scriptPriyanka Chopra Fashion film Director Madhur Bhandarkar struggle story | कभी साइकिल से कैसेट्स बेचते थे मधुर भंडाकर, जिस FTII में नहीं मिला था एडमिशन, उसी में बनकर पहुंच गए जज | Patrika News

कभी साइकिल से कैसेट्स बेचते थे मधुर भंडाकर, जिस FTII में नहीं मिला था एडमिशन, उसी में बनकर पहुंच गए जज

मधुर ने बताया था कि मेरा सपना था कि मैं FTII जाऊं और वहां से कोर्स करूं, कोशिश भी की। लेकिन मैं ग्रेजुएट नहीं था। टेक्निकल स्किल्स की वजह से मैं पीछे रह गया था। कंप्यूटर चलाना भी नहीं आता था मुझे, आज भी नहीं आता।

Updated: November 18, 2021 12:29:06 pm

नई दिल्ली: ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘फैशन’ के डायरेक्टर मधुर भंडारकर (Fashion film Director Madhur Bhandarkar) को आज किसी पहचान की जरूरत नहीं है। आज उनकी गिनती बॉलीवुड के सर्वश्रेष्ठ डायरेक्टर्स (Best Director of Bollywood) में होती है। लेकिन कभी मधुर भंडारकर को अपने करियर के शुरुआती सालों में काफी स्ट्रगल करना पड़ा था। उन्होंने जीने के लिए तमाम छोटे-बड़े काम किये, पर कभी अपने लक्ष्य को नहीं भूले। आज वो जिस मुकाम पर हैं उसका कारण सिर्फ उनकी मेहनत और लगन है।
Priyanka Chopra Fashion film Director Madhur Bhandarkar struggle story
Director Madhur Bhandarkar
इंटरव्यू में बताई थी अपनी स्ट्रगल स्टोरी
एक इंटरव्यू में खुद मधुर ने इस बारे में बताया था कि मैं मिडिल क्लास फैमिली से था। परिवार आर्थिक रूप से काफी कमजोर था। जिसके चलते वो छठीं के बाद पढ़ाई नहीं कर पाए। मधुर बताया था कि मैरी पढ़ाई ज्यादा हुई, मैं ग्रेजुएट नहीं था। ऐसे में परिस्थिती ऐसी आई कि मुझे खुद वीडियो कैसेट्स का बिजनेस करना पड़ा। उस दौरान में साइकिल से कैसेट्स घरों में देने जाता था, लेकिन ऐसा वक्त भी आया जब ये काम भी ठप पड़ गया।
मेरा सपना था कि मैं FTII जाऊं
मधुर ने बताया था कि मेरा सपना था कि मैं FTII जाऊं और वहां से कोर्स करूं, कोशिश भी की। लेकिन मैं ग्रेजुएट नहीं था। टेक्निकल स्किल्स की वजह से मैं पीछे रह गया था। कंप्यूटर चलाना भी नहीं आता था मुझे, आज भी नहीं आता।
उन्होंने आगे बताया था कि ऐसे में मुझे लगा कि मैं डायरेक्टर बनना चाहता हूं। जिसके बाद मैंने कई छोटे मोटे फिल्म डायरेक्टर्स को जॉइन किया और उन्हें असिस्ट किया। तो वहां मुझे 30 रुपए मिल जाते थे। कन्वेंस में काम मिलता था। हमको बुलाया जाता था कि आ जाओ, तो हम वहां पर एक्टर के पीछे सेंडल पकड़ कर खड़े हो जाते थे, कभी पोछा मार दिया तो कभी लाइट पकड़कर खड़े हो गए। थर्माकोल लेकर खड़े हो गए, एक्टर को जाकर बुलाओ रूम से… ये चीजें करीं।
मधुर ने बताया था कि- ग्रेजुएट नहीं होने के कारण में मुझे FTII में एडमिशन नहीं मिला था। लेकिन मैं एक दिन जज बनकर पैनल में पहुंच गया। मेरे ख्याल से हमेशा पैशन, काबिलियत, काम अपने आप में होता है। अगर आपको लगता है कि आप वो कर पाओगे, आपमें वो जज्बा है, जुनून है तो वो हो सकता है। मुझे इस बात की खुशी होती है कि मैंने खुद को इतने अच्छी तरह से खड़ा किया। कभी कभी सही टाइम और सही मेहनत रंग ले आती है।
मधुर ने बताया था कि जब मैं अपने आप को पीछे मुड़कर देखता हूं, मुझे बहुत बुरा लगता था और अभी भी लगता है। लेकिन मैं यूथ से कहता हूं कि ये मत सोचो कि मधुर भंडारकर ने पढ़ाई नहीं की, फिर भी वो द मधुर भंडारकर बन गया। मैं चाहूंगा कि आप पढ़ें और आगे बढ़ें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

एनसीसी रैली में बोले पीएम मोदी- महिलाओं को सेना में मिल रही बड़ी जिम्मेदारियांSC-ST को आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, राज्य तय करें प्रमोशन का पैमानाNeoCov: ओमिक्रॉन के बाद सामने आया कोरोना का नया वैरिएंट 'नियोकोव' और भी खतरनाकDCGI ने भारत बायोटेक को इंट्रानैसल बूस्टर डोज के ट्रायल की दी मंजूरी, 9 जगहों पर होंगे परीक्षणAkhilesh Yadav और शिवपाल यादव को हराने के लिए मायावती के प्लान B का खुलासाघर से निकलने से पहले देख ले अपनी ट्रेन का स्टेटस, कई ट्रेन रद्द, कई के रूट बदलेपुलिस से बचने के लिए नदी में कूदा अधेड़, खोजने के लिए गोताखोर और एसडीआरएफ की टीम जुटीसुभासपा ने जारी की तीन उम्मीदवारों की लिस्ट, राजभर का दावा- हमारे निशान पर सपा प्रत्याशी लड़ेगा चुनाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.