राहुल गांधी ने जिला अध्यक्षों से पूछा, कैसा है दावेदारों का बर्ताव

राहुल गांधी ने जिला अध्यक्षों से पूछा, कैसा है दावेदारों का बर्ताव

Harish Divekar | Publish: Oct, 12 2018 04:00:12 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

- राहुल गांधी की जिला अध्यक्षों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग से बात, नेता बोले आपसी समन्वय की कमी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी जिला अध्यक्षों से सीधे बात कर प्रदेश की चुनावी नब्ज पकडऩे की कोशिश की। राहुल ने जिला अध्यक्षों से संभावित उम्मीदवारों की छवि, उनके आचरण और व्यवहार के बारे में भी फीडबैक लिया। जिला अध्यक्षों ने खुलकर राहुल को स्थानीय समस्याओं के अलावा संगठनात्मक मुश्किलों को भी बताया। कुछ जिला अध्यक्षों ने कहा कि स्थानीय स्तर पर समन्वय की भारी कमी है, चुनाव में ये बड़ी चुनौती के तौर पर सामने आएगी। राहुल ने कहा कि वे जिला अध्यक्षों की बताई बातों पर अमल कर पार्टी को जीत के रास्ते पर ले जाएंगे, साथ ही उनके फीडबैक के आधार पर ही उम्मीदवारों का चयन होगा। राहुल ने अनुशासन में काम करने की सीख भी दी। राहुल ने कुछ जिला अध्यक्षों को दिल्ली भी बुलाया है। राहुल के फोन से जिला अध्यक्ष उत्साहित नजर आए,कुछ ने कहा कि उनका जिंदगी का सपना पूरा हो गया।

 

- राहुल ने लिया दावेदारों का फीडबैक -

उज्जैन के जिलाध्यक्ष कमल पटेल से राहुल ने जिले की सातों विधानसभा सीटों के संभावित उम्मीदवारों के बारे में फीडबैक लिया। इंदौर में कांग्रेस नेताओं ने बाहरी प्रत्याक्षी का मुद्दा उठाया, उन्होंने कहा ऐसा न हो कि बाहरी लोग आगे बढ़ा दिए जाएं, इस पर राहुल ने स्थानीय उम्मीदवारों को ही प्राथमिकता दी जाएगी। होशंगाबाद जिलाध्यक्ष कपिल फौजदार से राहुल गांधी की टीम के सदस्यों ने बात की। जिला स्तर से जिन प्रत्याशियों के नाम भेजे गए हैं, वे ठीक हैं या नहीं। साथ ही बूथ लेवल को मजबूत करने के सुझाव भी लिए। जिलाध्यक्षों को आडियो रिकार्डिंग सुनाई गई। जिसमें राहुल की मंशा बताई कि वे कैसा संगठन चाहते हैं।

- बूथ मजबूत होंगे तभी जीतेंगे चुनाव -

शाजापुर जिला अध्यक्ष रामवीर सिंह सिकरवार से राहुल ने कहा कि बूथ पर मजबूत होंगे तभी हम चुनाव जीत सकते हैं,इसलिए संगठन को भी लगातार मजबूत करना है, उन्होंने पार्टी के जिला अध्यक्ष, ब्लॉक अध्यक्ष, बूथ अध्यक्ष को लगातार बैठक करने को कहा। रतलाम ग्रामीण कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेश भरावा और शहर अध्यक्ष विनोद मिश्रा से राहुल ने संगठन विस्तार और जिले में कांग्रेस संगठन की स्थिति की जानकारी लेते हुए मंडलम और सेक्टर के गठन पर बात की। भरावा ने राहुल से कहा कि आपकी तरह यदि प्रदेश अध्यक्ष भी इस तरह का फीडबैक लेंगे तो बहुत अच्छा होगा, इस पर राहुल ने कहा कि जल्द ही ये व्यवस्था भी शुरु की जाएगी।

 

- नेताओं में समन्वय की कमी -
रतलाम शहर अध्यक्ष विनोद मिश्रा ने कहा कि शहर में नेताओं के आपसी समन्वय की आवश्यकता है, तभी चुनाव जीत सकते हैं। राहुल ने कहा कि सभी जिलाध्यक्षों को जज की तरह कार्य करना है, वे समन्वय बनाकर संगठन से लेकर बूथ को मजबूत बनाएं। मंदसौर जिलाध्यक्ष प्रकाश रताडिय़ा ने कहा कि किसानों को उपज का सही दाम नहीं मिल रहा है और योजनाओं में भ्रष्टाचार हो रहा है। अस्पतालों में चिकित्सक नहीं है और स्कूल शिक्षक नहीं होने के कारण बंद हो रहे है।

- हमें पता हैं बुंदेलखंड के हालात -

टीकमगढ़ जिला अध्यक्ष महेश यादव दिल्ली में हैं, यादव से राहुल ने मिलने को कहा। सागर ग्रामीण अध्यक्ष हीरा सिंह राजपूत से राहुल गांधी ने लगभग दो मिनट बात की। इस दौरान राहुल ने जिला इकाई को मजबूत करने पर जोर दिया।

 

उन्होंने सरकारी योजनाओं का फीडबैक लिया। इस पर राजपूत ने सूखा राहत, भावांतर योजना की समस्या बताई। साथ ही बुंदेलखंड में पानी की समस्या और बुंदेलखंड पैकेज पर भी बात की।

राहुल ने कहा कि उनको बुंदेलखंड के हालात पता हैं,इन मुद्दों को चुनाव में प्रमुखता से उठाना है।

- राहुल ने इनसे भी की बात -

छिंदवाड़ा जिला अध्यक्ष गंगा प्रसाद तिवारी ,सिंगरौली जिला अध्यक्ष तिलकराज सिंह,उज्जैन शहर अध्यक्ष महेश सोनी,छतरपुर कांग्रेस जिला अध्यक्ष मनोज त्रिवेदी से भी बात कर जिले में संगठन की स्थिति और गुटबाजी के बारे में जानकारी ली। वहीं बैतूल जिलाध्यक्ष सुनील शर्मा और हरदा जिलाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण पवार सुबह ही फोन को सामने रखकर राहुल के कॉल का इंतजार करते रहे। लेकिन उनको रिकॉर्डेड संदेश ही सुनने केा मिला। इस संदेश में कहा गया कि टिकट किसी केा मिले जिताना हाथ के पंजे को ही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned