दिल्ली चुनाव में कांग्रेस की करारी हार पर भड़के सिंधियां, आलाकमान को दे डाली खास नसीहत

कई नेता तो पार्टी की हार पर भड़ास निकालते हुए भी दिख रहे हैं। इसी कड़ी में अब कांग्रेस के राष्‍ट्रीय महासचिव और पार्टी के कद्दावर नेता ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया का भी बयान सामने आया है। सिंधिया ने आलाकमान को नसीहत दी है।

भोपाल/ दिल्‍ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली करारी हार के बाद पार्टी में घमासान होने लगा है। 70 विधानसभा सीटों में एक पर भी कब्जा न कर पाने वाली कांग्रेस को इस बार फिर शून्य ही हाथ लगा, जिसके परिणाम स्वरूप दिल्‍ली प्रदेश अध्‍यक्ष ने इस्‍तीफा दे दिया है। हालांकि, अब भी बड़े नेताओं के खराब परफॉर्मेंस को लेकर कई तरह की बातें की जा रही हैं। कई नेता तो पार्टी की हार पर भड़ास निकालते हुए भी दिख रहे हैं। इसी कड़ी में अब कांग्रेस के राष्‍ट्रीय महासचिव और पार्टी के कद्दावर नेता ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया का भी बयान सामने आया है। सिंधिया ने आलाकमान को नसीहत दी है।

 

पढ़ें ये खास खबर- IIFA Award 2020 : आयोजन पर खर्च होंगे 73 करोड़, खजाने से नहीं इस तरह रकम जुटाएगी सरकार


सिंधिया समेत इन नेताओं की आलाकमान को नसीहत

दिल्ली में मिली करारी शिकस्त को लेकर कांग्रेस नेता ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने कहा कि, दिल्‍ली विधानसभा चुनाव के परिणाम बहुत ही निराशाजनक है। ऐसी स्थिति में पार्टी को नई सोच और नई कार्यप्रणाली की बहुत सख्‍त जरूरत है। सिधिया ने कहा कि, 2019 में हुए लोकसभा चुनावों के बाद कई राज्‍यों में कांग्रेस ने ना सिर्फ शानदार प्रदर्शन किया, बल्कि सरकार भी बनाई। ऐसे में दिल्ली विधानसभा के परिणामों ने काफी चौंकाया है। आपको याद हो कि, इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी भी आलाकमान सहित राज्य इकाई के नेताओं की चुनावी रणनीति पर सवाल खड़े कर चुकी हैं। वहीं, दिल्ली प्रभारी पीसी चाको ने कथित तौर पर तो यहां तक कह दिया था कि, कांग्रेस का पतन 2013 में ही शुरू हो गया था, जब शीला दीक्षित मुख्यमंत्री थीं। हालांकि, बाद में उन्होंने इसपर सफाई भी दी थी।

 

पढ़ें ये खास खबर- 2000 रुपये के नोट को लेकर बड़ी खबर, अब बाजार में बचे हैं सिर्फ पुराने नोट


आलाकमान भी सख्त

हालांकि, कांग्रेस आलाकमान की ओर से पार्टी की रणनीतियों पर सवाल उठाने जैसी बयानबाजियों पर शांति बनाए रखने की ओर इशार किया। इन नेताओं की बयानबाजी पर पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया बातचीत में कहा कि, 'हम कांग्रेस की तरफ से कहना चाहते हैं कि कांग्रेस के कुछ नेता जिस तरह से अनुशासन की मर्यादा लांघकर एक दूसरे आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं, वो अवांछित और अस्वीकार्य है।’

delhi assembly elections 2020
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned