Higher education: एसपी से मिली कॉलेज की छात्राएं, कहा इस दुकान से रहते हैं भयभीत

पुलिस अधीक्षक मनोज राय से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा।

छिंदवाड़ा. राजमाता सिंधिया गल्र्स कॉलेज की छात्राओं ने छात्रासंघ अध्यक्ष रेशमा खान के नेतृत्व में शनिवार को कॉलेज पहुंचे पुलिस अधीक्षक मनोज राय से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। छात्राओं का कहना था कि हमारे कॉलेज में लगभग सात हजार छात्राएं हैं। कॉलेज के गेट नंबर दो से अधिकतर छात्राओं का आवागमन होता है। कॉलेज के गेट के पास आए दिन असामाजिक तत्वों का जमावड़ा रहता है। आवागमन के रास्ते में शराब की दुकान संचालित होने से छात्राओं में हमेशा भय की स्थिति रहती है। छात्राओं ने एसपी से मांग की है कि समस्या को ध्यान में रखते हुए कॉलेज में एक पुलिस चौकी खोला जाए। जिससे भविष्य में किसी भी प्रकार की कोई अप्रिय घटना न हो।

उच्च शिक्षा विभाग दे चुका है निर्देश
शासन के योजना के अनुसार लगभग छह माह पहले ही उच्च शिक्षा विभाग द्वारा सभी गल्र्स छात्रावास में पुलिस चौकी खोलने के संबंध में निर्देश दिए गए थे। गौरतलब है कि राजमाता सिंधिया गल्र्स कॉलेज में महिला छात्रावास भी संचालित होता है। ऐसे में कॉलेज में पुलिस चौकी खुलने से छात्राओं को काफी सहूलियत हो जाएगी।

एटीएम खोलने की भी मांग
कॉलेज के आसपास एटीएम सुविधा न होने से छात्राओं को आए दिन परेशानी का सामना करना पड़ता है। छात्राओं ने प्राचार्य से कॉलेज में एटीएम खोलने की भी मांग की।

अब प्रयास हो तो हट सकती है शराब दुकान
बीते वर्ष उच्च शिक्षा विभाग द्वारा कॉलेज के पास शराब दुकान हटाने को लेकर निर्देश जारी किए गए थे। जिसके बाद राजमाता सिंधिया गल्र्स कॉलेज द्वारा भी आबकारी विभाग को परिसर से सटे शराब दुकान हटाने के लिए आवेदन दिया गया। हालांकि उस समय आबकारी विभाग ने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि कॉलेज के मुख्य गेट से शराब दुकान नियम के अनुसार बाहर है। तब कॉलेज के गेट नंबर दो से छात्राओं का आवागमन नहीं होता था, लेकिन अब अगर कॉलेज द्वारा प्रयास किया जाए तो शराब दुकान हटाई जा सकती है।

ये हैं शराब दुकान खोलने का प्रावधान
शराब दुकान अस्पताल, कॉलेज, शिक्षा संस्थानों, धार्मिक स्थानों, सिनेमा हॉल एवं नाट्यगृह से 200 मीटर की परिधि में नहीं खोली जा सकती है। इसी तरह राष्ट्रीय राजमार्ग से 150 मीटर की दूरी में शराब दुकान संचालित नहीं की जा सकती है।

आवेदन बनाकर भेजेंगे
गल्र्स कॉलेज में पुलिस चौकी खोलने के लिए आवेदन पुलिस अधीक्षक को भेजा जाएगा। एटीएम खोलने के लिए प्रक्रिया भी शुरु कर दी गई है।
डॉ. कामना वर्मा, प्राचार्य, गल्र्स कॉलेज

ashish mishra Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned