scriptTheft is happening daily in houses in Bilaspur | चोरों का बढ़ा आतंक...रोजाना टूट रहे घरों के ताले, अब तक इतने मामले आए सामने, पुलिस भी हुई नाकाम | Patrika News

चोरों का बढ़ा आतंक...रोजाना टूट रहे घरों के ताले, अब तक इतने मामले आए सामने, पुलिस भी हुई नाकाम

locationबिलासपुरPublished: Feb 12, 2024 02:00:45 pm

Submitted by:

Khyati Parihar

Terror of thieves in Bilaspur: जिले में चोरों के हौसले इतने बुलंद हो चुके हैं कि शहर हो या गांव किसी का मकान सुरक्षित नहीं हैं। चोर रेकी करने के बाद चोरी की वारदात को धड़ल्ले से अंजाम दे रहे हैं। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि रात्रि गश्त के साथ ही पुलिस होटल व लॉज की जांच कर संदेहियों की धरपकड़ कर अपराधियों को पकड़ने का प्रयास कर रही है।

terror_of_thieves_in_chhattisgarh.jpg
Terror of thieves in Chhattisgarh: बिलासपुर जिले में चोरों के हौसले इतने बुलंद हो चुके हैं कि शहर हो या गांव किसी का मकान सुरक्षित नहीं हैं। चोर रेकी करने के बाद चोरी की वारदात को धड़ल्ले से अंजाम दे रहे हैं। पुलिस अधिकारियों का दावा है कि रात्रि गश्त के साथ ही पुलिस होटल व लॉज की जांच कर संदेहियों की धरपकड़ कर अपराधियों को पकड़ने का प्रयास कर रही है। हकीकत कुछ और ही है। न तो मुसाफिरी दर्ज हो रही है और न ही बीट पर पुलिसकर्मी गश्त कर रहे हैं।
जिले में चोरों के हौसले इतने बुलंद हो चुके हैं कि वे चोरी की वारदात को अंजाम देने से जरा भी नहीं चूक रहे हैं। आलम यह है कि सूने मकान के धोखे में घर में दाखिल हुए चोरों को अगर कोई दिखाई दे जाए तो उस पर भी हमला करने से गुरेज नहीं कर रहे हैं।
जिले में लगातार चोरी की वारदात सामने आ रही है। पूर्व में हुई चोरी की वारदात अब तक सुझलाने में नाकाम पुलिस व स्पेशल टीम एसीसीयू वर्तमान में होने वाली चोरी की जगह पर मौका मुआयना कर लौट रही है। पुलिस स्थानीय संदेहियों से पूछताछ के बाद मामले को ठंडे बस्ते में डाल देते हैं। बाहरी चोर गिरोह पर पुलिस का कोई नियंत्रण नहीं रह गया है। फरवरी माह में ही चोरी की बात की जाए तो चोरों ने आधा दर्जन से अधिक बड़ी चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। बावजूद इसके पुलिस चोरों को पकड़ने में नकाम साबित हो रही है।
यह भी पढ़ें

CG Corona Virus News: छत्‍तीसगढ़ में बढे कोरोना के मामले, अब तक मिले 20 पॉजिटिव केस...मचा हड़कंप

एक दिन चली सरप्राइज चेकिंग...

जिले में बढ़ती चोरी को देखते हुए बिलासपुर पुलिस ने हाल ही में सघन चेकिंग अभियान चलाकर लॉज व ढाबों के साथ ही डेरा लेकर चलने वालों की तालाशी लेती रही। इस चेकिंग अभियान में संदिग्ध तो नहीं मिले लेकिन वारंट तामील कर पुलिस ने अपनी ड्यूटी पूरी कर ली। पुलिस की चेकिंग के बाद भी चोरी की वारदात थमने का नाम नहीं ले रही है।
अनसुलझे मामले, पुलिस रही नाकाम

केस- 1. देवरीखुर्द कृष्णा नगर निवासी पूजा श्रीवास्तव चिकित्सा विभाग में नौकरी करती हैं। पति शैलेन्द्र श्रीवास्तव 4 फरवरी को ट्रेनिंग में पेंड्रा गए थे। रात में महिला जब अपने कमरे में सोने के लिए पहुंची तो चोर पहले ही कमरे में मौजूद थे। महिला के मुंह में तकिया दबा कर व आलमारी को दूसरों ने तोड़ कर गहने निकाल लिए। जाने के दौरान महिला के गले से सोने की चेन भी खींच कर ले गए। पुलिस मामले में आरोपियों का सुराग लगाने में नाकाम रही।
केस- 2. रेलवे कंस्ट्रक्शन कॉलोनी निवासी आर रूपा पति आर राजू की मां रेलवे में प्यून हैं। 5 फरवरी को पूरा परिवार तिरुपति बालाजी धाम दर्शन करने गई थीं। चोरों ने सूने मकान का फायदा उठाते हुए 25 हजार नगद व 3 लाख से अधिक के गहने की चोरी कर ली। पुलिस मामले में जांच का हवाला दे रही है।
केस- 3. एनटीपीसी सीपत उप महाप्रबंधक (सीआई) राहुल देव चौधरी परिवार सहित 22 जनवरी को पुरी ओडिशा गए थे। 25 जनवरी को पड़ोसियों से पता चला मकान का ताला टूटा हुआ है। चोरों ने 22 हजार नगद व सोने के गहने लगभग 1 लाख का माल पार दिया। एनडीपीसी कॉलोनी में बकायदा सुरक्षा इंतजाम है। बावजूद इसके चोरों ने सुरक्षा में सेंध लगाते हुए लाखों का माल ले गए।
रोजाना रात्रि गश्त , फिर भी हो रही चोरी...

चोरी व अन्य आपराधिक वारदात की रोकथाम के लिए पुलिस विभाग लगातार रात्रि गश्त में कसावट लाने का हवाला दे रही है। लगातार हो रही चोरी की वारदात ने पुलिस की रात्रि गश्त में ही सवालिया निशान लगा दिया है, क्योंकि पुलिस चौकसी के बाद भी चोरों की करतूत थमने का नाम नहीं ले रही है।
चोरी के मामले में पुलिस लगातार बेहतर काम कर रही है। गत वर्ष भी पुलिस ने चोरी के मामलों को सुलझाते हुए करोड़ों का माल बरामद किया है। चोरी के मामलों को देखते हुए पुलिस लॉज, ढाबा व डेरा वालों की सरप्राइज चेकिंग कर रही है। चोरी की वारदात को अंजाम देने वालों की धरपकड़ के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। संदीप पटेल, सीएसपी

ट्रेंडिंग वीडियो