अवैध पार्किंग से की लाखों की उगाही

अवैध पार्किंग से की लाखों की उगाही

Manoj Awasthi | Publish: Feb, 15 2018 07:39:44 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

महाशिवरात्रि पर भोजपुर दर्शन करने जा रहे लोगों को अवैध पार्किंग संचालकों के कारण परेशानी का सामना करना पड़ा।

भोपाल। महाशिवरात्रि पर भोजपुर दर्शन करने जा रहे लोगों को अवैध पार्किंग संचालकों के कारण परेशानी का सामना करना पड़ा। मुख्य मंदिर से तीन किलोमीटर पहले ही खेतों और फार्म हाउस में एक दर्जन से ज्यादा अवैध पार्र्किंग खोल दी गईं। पार्किंग के बाहर खड़े लोग दो और चार पहिया वाहनों को जबरन रोककर उन्हें पार्किंग में लगवा रहे थे। इस स्थिति से सड़क पर जाम लगा रहा। तीन किलोमीटर पहले ये स्थिति देखकर लोगों को लगा कि आगे जाम लगा है। वे वहीं पास में ही गाडि़यां खड़ी कर सड़क की जगह पथरीले रास्ते से मंदिर की ओर जान लगे।

थोड़ा आगे जाने पर पता चला कि सड़क खाली पड़ी है, कुछ लोग लौटकर मुख्य सड़क तक आए और अवैध पार्र्किंग वालों को कोसते हुए आगे बढ़ते गए। पार्र्किंग से लोगों को तो काफी दूर तक पैदल चलना पड़ा। वहीं मुख्य मंदिर की पार्र्किंग काफी खाली रही। भोजपुर का मंदिर मंडीदीप थाना क्षेत्र में आता है, लेकिन इतनी भीड़ के बाद भी वहां पुलिस सक्रिय नहीं थी। इस कारण पार्र्किंग बनाकर लोगों को आसानी से लूटा गया।

पथरीले रास्ते पर चले
इस गलतफहमी से काफी लोगों को पथरीले रास्ते से ही मंदिर का सफर तय करना पड़ा। इसमें छोटे बच्चे भी शामिल थे। वे भी पथरीले रास्ते पर चलने को मजबूर थे। तीन किलोमीटर का सफर पांच किलोमीटर का हो गया।

भोजपुर में रोड के आसपास पार्र्किंग की व्यवस्था की गई थी। कहां स्थिति बिगड़ी है मैं दिखवाता हूं।
जगत सिंह राजपूत, एसपी, रायसेन

जब-जब धरती पर पाप बढ़ता है तो भगवान जन्म लेते हैं

खजूरी सड़क. बकानिया में चल रही भागवत कथा के पांचवें दिन कथा वाचक रितिका नागर ने भगवान कृष्ण के जन्म की कथा सुनाई। उन्होंने रघुवंश की कथा विस्तार से समझाई। इसके बाद चंद्रवंश में श्रीकृष्ण के जन्म की कथा का पाठ किया। उन्होंने सभी से सात कर्मों पर चलने की बात कही। उन्होंने कहा कि जब जब धरती पर पाप बढ़ता है किसी ना किसी रूप में भगवान धरती पर जरूर आते हंै। कथा में भक्त पहले दिन से ही श्रद्धालु भजनों में झूमते एवं नाचते नजर आ रहे हैं।

कृष्ण जन्म पर मनाया जश्न

जैसे ही कथा के दौरान भगवान कृष्ण का जन्म हुआ पूरा पंडाल जयकारों से गूंज गया। रितिका नेे कहा कि प्रभू के आते ही माया मोह के बंधन टूट जाते हैं और संसार रूपी कारागार से मुक्त हो जाता है। कथा के दौरान कृष्ण जन्म उत्सव और भजनों पर श्रद्धालु जमकर नाचे। नंद के घर आनंद भयो जय कन्हैया लाल की... भजन पर श्रोता जमकर झूमे। भगवान को माखन मिश्री का भोग लगाकर प्रसाद वितरण किया। इस मौके पर राजू राजपूत, माखन सिंह राजपूत, मनमोहन नागर सहित आसपास के ग्रामीण उपस्थित रहे।

Ad Block is Banned