इस तरह से चेक करें मोटरसाइकिल का Engine Oil, जानें क्या है top-up process

आज हम आपको बता रहे हैं कि मोटरसाइकिल में इंजन ऑयल कैसे चेक करते हैं साथ जानते हैं क्या है ऑयल के टॉप अप की प्रक्रिया।

नई दिल्ली: अक्सर देखा जाता है कि लोग बाइक ( bike ) तो चलाते हैं लेकिन गाड़ी में इंजन ऑयल ( Engine Oil ) का ख्याल नहीं रखते जिसकी वजह से इसके कम होने या खराब होने पर इंजन को काफी नुकसान होता है। दरअसल इंजन ऑयल उच्च ताप पर मोटरसाइकिल ( motorcycle ) के इंजन के कंपोनेंट्स को लुब्रीकेशन के जरिये स्मूथ रखता है साथ ही इंजन के कंपोनेंट में रगड़ को भी कम करता है।

गलत इंजन ऑयल से इंजन तक हो जाता है खराब, होता है लाखों का नुकसान

इसके अलावा इंजन ऑयल इंजन में मौजूदा कार्बन और गंदगी को भी साफ करता है। यानि इंजन ऑयल का सही लेवल आपकी राइडिंग को स्मूद बनाने के साथ बाइक की कंडीशन भी ठीक रखता है। इसीलिए हर राइडर को बाइक के इंजन ऑयल के बारे में सही जानकारी होनी जरूरी होती है। इसीलिए आज हम आपको बता रहे हैं कि मोटरसाइकिल में इंजन ऑयल कैसे चेक करते हैं साथ जानते हैं क्या है ऑयल के टॉप अप की प्रक्रिया।

  • मोटरसाइकिल स्टार्ट करने से पहले हर रोज इंजन ऑयल चेक करें।
  • ऑयल लेवल को ऑयल लेवल डिपस्टिक पर स्थित ऊपरी व निचले लेवल के चिह्नों के बीच में बनाए रखा जाना चाहिए। ये डिपस्टिक राईट क्रैंककेस कवर पर रखी होती है।
  • इंजन स्टार्ट करें और इसे 3-5 मिनटों के लिए चलने दें।
  • इंजन बंद करे और मोटरसाइकिल को मुख्य स्टैंड पर खड़ी करें।
  • ऑयल लेवल डिपस्टिक को हटाएं व इसे पोछ कर साफ कर लें।
  • ऑयल लेवल डिपस्टिक को फिर से डालें लेकिन इसे घुमाएं नहीं और ऑयल लेवल चेक करें।
  • ऑयल लेवल डिपस्टिक को फिर से डालें और ऑयल लीकेज चेक करें।
  • अगर ऑयल लेवल निचले चिह्न की ओर पहुंच जाता है या हर 3000 किलोमीटर पर आप इंजन ऑयल को टॉप अप करें।
Pragati Bajpai Desk/Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned