scriptKangna Ranaut now targeted Mahatma Gandhi | महात्मा गांधी के अहिंसा के मंत्र का कंगना रनौत ने उड़ाया मज़ाक? कहा दूसरा गाल आगे करने से आज़ादी नहीं ‘भीख’ मिलती है! | Patrika News

महात्मा गांधी के अहिंसा के मंत्र का कंगना रनौत ने उड़ाया मज़ाक? कहा दूसरा गाल आगे करने से आज़ादी नहीं ‘भीख’ मिलती है!

अभिनेत्री कंगना रनौत ने मंगलवार को एक नए विवाद को जन्म देते हुए दावा किया कि सुभाष चंद्र बोस और भगत सिंह को महात्मा गांधी से कोई समर्थन नहीं मिला। उन्होंने महात्मा गांधी के अहिंसा के मंत्र का मज़ाक उड़ाते हुए कहा कि दूसरा गाल आगे करने से ‘भीख’ मिलती है न कि आज़ादी।

नई दिल्ली

Updated: November 18, 2021 03:07:23 pm

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर एक ताजा वीडियो शेयर करके ताजा विवाज खड़ा कर दिया है। कंगना रनौत ने अपने 'भीख में आजादी' वाले बयान पर कायम रही और इसके साथ ही उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ भारत के स्वतंत्रता संग्राम पर अपनी कई तरह की और बातें की। कंगना ने महात्मा गांधी और सुभाष चंद्र बोस को लेकर एक नया बयान दिया है जिसे लेकर भी राजनीति हो रही है। उन्होंने 1940 के दशक के एक पुराने अखबार के लेख के एक शीर्षक के साथ साझा किया, जिसमें लिखा था, गांधी जी समेत अन्य नेताओं ने भी आजादी की लड़ाई की कमान को नेता जी सुभाष चंद्र बोस को सौंपने का समर्थन किया था।
kangana-ranaut
महात्मा गांधी के अहिंसा के मंत्र का कंगना रनौत ने उड़ाया मज़ाक?

अभिनेत्री कंगना रनौत ने मंगलवार को एक नए विवाद को जन्म देते हुए दावा किया कि सुभाष चंद्र बोस और भगत सिंह को महात्मा गांधी से कोई समर्थन नहीं मिला। उन्होंने महात्मा गांधी के अहिंसा के मंत्र का मज़ाक उड़ाते हुए कहा कि दूसरा गाल आगे करने से ‘भीख’ मिलती है न कि आज़ादी। रनौत ने पिछले हफ्ते कहा था कि 1947 में भारत को आज़ादी नहीं, बल्कि ‘भीख’ मिली थी, असली स्वतंत्रता 2014 में मिली जब नरेंद्र मोदी की सरकार सत्ता में आई। रनौत ने ‘इंस्ट्राग्राम’ पर एक के बाद एक कई पोस्ट कर महात्मा गांधी को निशाना बनाया और कहा कि ‘अपने नायकों को समझदारी से चुनो।”
अखबार साक्षी है कि गांधी समेत अन्य नेताओं ने लड़ाई की कमान नेता जी को सौंपने का समर्थन किया था

अभिनेत्री ने एक अखबार की पुरानी कतरन साझा की है जिसकी सुर्खी है, “गांधी, अन्य नेताजी को सौंपने के लिए सहमत हुए थे।” खबर में दावा किया गया है कि गांधी, जवाहरलाल नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना की एक ब्रिटिश न्यायाधीश के साथ सहमति बनी थी कि यदि बोस देश में प्रवेश करते हैं तो वे उन्हें सौंप देंगे। रनौत ने अखबार की कतरन के साथ लिखा है, “ या तो आप गांधी के प्रशंसक हैं या नेताजी के समर्थक हैं। आप दोनों एक साथ नहीं हो सकते हैं… चुनो और फैसला करो।” एक अन्य पोस्ट में रनौत ने दावा किया है, “जिन लोगों ने आजादी के लिए लड़ाई लड़ी उन्हें ऐसे लोगों ने अपने आकाओं को सौंप दिया जिनके पास अपने उत्पीड़कों से लड़ने का साहस नहीं था या जिनका खून नहीं खौलता था बल्कि वे चालाक और सत्ता लोलुप थे।”
यह भी पढ़ें

कई सेलेब्रटीज के लग्जरी घर से भी कीमती है इस स्टार के माथे पर लगा हीरा, कीमत जान उड़ जाएंगे होश

optimized-screenshot_5.jpg
कंगना रनौत का महात्मा गांधी पर निशाना, बोली- वो चाहते थे कि भगत सिंह को फांसी हो
इसके बाद उन्होंने गांधी पर निशाना साधते हुए यहां तक दावा किया कि इस बात के सबूत हैं कि वह चाहते थे कि भगत सिंह को फांसी दी जाए। 34 वर्षीय अभिनेत्री ने कहा, “ ये वही लोग हैं जिन्होंने हमें सिखाया, अगर कोई आपको थप्पड़ मारे तो एक और थप्पड़ के लिए दूसरा गाल आगे कर दो और इस तरह आपको आजादी मिलेगी। इस तरह से किसी को आज़ादी नहीं मिलती, ऐसे भीख मिल सकती है। अपने नायकों को बुद्धिमानी से चुनें।” अभिनेत्री ने कहा कि यह लोगों को अपने इतिहास और अपने नायकों बारे में जानने समय का है। उन्होंने कहा, “उन सभी को केवल अपनी स्मृति के एक खांचे में रखना और हर साल उन सभी को जन्मदिन की बधाई देना पर्याप्त नहीं है, यह न केवल मूर्खता है, बल्कि अत्यधिक गैर-जिम्मेदार और सतही है।” रनौत को हाल में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद्मश्री से नवाज़ा था जिसके दो दिन बाद उन्होंने आज़ादी को लेकर बयान दे दिया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Numerology: कम उम्र में ही अच्छी सफलता हासिल कर लेते हैं इन 3 तारीखों में जन्मे लोगहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीweather update: राजस्थान के इन जिलों में हुई बारिश, जानें आगे कैसा रहेगा मौसमतत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal Loan

बड़ी खबरें

UP Assembly Elections 2022 : पलायन और अपराध खत्म अब कानून का राज,चुनाव बदलेगा देश का भाग्य - गृहमंत्री शाहराजपथ पर पहली बार 75 एयरक्राफ्ट और 17 जगुआर का शौर्य प्रदर्शन, देखें फुल ड्रेस रिहर्सल का वीडियोहेट स्पीच को लेकर हिन्दू संगठन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, कहा-मुस्लिम नेताओं की भी हो गिरफ्तारीCovid-19 Update: देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 3.37 लाख नए मामले, ओमिक्रॉन केस 10 हजार पारनेताजी की जयंती अब पराक्रम दिवस के रूप में मनाई जाएगी, PM मोदी समेत इन नेताओं ने दी श्रद्धांजलिछत्तीसगढ़ में माओवादियों की मांद में सेंध लगाएगा BSF का एरावत, पहली बार 10 एमपीवीं पहुंची CG, जंगलों में होगा तैनातपोस्ट ऑफिस ग्राहकों के लिए नया नियम, बिना पासबुक रुक जाएंगे आपके यह काम, जानें पूरी डिटेलघने कोहरे की वजह से तेजस एक्सप्रेस हुई लेट, रेलवे देगा 544 यात्रियों को भारी मुआवजा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.