इंडियन ऑर्मी ने बनाया ये खास हेलमेट, गोली का भी नहीं होगा असर

इंडियन आर्मी ने एक ऐसा हेलमेट बनाया है जो सेना के जवानों को दुश्मन की गोलियों से बचाने में भी सक्षम होगा।

नई दिल्ली: आम आदमी हेलमेट का इस्तेमाल एक्सीडेंट और चालान से बचने के लिए करता है। लेकिन आर्मी में हेलमेट का इस्तेमाल दुश्मनों से सुरक्षा के लिए भी किया जाता है। अब इंडियन आर्मी ने एक ऐसा हेलमेट बनाया है जो सेना के जवानों को दुश्मन की गोलियों से बचाने में भी सक्षम होगा। इससे पहले Army मेजर ने बुलेटप्रूफ जैकेट को तैयार किया था जो कि स्निपर बुलेट से प्रोटेक्शन में काम आती है।

5 सेकेंड में 100 Kmph की स्पीड पड़क लेगी Mahindra Funster, ऑटो एक्सपो में दिखी झलक

इस हेलमेट की बात करें तो इसकी सबसे खास बात ये है कि ये हेलमेट AK-47 से निकलने वाली गोली की फायर को झेलने में भी सक्षम है। बशर्ते गोली कम से कम 10 मीटर की दूरी से निकले। इस यह बेलिस्टिक हेलमेट को अभेद्य प्रोजेक्ट के तहत इंडियन आर्मी के कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग में ऑफिसर अनूप मिश्रा ने बनाया है। आपको बता दें कि मिश्रा ने इससे पहले बुलेटप्रूफ जैकेट को भी बनाया था। जो कि स्नीपर राइफल की मार को भी मात दे सकती है। 2016-17 के दौरान 50 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट्स इंडियन आर्मी के लिए तैयार की जा चुकी हैं।

Auto expo 2020 में इन बाइक्स के हो रहे हैं चर्चे, जानें क्या है खास

कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग (CME) पुणे में स्थिति है और यहीं प्रीमियर टेक्टिकल और टेक्निकल ट्रैनिंग इंस्टीट्यूट भी है। सीएमई कॉम्बेट इंजीनियरिंग, सीबीआरएन प्रोटेक्शन, वर्क्स सर्विसेज और जीआईएस मामलों में सभी आर्म्स और सर्विस के कर्मियों को निर्देश देने के अलावा इंजीनियर्स के कोर के कर्मियों की ट्रेनिंग के लिए कार्य करता है।

Pragati Bajpai Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned