scriptArandi Oil Benefits | जोड़ों के दर्द में आराम पहुंचाकर संक्रमण से बचाता है अरण्डी का तेल | Patrika News

जोड़ों के दर्द में आराम पहुंचाकर संक्रमण से बचाता है अरण्डी का तेल

Arandi Oil Benefits: एरण्ड को अरण्ड, अरण्डी, संस्कृत में गन्धर्वहस्तमक कहते हैं। इसके पत्ते पांच चौड़ी फांक के होते हैं। यह लाल व सफेद दो रंगों का होता है। आयुर्वेद के अनुसार यह जड़ी-बूटी शरीर के लिए अंदरुनी और बाहरी दोनों तरह से उपयोगी है...

जयपुर

Published: October 15, 2019 05:36:39 pm

Arandi Oil Benefits in Hindi: एरण्ड को अरण्ड, अरण्डी, संस्कृत में गन्धर्वहस्तमक कहते हैं। इसके पत्ते पांच चौड़ी फांक के होते हैं। यह लाल व सफेद दो रंगों का होता है। आयुर्वेद के अनुसार यह जड़ी-बूटी शरीर के लिए अंदरुनी और बाहरी दोनों तरह से उपयोगी है।
जोड़ों के दर्द में आराम पहुंचाकर संक्रमण से बचाता है अरण्डी का तेल
जोड़ों के दर्द में आराम पहुंचाकर संक्रमण से बचाता है अरण्डी का तेल
पोषक तत्त्व ( Arandi Oil Nutrition )
एरण्ड के बीजों के अलावा पत्ते, जड़ और तेल सभी कई रोगों के इलाज में लाभदायक होते हैं। इनमें एंटीइंफ्लेमेट्री, एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल तत्त्व होते हैं। यह कई प्राकृतिक तत्त्वों से भी युक्त है जिस कारण यह त्वचा और बालों की सेहत बनाए रखता है।
फायदे ( Arandi Oil Benefits )
जोड़ों और मांसपेशियों में होने वाले दर्द, सूजन को दूर करने में इसे खासतौर पर प्रयोग में लेते हैं। इसके अलावा छोटे बच्चों के शरीर की मालिश के लिए इसका इस्तेमाल होता है। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है। शुष्क त्वचा में नमी लाने के साथ यह निखार भी लाता है। इसके इस्तेमाल से किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचा जा सकता है।अरंडी के तेल ( Castor Oil ) में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंट-एजिंग व एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। यह त्वचा को मॉश्चराइज करता है और उसमें निखार लेकर आता है। इससे मसाज करने से शरीर के अंदर रक्त प्रवाह अच्छा हो जाता है और चेहरा जवां व खिला-खिला नजर आता है।
इस्तेमाल ( How To Use Arandi Oil )
ज्यादातर इसके तेल को प्रयोग में लिया जाता है। इसके लिए इसे अकेले या फिर अन्य जड़ी-बूटी या औषधि के साथ प्रयोग करते हैं। साथ ही त्वचा पर बाहरी रूप से इसके पत्ते को पीसकर लेप की तरह लगा सकते हैं। इसके बीजों को भी चिकित्सक की सलाह से लिया जा सकता है।
ध्यान रखें : सीमित मात्रा से अधिक प्रयोग पेट की मसल्स को कमजोर करता है। कुछ को इससे एलर्जी हो सकती है, पहले स्किन टैस्ट करा लें। कोई दवा ले रहे हैं तो इसके प्रयोग से पूर्व चिकित्सकीय सलाह लें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान में 26 से फिर होगी झमाझम बारिश, यहां बरसेगी मेहरबुध ने रोहिणी नक्षत्र में किया प्रवेश, 4 राशि वालों के लिए धन और उन्नति मिलने के बने योगबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीबेहद शार्प माइंड के होते हैं इन राशियों के बच्चे, सीखने की होती है अद्भुत क्षमतानोएडा में पूर्व IPS के घर इनकम टैक्स की छापेमारी, बेसमेंट में मिले 600 लॉकर से इतनी रकम बरामदझगड़ते हुए नहर पर पहुंचा परिवार, पहले पिता और उसके बाद बेटा नहर में कूदा3 हजार करोड़ रुपए से जबलपुर बनेगा महानगर, ये हो रही तैयारी

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिंदे खेमे में आ चुके हैं सरकार बनाने भर के विधायक! फिर क्यों बीजेपी नहीं खोल रही अपने पत्ते?Maharashtra Political Crisis: ‘मातोश्री’ में मंथन! सड़क पर शिवसैनिकों के उपद्रव का डर, हाई अलर्ट पर मुंबई समेत राज्य के सभी पुलिस थानेMaharashtra Political Crisis: 24 घंटे के अंदर ही अपने बयान से पलट गए एकनाथ शिंदे, बोले- हमारे संपर्क में नहीं है कोई नेशनल पार्टीBharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा2-3 जुलाई को हैदराबाद में BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पास वालों को ही मिलेगी इंट्री, सुरक्षा के कड़े इंतजामMumbai News Live Updates: शिवसेना ने कल पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़ेंगे उद्धव ठाकरेनीति आयोग के नए CEO होंगे परमेश्वरन अय्यर, 30 जून को अमिताभ कांत का खत्म हो रहा है कार्यकालCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.