मोबाइल गुम होने पर बेटी ने की पिता की हत्या, राज छिपाने शव को घर के बाहर दफनाया

- बेटी ने डंडे और पत्थर से मारकर पिता की हत्या कर दी
- साक्ष्य छुपाने के लिए बेटी ने पिता के शव को दफना दिया

By: Ashish Gupta

Published: 27 Jan 2021, 06:56 PM IST

बिलासपुर. जिस बेटी को पाल पोशकर कर बड़ा किया उसी बेटी ने डंडे व पत्थर मारकर पिता की हत्या कर दी। हत्या करने बाद साक्ष्य छुपाने के लिए बेटी ने पिता के शव को दफना दिया। घटना बेलगहना चौकी के कंचनपुर की है। सूचना पर बेलगहना चौकी प्रभारी ने तहसीलदार के आदेश पर शव को बाहर निकवाया। पुलिस हत्यारन बेटी के साथ उसकी मां की तलाश भी कर रही है।

पुलिस के अनुसार कंचनपुर बडे टिकरी निवासी मंगल धनवार पिता कुंजराम धनवार खेती किसानी करता है। रविवार को उसके घर से मोबाइल गुम हो गया। मोबाइल मंगल धनवार की बेटी दिव्या धनुवार का था। मोबइल गुम होने का जिम्मेदार दिव्या धनुवार अपने पिता मंगलू को मानते हुए उससे झगड़ा कर रही थी।

बातों- बातों में दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ा कि दिव्या ने डंडे व पत्थर से पीट-पीट कर पिता मंगलू धनुवार की हत्या कर दी। हत्या कनरे के बाद पिता की लाश को चादर में लपेट कर घर के सामने खुदे गड्ढे में डाल कर दफना दिया। वारदात की जानकारी लगते ही बेलगहना पुलिस ने पडो़सी की शिकायत पर बेटी दिव्या धनुवार पर हत्या का अपराध दर्ज कर उसकी तलाश कर रही है।

ज्वेलर ने दिखाई बहादुरी और महज दो मिनट में ही लुटेरों को भागने के लिए कर दिया मजबूर

शराब के नशे में धुत थे पिता व पुत्री
पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि मोबाइल गुम होने के बाद सुबह से ही दिव्या ने पिता के साथ ही शराब सेवन कर लिया था। शराब पीने के बाद वह मोबाइल गुम होने का जिम्मेदार पिता को ही मान रही थी। इसी बात को लेकर हुए विवाद में बेटी ने पिता की हत्या कर दी।

शव को तहसीलदार की अनुमति से बाहर निकाला
बेलगहना चौकी प्रभारी दिनेश कांत को पडोसी बंधन धनुवार ने चौकी पहुंच कर बेटी द्वारा पिता की हत्या कर जमीन में दफन करने की बात बताई। पुलिस को जब घटना की जानकारी लगी तो उन्होंने तहसीलदार को इसकी सूचना दी और तहसीलदार के समक्ष जमीन को खोदकर मंगलू के शव को बाहर निकाला।

1 साल भर पहले किया था प्रेम विवाह
बेलगहना पुलिस ने जब मामले की पड़ताल शुरू कि तो पता चला दिव्या ने साल भर पहले बांसाझाल निवासी विनायक सरस्वती से प्रेम विवाह किया था। 23 जनवरी को ही वह अपने मायके 5 वर्षीय बच्चे के साथ आई थी।

खुद को जिंदा साबित करने 2 महीने से सोसायटी के चक्कर काट रहा यह किसान, जानिए पूरा मामला

बीच बचाव करने पहुंचे पड़ोसियों की पिटाई
कलयुगी बेटी दिव्या धनुवार जब अपने पिता मंगलू पर डंडे व पत्थर से हमला कर रही थी उस दौरान बीचबचाव करने पहुंचे पड़ोसी बंधन धनुवार के सिर पर हमला कर उन्हें भी घायल कर दिया। वहंी परदेशी बाई धनुवार के पैर में हमला कर दिया। हमले से घायल दोनों ने शिकायत दर्ज कराई है।

बेलगहना चौकी प्रभारी दिनेश कांत ने कहा, पड़ोसी बंधन धनुवार से सूचना दी कि मंगलू धनुवार की हत्या उसकी ही बेटी ने कर दी है। सूचना के बाद बेटी अपनी मां व 5 साल के बच्चे के साथ फरार हो गई है। घटना की जानकारी लगते ही पुलिस नकाबंदी कर बेटी की तलाश कर रही है।

Show More
Ashish Gupta Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned