ज्वाइनिंग के लिए भटक रहे हड़ताली एनएचएम कर्मी, बर्खास्तगी व अन्य मामले हो चुके हैं निरस्त

एनएचएम संघ के जिलाध्यक्ष वैभव डियोडिया ने बताया कि अधिकारी उनकी फाइल को मंत्रालय भेजने का हवाला दे रहे हैं। वहां से निर्देश मिलने के बाद ही इनकी ज्वाइनिंग होगी। कर्मचारी निर्देशों का इंतजार कर रहे हैं। कोरिया में 29 ने इस्तीफे दिए थे। उनके सहित सभी कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से ज्वाइन कर लिया है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 30 Sep 2020, 05:03 PM IST

बिलासपुर. नियमितीकरण की मांग को लेकर हड़ताल कर रहे संविदा एनएचएम कर्मियों को ज्वाइनिंग के लाले पड़े हैं। हड़ताल समाप्त करने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई भी निरस्त कर दी गई है, पर बहाली और ज्वाइनिंग अधर लटक गई में है। रायगढ़ जिले के चार संविदा कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया गया था।

उनकी ज्वाइनिंग अब तक नहीं हो सकी है। एनएचएम संघ के जिलाध्यक्ष वैभव डियोडिया ने बताया कि अधिकारी उनकी फाइल को मंत्रालय भेजने का हवाला दे रहे हैं। वहां से निर्देश मिलने के बाद ही इनकी ज्वाइनिंग होगी। कर्मचारी निर्देशों का इंतजार कर रहे हैं। कोरिया में 29 ने इस्तीफे दिए थे। उनके सहित सभी कर्मचारियों ने सामूहिक रूप से ज्वाइन कर लिया है।

हड़ताल में शामिल कर्मचारी बुरी तरह फंसे, सीएमएचओ का ज्वाइनिंग देने से इनकार

इसकी कलेक्टर को रिपोर्ट भेजी गई है, वहां से अभी तक कोई जवाब नही आया है। जांजगीर चाम्पा जिले में सभी 350 एनएचएम कर्मचारियों की ज्वाइनिंग हो गई है। क्योंकि सभी समय पर हड़ताल से वापस लौट गए थे। कोरबा जिले में एनआरएचएम के 340 कर्मचारी कार्यरत हैं इनमें से 10 लोगों को छोड़कर सभी कर्मचारी काम पर लौट आए हैं 2 दिन पहले कलेक्टर ने हड़ताल स्थगित नहीं करने और चेतावनी के बावजूद कार्य पर आने से इनकार करने पर 10 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया था इन कर्मचारियों की अभी स्वाइनिंग नहीं हो सकी है।

ये भी पढ़ें: नाबालिग मूक बधिर लड़की से भाई ने किया बलात्कार, परिजनों ने ही कराया गर्भपात

Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned