बिजली विभाग की छापेमारी से मचा हड़कंप, ठोका पंद्रह लाख का जुर्माना

बिजली विभाग की छापेमारी से मचा हड़कंप, ठोका पंद्रह लाख का जुर्माना

Sunil Yadav | Publish: Sep, 06 2018 10:57:26 AM (IST) Chandauli, Uttar Pradesh, India

आरोपी जमीन के अंदर से बिजली का केबल ले जाकर चलाता था कारखाना

चंदौली. प्रबन्ध निदेशक कार्यालय की रेड टीम और विद्युत वितरण खण्ड द्वितीय मुगलसराय को संयुक्त छापे में बुधवार को एक बड़ी सफलता मिली। पड़ाव क्षेत्र के बहादुरपुर में योजनाबद्ध तरीके से दोनों टीमों ने पूर्व निर्धारित समय पर छापेमारी की जिसमें हसीमुद्दीन द्वारा कुल 75 किलोवाट की वाणिज्यिक चोरी करते पाया गया। जिससे शमन शुल्क के रुप में 15 लाख रूपये वसूले गये। टीम ने एक अन्य शब्बीर अहमद के यहाँ भी 4 किलोवाट की चोरी पकड़ी की जिसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर विधिक कार्यवाही की जा रही है।


प्लास्टिक के उत्पाद बनाने वाली फैक्ट्री में विजली विभाग का छापेमारी के तहत चेकिंग के दौरान भूमिगत अवैध केबिल पकड़ा गया । मामले में विजली विभाग की ने बड़ी कार्यवाही की है । आरोपियों से बिजली विभाग ने सम्मन शुल्क के रूप में 15 लाख वसूले गए। छापेमारी में 15 किलोवाट की जगह, भूमिगत केबिल के माध्यम से 70 किलोवाट विजली चोरी का मामला पकड़ा गया है । विभाग ने आरोपी के खिलाफ संबंधित धाराओं में कोतवाली मुग़लसराय में मुकदमा दर्ज कराया है। आरोपी कोतवाली मुगलसराय के बहादुरपुर का निवासी है।


बताया जाता है की बुधवार की दोपहर में बहादुरपुर गांव में एक प्लास्टिक के कारखाने में विजली विभाग के अधिकारियों ने छापामारी करके बड़े पैमाने पर हो रही चोरी को पकड़ा और दो लोगों के खिलाफ बिजली चोरी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराया। अधिकारीयों ने बताया कि ट्रांसफार्मर के पास से जमीन के अंदर से बिजली का केबल ले जाकर कारखाने में चोरी की बिजली से कार्य होता था। इसकी सूचना पर आज छापेमारी की कार्रवाई किया गया। विजली विभाग के इस कार्यवाही से क्षेत्र में हड़कंप मच गया।

इस अभियान कपिल देव सिंह विजली विभाग के एडिशनल पूर्वांचल, अखिलेश सिंह सीओ, संजय सिंह इंस्पेक्टर,दिपक श्रीवास्तव, फारुक एस डीओ, विकास गुप्ता जेई, मार्कंडेय सिंह यादव, आरपी यादव आदि अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे।


By- संतोष जायसवाल

Ad Block is Banned