'समस्याएं होती हैं ईश्वर का उपहारÓ

'समस्याएं होती हैं ईश्वर का उपहारÓ

Prem Dehariya | Publish: Sep, 03 2018 04:37:26 PM (IST) Chhindwara, Madhya Pradesh, India

शासकीय कॉलेज चांद में स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ द्वारा एक माह तक चले व्यक्तित्व विकास प्रशिक्षण के समापन पर समारोह का आयोजन किया गया।

छिंदवाड़ा/चांद. शासकीय कॉलेज चांद में स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ द्वारा एक माह तक चले व्यक्तित्व विकास प्रशिक्षण के समापन पर समारोह का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि राज्यस्तरीय प्रशिक्षिका मनीषा सिंह मौजूद रही। उन्होंने समारोह में उपस्थित प्रशिक्षणार्थियों एवं विद्यार्थियों में प्रेरक शब्दों से ऊर्जा का संचार किया। कहा कि समस्याएं ईश्वर का उपहार होती हैं जो चुनौतियां पैदाकर मनुष्य की भीतरी शक्तियों का उदय करती हैं। प्रबल इच्छाशक्ति, अप्रतिम आत्मविश्वास, शुद्ध अंत:करण की आवाज व आस्था से उत्पन्न अटल ऊर्जा पर्वतों को हिला देती हैं। निर्लिप्त भाव से जिन्दगी अपने बल पर जियो, विपरीत हालातों में संघर्ष जारी रखो और अहसासों की खुशबू से जीवनज्योति हमेशा जलाए रखो। इस अवसर पर नगर परिषद अध्यक्ष भारती वैष्णव ने कहा कि जीवन जीने व सिर्फ जिंदा रहने में काफी अंतर है। हौसले का लोहा हर मुश्किल पर भारी होता है। ब्लॉक शिक्षा अधिकारी प्रदीप जैन ने कहा कि व्यक्ति के कर्म उसके दिमागी प्रोग्रामिंग पर निर्भर रहते हैं। सफलता बौद्धिक विकास से जुड़ा विशिष्ट कर्म है। जनभागीदारी अध्यक्ष बनवारी माहोरे ने कहा कि अनुकरणीय धैर्य सफल व असफल व्यक्ति के बीच फर्क पैदा करता है। घमंड हमसे वह करवाता है जिसका सफलता से कोई वास्ता नहीं होता है। युवा नेता आदित्य ठाकुर ने कहा कि हम जीवन में जिन विकल्पों को चुनते हैं, वहीं बन जाते हैं। विभागाध्यक्ष अंग्रेजी डॉ. अमर सिंह ने कहा कि जहां हमारा ध्यान जाता है, वहीं ऊर्जा जाती है और उसी चीज में वृद्धि होती है। हमें अपने व्यक्तित्व की महान संभावनाओं के विकास पर विश्वास साधनों से नहीं बल्कि साधना से बढ़ाना चाहिए। विंभागाध्यक्ष डॉ. विजय कलमधार ने कहा कि प्रतिकूल परिस्थितियों में अप्रभावित रहने की अजेय शक्ति ही सही व्यक्तित्व विकास है। इस अवसर पर चांद थाना पुलिस अधिकारी, प्रो. रजनी कवरेती सहित अन्य ने भी अपने विचार प्रस्तुत किए। आभार प्रदर्शन जय पटवा ने किया।
इधर अमरवाड़ा. तहसील स्तरीय अशासकीय शाला संघ ने एक बैठक आयोजित की गई जिसमें प्रदेशव्यापी बंद के आह्वान को दृष्टिगत रखते हुए तहसील स्तरीय अशासकीय शाला संघ अमरवाड़ा व हर्रई के स्कूल संचालकों ने बैठक लेकर सर्वसम्मति से विचार विमर्श किया गया कि शासन द्वारा नित्य नए नियम, शाला संचालन के लिए लागू किए जा रहे हैं जिसमें संचालकों का अभिभावकों को बच्चों के शिक्षण कार्य में अवरोध उत्पन्न हो रहा है। शासन से इस संबंध में बार-बार निवेदन करने पर भी समस्याओं का कोई हल नहीं निकाला जा रहा है। शिक्षक दिवस 5 सितंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल कर बंद का आह्वान करने का निर्णय लिया गया है। प्रस्तावित अधिनियम के विरोध में शाला बंद का आह्वान किया गया है। बैठक में युगल किशोर जायसवाल अध्यक्ष, गौरीशंकर नामदेव सचिव, नरेश सोनी, कनकराज विनोद सनोडिया मिलन, अशोक बेलवंशी, संदीप शर्मा , पुरुषोत्तम, संतोष , शंभू दयाल एवं समस्त स्कूल संचालक आदि उपस्थित रहे।

 

 

Ad Block is Banned