं। जल्द ही सभी गेट से आवाजाही चालू हो जाएगी।

-डॉ. आशीष गोहिया, अधीक्षक, हमीदिया अस्पताल

ट्रेंडिंग वीडियो