scriptUPI records 9.36 billion transactions worth 10.2 trillion in Q1 22 | UPI पेमेंट बना लोगों की पहली पसंद, 2022 की पहली तिमाही में हुआ 10.2 ट्रिलियन रुपये का लेनदेन | Patrika News

UPI पेमेंट बना लोगों की पहली पसंद, 2022 की पहली तिमाही में हुआ 10.2 ट्रिलियन रुपये का लेनदेन

UPI Payment: एक ताजा रिपोर्ट में सामने आया है कि देशभर में UPI पेमेंट मोड लोगों को काफी भा रहा है। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष की पहली तिमाही में ट्रांजैक्शन में 90 फीसदी से अधिक की वृद्धि हुई है।

Updated: June 27, 2022 05:07:12 pm

देश में यूपीआई के जरिए ट्रांजैक्शन की संख्या में रिकॉर्ड इजाफा देखने को मिल रहा है। एक नई रिपोर्ट के अनुसार इस वर्ष की पहली तिमाही (जनवरी-मार्च) में UPI ट्रांजैक्शन 10 ट्रिलियन रुपये को पार कर गया है। इस आँकड़े से स्पष्ट है कि यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) पेमेंट लोगों की पहली पसंद बन गया है। वर्ल्डलाइन की एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में 2022 में यूपीआई के जरिए 10.2 ट्रिलियन रुपये के 9.36 बिलियन का ट्रांजैक्शन हुआ है। बता दें कि Worldline एक फ्रांसीसी बहुराष्ट्रीय कंपनी है जिसे पेमेंट इंडस्ट्री में ग्लोबल लीडर भी कहा जाता है।
UPI records nearly 9.36 billion transactions worth 10.2 trillion in Q1 2022
UPI records nearly 9.36 billion transactions worth 10.2 trillion in Q1 2022 (PC: Money Control)
Person to Merchant ट्रांजैक्शन पहली पसंद
वर्ल्डलाइन की एक रिपोर्ट के अनुसार, UPI P2M ((Person to Merchant) ट्रांजैक्शन कंज़्यूमर्स का सबसे पसंदीदा पेमेंट मोड बन गया है, जिसकी मार्केट में हिस्सेदारी 64 प्रतिशत है और वैल्यू के टर्म्स में 50 फीसदी है। वर्ष 2022 की पहली तिमाही में UPI के जरिए 14.55 बिलियन से अधिक लेनदेन हुआ है और वैल्यू के टर्म्स में ये आंकड़ा 26.19 ट्रिलियन रुपये का है।

2021 की तुलना में 99 फीसदी अधिक रहा ट्रांजैक्शन
पिछले साल की तुलना में ये आँकड़े लगभग दोगुने हैं। ये वर्ष 2021 की पहली तिमाही की तुलना में 99 फीसदी अधिक है। केवल मई महीने की बात करें तो UPI के जरिए कुल 5.95 अरब ट्रांजैक्शन किए गए थे जिसमें कुल राशि 10.41 लाख करोड़ रुपये रही, जबकि मई 2021 में UPI ट्रांजैक्शन की संख्या 2.54 अरब रही थी।
कौन से UPI एप से अधिक हुए ट्रांजैक्शन?
पहली तिमाही में जिस UPI एप पर सबसे अधिक ट्रांजैक्शन हुआ उसमें PhonePe, Google Pay, Paytm Payments Bank App, Amazon Pay, एक्सिस बैंक ऐप शामिल रहे। इनसे करीब 94.8 फीसदी का ट्रांजैक्शन किया गया है।

टॉप PSP यूपीआई प्लेयर की बात करें तो इसमें यस बैंक, एक्सिस बैंक,SBI , HDFC Bank और Paytm पेमेंट बैंक शामिल है। रिपोर्ट के अनुसार, यूपीआई P2P (पीयर-टू-पीयर) ट्रांजैक्शन के लिए औसत टिकट साइज़ (ATS) 2,455 रुपये और P2M ट्रांजैक्शन (मार्च तक) के लिए ATS 860 रुपये था।

यह भी पढ़ें

Startup World में भारत के पांच शहरों ने मचाई धूम, दिल्ली-मुंबई से आगे निकला ये शहर

ट्रांजैक्शन में घटा डेबिट कार्ड का इस्तेमाल
वहीं, क्रेडिट कार्ड के जरिए ट्रांजैक्शन में शेयर 7 फीसदी का होता है, लेकिन इसकी 26 फीसदी वैल्यू दर्शाती है कि ग्राहक अभी भी हाई वैल्यू के ट्रांजैक्शन के लिए अपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग करना पसंद करते हैं।

डेबिट कार्ड का ट्रांजैक्शन में शेयर 10 फीसदी का होता है, लेकिन इसकी वैल्यू 18 फीसदी होती है। यूपीआई का क्रेज बढ़ने की वजह से इसमें कमी आई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Nashik News: कंबल में लेटाकर प्रेग्‍नेंट महिला को पहुंचाया गया हॉस्पिटल, दिल दहला देने वाला वीडियो हुआ वायरलबीजेपी अध्यक्ष ने LG को लिखा लेटर, कहा - 'खराब STP से जहरीला हो रहा यमुना का पानी, हो रहा सप्लाई'सलमान रुश्दी पर हमला करने वाले की ईरान ने की तारीफ, कहा - 'हमला करने वाले को एक हजार बार सलाम'58% संक्रामक रोग जलवायु परिवर्तन से हुए बदतर: प्रोफेसर मोरा ने बताया, जलवायु परिवर्तन से है उनके घुटने के दर्द का संबंध14 अगस्त स्मृति दिवस: वो तारीख जब छलनी हुआ भारत मां का सीना, देश के हुए थे दो टुकड़ेआरएसएस नेता इंद्रेश कुमार का बड़ा बयान, बापू की छोटी सी भूल ने भारत के टुकड़े करा दिएHimachal Pradesh: जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने पर होगी 10 साल की जेल, लगेगा भारी जुर्मानाDGCA ने एयरपोर्ट पर पक्षियों के हमले को रोकने के लिए जारी किया दिशा-निर्देश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.