तमिलनाडु में ग्रामीण स्थानीय निकाय चुनावों के कुछ रोचक तथ्य, आप भी जानें

तमिलनाडु के नौ पुनर्गठित जिलों में 6 अक्टबर और 9 अक्टूबर को राज्य के नौ जिलों में हुए ग्रामीण स्थानीय निकाय चुनाव के दौरान हुए कुछ अजीबो गरीब किस्से

By: PURUSHOTTAM REDDY

Published: 13 Oct 2021, 07:17 PM IST

तमिलनाडु.

तमिलनाडु के नौ पुनर्गठित जिलों में 6 अक्टबर और 9 अक्टूबर को राज्य के नौ जिलों में हुए ग्रामीण स्थानीय निकाय चुनावों के नतीजे घोषित किए जा रहे है, लेकिन यहां कुछ दिलचस्प चर्चाएं हैं जिन्होंने मतगणना केंद्रों पर सबकी नजऱें गड़ा दीं:

1. कोयम्बत्तूर के उत्तरी तालुक में भाजपा युवा विंग के उपाध्यक्ष कार्तिक ने कोयम्बत्तूर के पेरियानायकन पालयम संघ में एक वार्ड सदस्य के पद के लिए एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा, लेकिन चुनाव में केवल एक वोट हासिल किया है। अब यह किस्सा देशभर में वायरल हो रहा है।

2. विल्लुपुरम जिले के वेल्लईयमपट्टू पंचायत में मतगणना के दौरान अधिकारियों ने पाया कि एक व्यक्ति ने मतपत्र पर पांच में से चार चिन्हों की मुहर लगा दी है। इस घटना को अधिकारियों को हंसी में उड़ा दिया, बाद में वोट को अवैध घोषित कर दिया गया।

3. एक मतदाता एक हारे हुए को विजेता बना सकता है- कडलमणि ने लालगुडी के पास सिरुमरुदुर पंचायत नेता पद के लिए एक वोट के अंतर से उपचुनाव जीता। सिरुमरुदुर के पंचायत नेता रमेश कुमार के निधन के कारण उपचुनाव हुआ था। इस पंचायत में कुल 1,150 वोटों के साथ चुनाव लडऩे वाले तीन में से मृतक पंचायत नेता रमेश कुमार की पत्नी को 423 वोट मिले, कडलमणि को 424 वोट मिले, सत्यनाथन को 137 वोट मिले और कुल 989 वोटों के साथ 5 वोट अवैध माने गए।

4. स्थानीय निकाय चुनावों में 169 उम्मीदवारों में से अभिनेता विजय के प्रशंसक संघ के 50 से अधिक सदस्यों ने जीत हासिल की। इससे पहले थलपति विजय मक्कल अयक्कम के सदस्यों ने पुष्टि की है कि अभिनेता विजय ने खुद अपने प्रशंसकों को एलबी चुनावों के लिए नामांकन दाखिल करने की अनुमति दी थी।

5. एक 90 वर्षीय महिला पेरुमथल ने साबित कर दिया है कि उम्र सिर्फ एक संख्या है। उन्हें तिरुनेलवेली जिले के पालयनकोट्टई पंचायत संघ के तहत शिवंथिपट्टी पंचायत के अध्यक्ष के रूप में चुना गया है। इस बीच उनके खिलाफ चुनाव लडऩे वाले दो अन्य उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई।

6. एक अजीबो-गरीब घटना में जब अधिकारी तिरुनेलवेली जिले के पलायमकोट्टई पंचायत संघ में मतों की गिनती कर रहे थे, एक मतपत्र पर अधिकारी यह देखकर चौंक गए कि एक मतदाता ने लिखा है, किसी भी उम्मीदवार ने मुझे मेरे लिए 500 रुपए नहीं दिए। वोट दें, इस प्रकार मैं किसी का समर्थन नहीं करता।

7. स्थानीय निकाय चुनावों में भाई-बहन जीते: कन्नूरंगम, जो तिरुप्पत्तूर जिले के जोलारपेट के पास कावेरीपट्टू क्षेत्र से हैं, उनकी बेटियों माला शेखर (50) और उमा कन्नूरंगम (48) ने कावेरीपट्टू पंचायत अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ा था और 651 मतों से जीत हासिल की थी। और 1,972 मतों के साथ, क्रमश: संघ पार्षद पद के लिए जीत हासिल की।

PURUSHOTTAM REDDY
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned