मेरे बांके बिहारी नंद के लाल, मेरे गिरधर गोपाल...जैसे भजन गाकर मनाया नंदोत्सव

मेरे बांके बिहारी नंद के लाल, मेरे गिरधर गोपाल...जैसे भजन गाकर मनाया नंदोत्सव

Amil Shrivas | Publish: Sep, 05 2018 02:56:07 PM (IST) Bilaspur, Chhattisgarh, India

पंजाबी हिन्दू महिला समिति की ओर से इमलीपारा स्थित पंजाबी समाज भवन में नंदोत्सव का कार्यक्रम भक्तिमय वातावरण में मनाया गया।

बिलासपुर. मेरे बांके बिहारी नंद के लाल, मेरे गिरधर गोपाल..., मेरे कुंजन के वासी बंजारी चले अइयो खोल किवाड़ी रे..., यशोमती मैय्या से बोले नंद लाला..., राधा की पायल छमछम बाजे..., राधे-राधे श्याम मिला दे..., राधे-राधे कहो चले आएंगे बिहारी...जैसे श्रीकृष्ण के भजन गाते हुए मंगलवार की शाम पंजाबी समाज की महिलाओं ने नंदोत्सव मनाया। भजन के साथ भक्ति में लीन होकर नृत्य करते हुए प्रभु के गुणों का बखान किया। पंजाबी हिन्दू महिला समिति की ओर से इमलीपारा स्थित पंजाबी समाज भवन में नंदोत्सव का कार्यक्रम भक्तिमय वातावरण में मनाया गया। कार्यक्रम में बाल गोपाल को शृंगारित कर भक्त पहुंचे। किसी ने मोतियों से सजाया तो किसी ने मोर पंख वाले कपड़े व मुकुट से प्रभु का शृंगार किया। वहीं कोई राधे-कृष्ण की मूर्ति साथ लेकर आया। वैदिक विधियों से पूजा-अर्चना करते हुए भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाते हुए गीत गाए। संस्था की नमिता ऋषि ने बताया कि श्रीकृष्ण जन्म के बाद उत्सव मनाने की परंपरा है। उसी के तहत यह कार्यक्रम समाज की ओर से किया गया। जिसमें सभी महिलाओं ने पूजन के बाद भजन गाते हुए भगवान का आह्वान करते हुए सभी के सुख-समृद्धि की कामना की। कार्यक्रम में बच्ची पलक यादव कृष्ण के रूप में नजर आई। महिलाओं ने एक से बढ़कर एक भजन गाते हुए माहौल को भक्तिमय कर दिया।

इस अवसर पर नमिता ऋषि, अध्यक्ष नेहा छाबड़ा, रजनी ऋषि, संतोष उथरा, चंदर बतरा, रेखा गुल्ला, चानी ऐरी, किरण अरोरा, सीमा सेठी, जसबीर छाबड़ा, छाया ठकराल, आरती कोचर, नीलम घई सहित बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थीं।
पूजा-अर्चना के बाद बांटे गए प्रसाद : भगवान श्रीकृष्ण को पंजरी का प्रसाद, मगज के लड्डू व फल भोग के रूप में अर्पित किए गए। जिसे पूजन कार्यक्रम सम्पन्न होने के बाद भक्तों को बांटा गया। प्रसाद ग्रहण करने के लिए सैकड़ों की संख्या में भक्तजन उपस्थित रहे।

Ad Block is Banned