इन 7 चीजों की Credit Card से न करें पेमेंट, ऐसा करने पर हो सकता है बड़ा नुकसान

 

अधिकांश मामलों में उपभोक्ता कैश नहीं होने पर भी क्रेडिट कार्ड से पसंदीदा चीजों की खरीददारी कर लेते हैं। इस बात का ख्याल नहीं रखते कि उन्हें किन चीजों का भुगतान क्रेडिट कार्ड से करना चाहिए और किसका नहीं। ऐसे लोगों को बाद में बड़ा नुकसान उठाना पडता है।

By: Dhirendra

Updated: 07 Jul 2021, 07:00 PM IST

नई दिल्ली। क्रेडिट कार्ड का सबसे बड़ा लाभ यह है कि अकाउंट से तत्काल पैसा डेबिट नहीं होता, बल्कि उसे चुकाने के लिए ग्रेस पीरियड मिलता है। लेकिन इसका इस्तेमाल करते समय कुछ बातों का ध्यान न रखने पर कार्ड होल्डर्स को बहुत बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है। ऐसा इसलिए कि अधिकांश उपभोक्ता क्रेडिट कार्ड को एक सामान्य भुगतान उपकरण मानकर चलते हैं, जो गलत है। साथ ही कुछ चीजें ऐसी हैं जिनके लिए आपको क्रेडिट कार्ड से पेमेंट नहीं करनी चाहिए। इसके बावजूद कुछ लोग ये गलतियां करते हैं और बाद में पछताते हैं।

Read More: पहले एक्टर जिन्होंने एक फिल्म के लिए 1 लाख चार्ज किए, अपने पीछे 627 करोड़ की संपत्ति छोड़ गए दिलीप कुमार

इन मदों के लिए न करें क्रेडिट कार्ड से पेमेंट

देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई की और से हाल ही में अपने ग्राहकों को मेल भेजा गया है। इस मेल में आरबीआई के निर्देश बताए गए हैं। आरबीआई ने क्रेडिट कार्ड के जरिए कुछ चीजों की पेमेंट पर रोक लगाई रखी है। इनमें फॉरेक्स ट्रेडिंग, लॉटरी टिकट, कॉल बैक सर्विसेज, बैटिंग, स्वीपस्टेक्स यानि घोड़ों की दौड़, गेम्बलिंग की लेन-देन और उन मैगजीनों की खरीदारी शामिल है जो सरकार द्वारा प्रतिबंधित हैं। एसबीआई अपने ग्राहकों को बताया है कि कुछ विदेशी फॉरेक्स ट्रेडिंग मर्चेंट और कैसीनो आदि या वेबसाइटें अपने प्रोडक्ट्स और सर्विसेज का प्रचार करती हैं। साथ ही वे इनके लिए क्रेडिट कार्ड के जरिए पेमेंट करवाना चाहती हैं। मगर आपको ऐसा करने से बचना चाहिए।

पेमेंट करने पर फेमा के तहत भी हो सकती है कार्रवाई

दरअसल, विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, 1999 (फेमा) के अलावा कई ऐसे नियम लागू हैं जिनके मद्देनजर आप ऊपर बताई गई जगहों पर क्रेडिट कार्ड के जरिए पेमेंट नहीं कर सकते। यदि आपने ऐसा किया तो आपसे कार्ड लिया जा सकता है और कार्ड रखने पर रोक लगाई जा सकती है। साथ ही आपके खिलाफ फेमा के तहत सख्त कार्रवाई भी हो सकती है।

Read More: अंतरिक्ष की सैर होगी सबके लिए सुलभ, Amazon के बाद जेफ बेजोस का अगला कदम

क्रेडिट कार्ड बनवाने से पहले टर्म्स एंड कंडीशन का रखें ध्यान

अगर आपकी कोई क्रेडिट कार्ड हिस्ट्री नहीं है तो आवेदन करने से पहले इन बातों की जानकारी हासिल कर लें। शुरू में बैंक या क्रेडिट कार्ड जारी करने वाली कंपनी आपको खर्च करने के लिए कम लिमिट देगी। मगर जैसे-जैसे आप क्रेडिट कार्ड लिमिट का इस्तेमाल करेंगे आपकी लिमिट बढ़ाई जा सकती है। अलग-अलग क्रेडिट कार्ड पर विभिन्न टर्म्स एंड कंडीशन हो सकते हैं। इसलिए टर्म्स एंड कंडीशन का ध्यान रखें। कार्ड से संबंधित वार्षिक शुल्क, फाइनेंस शुल्क, ट्रांसफर शुल्क, कैश एडवांस शुल्क, विदेशी लेनदेन शुल्क, ओवर-लिमिट शुल्क आदि की जानकारी भी हासिल कर लें।

तय समय पर करें पेमेंट

यदि आप अपने क्रेडिट कार्ड लोन का फुल सेटलमेंट करते हैं तो आपको ब्याज नहीं देना होता, मगर यदि आप तय समय सीमा के भीतर पेमेंट नहीं करते हैं तो आपको बैलेंस राशि पर ब्याज देना होगा। आमतौर पर ये दर 30-40% हो सकती है। यदि आप डेडलाइन से पहले फुल बैलेंस का निपटान नहीं करते तो और ग्रेस पीरियड चूक जाता है, तो आपको बकाया राशि पर ब्याज देना होगा।

Read More: 01 अगस्त से ICICI बैंक से पैसा निकालना हो जाएगा महंगा, लिमिट से ज्यादा पैसा निकालने पर देना पड़ेगा सरचार्ज

rbi
Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned