दिन-रात शवदाह जल रहा है, घर में रहें, सतर्क रहें, खुद बचें अपनों को बचाएं

कुछ एक परिजन ही पीपीइ किट पहनकर अंतिम संस्कार में शामिल हो पाते हैं, बाकी दूर से ही देखने को मजबूर हैं...

By: Ashtha Awasthi

Published: 21 Apr 2021, 03:39 PM IST

भोपाल। राजधानी भोपाल में कोरोना (Coronavirus) के 24 घंटों के दोरान 1694 नए मामले सामने आए। इसके बाद शहर में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 71967 हो गई है। सरकारी आकड़ों को मुताबिक शहर में अब तक कोरोना के 682 संक्रमित अपनी जान गवा चुके हैं। राजधानी की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। दिन-रात शवदाह जल रहा है। अस्पतालों से वाहनों में एक साथ शव लाए जाते हैं। कुछ एक परिजन ही पीपीइ किट पहनकर अंतिम संस्कार में शामिल हो पाते हैं, बाकी दूर से ही देखने को मजबूर हैं।

MUST READ: पिता के निधन पर असहाय बेटी रो रही थी, तब मदद के लिए सामने आए ये लोग

02_stay_home.png

इस समय न कांधा दे सकते हैं न ही छू सकते हैं। शव को जिस तरह से कर्मचारी उतारते हैं, उसे देखकर परिजनों की क्या वहां मौजूद हर शख्स की आंखें बेबसी के आंसुओं से भीग जाती हैं। कर्मचारी भी क्या करें ऐसे दृश्य उन्होंने भी जीवन में नहीं देखे। फिर खुद भी वायरस से बचना है। इसलिए घर में रहें, सतर्क रहें, खुद बचें अपनों को बचाएं। इस समय यही एक मात्र तरीका है वायरस से लड़ाई का।

03_stay_home.png

जानकारी के लिए बता दें कि राजधानी में मंगलवार को रिकॉर्ड 140 कोरोना मृतकों का अंतिम संस्कार किया गया। जबकि हेल्थ बुलेटिन में केवल 3 मौतें बताई गई हैं। यहां देखें आकड़े....

भदभदा विश्राम घाट

कोरोना मृतक- 94

सामान्य मृतक- 19

कुल मृतक- 113


सुभाष नगर विश्राम घाट

कोरोना मृतक- 32

सामान्य मृतक- 32

कुल-64

( सभी आंकड़े 20 अप्रैल रात्रि 8:30 बजे तक)

झदा कब्रिस्तान

कोविड मृतक- 14

सामान्य- 06

कुल- 20

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned