तालिबान के कब्जे के बाद भी T20 वर्ल्डकप में खेलेगी अफगानिस्तान की टीम, बोर्ड ने दिया बड़ा अपडेट

तालिबान ने काबुल पर कब्जा कर अफगानिस्तान की सत्ता पर नियंत्रण कर लिया। अब इस बीच बड़ा सवाल यह है कि अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम का क्या होगा। इस वर्ष क्रिकेट के कई बड़े इवेंट होने वाले हैं।

By: Mahendra Yadav

Updated: 17 Aug 2021, 10:59 AM IST

अफगानिस्तान पर अब तालिबान का कब्जा हो गया है। फिलहाल वहां के हालात खराब है और लोग देश छोड़कर जा रहे हैं। अब वहां पर तालिबान की हुकूमत है। रविवार को तालिबान ने काबुल पर कब्जा कर अफगानिस्तान की सत्ता पर नियंत्रण कर लिया। अब इस बीच बड़ा सवाल यह है कि अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम का क्या होगा। इस वर्ष क्रिकेट के कई बड़े इवेंट होने वाले हैं। ऐसे में सवाल यह है कि क्या तालिबान के कब्जे के बाद अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम इन टूर्नामेंंट्स में हिस्सा ले पाएगी या नहीं। इस साल टी20 वर्ल्ड कप भी होने वाला है। अफगानिस्तान बोर्ड ने इस पर अपना रख स्पष्ट कर दिया है। बोर्ड ने इस बात को कंफर्म कर दिया है कि उनकी टीम टी20 विश्व कप में भाग लेगी।

काबुल में ट्रेनिंग करेगी अफगानिस्तान की टीम
अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मीडिया मैनेजर हिकमत हसन ने इस बारे में बात करते हुए बताया कि टीम के टी20 विश्व कप में शामिल होने को लेकर किसी तरह की कोई शंका नहीं है। अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम टी20 वर्ल्ड कप खेलेगी और इसके लिए तैयारी चल रही है। साथ ही उन्होंने बताया कि अगले कुछ दिनों में टीम के खिलाड़ी काबुल में ट्रेनिंग के लिए लौटेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि वे ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के साथ भी सीरीज के लिए स्थान को तलाश कर रहे हैं। टी20 वर्ल्ड कप से पहले अफगानिस्तान की टीम के कुछ खिलाड़ियों को आईपीएल 2021 के दूसरे चरण में भी हिस्सा लेंगे।

यह भी पढ़ें— इंग्लैंड में खेल रहे राशिद खान चिंतित, अफगानिस्तान में फंसा है परिवार, नहीं निकाल पा रहे बाहर

afghanistan_2.png

खिलाड़ी और उनके परिवार सुरक्षित
वहीं अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ हामिद शिनवारी ने एक न्यूज एजेंसी से बात करते हुए बताया कि अफगान राष्ट्रीय टीम के सदस्य और उनके परिवार सुरक्षित हैं। अफगानिस्तान के तीन दिग्गज क्रिकेटर राशिद खान, मोहम्मद नबी और मुजीब उर रहमान फिलहाल इंग्लैंड में चल रही एक टूर्नामेंट में खेल रहे हैं। ऐसे मे वे लोग अपने परिवारों से दूर हैं। शिनवारी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इन तीन खिलाडियों को छोड़कर बाकी अफगान टीम काबुल में है और सुरक्षित है।

यह भी पढ़ें— IPL 2021: अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा, जानिए क्या IPL में खेल पाएंगे राशिद खान और मोहम्मद नबी?

तालिबान को क्रिकेट से प्यार
इसके साथ ही शिनवारी ने कहा कि तालिबान को भी क्रिकेट से प्यार है और उन्होंने शुरू से ही समर्थन किया है। शिनवारी का कहना है कि तालिबान ने उनकी गतिविधियों में हस्तक्षेप नहीं किया और कोई हस्तक्षेप दिख भी नहीं रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि तालिबान से क्रिकेट के मामले में समर्थन की उम्मीद है। उनका कहना है कि यह भी एक तथ्य है कि हमारे कई खिलाड़ियों ने पेशावर में अभ्यास किया और उन्होंने अफगानिस्तान में खेल को मुख्यधारा में ला दिया।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned