Gautam Gambhir बोले, Ben Stokes जैसा कोई नहीं, कोई भी कप्तान उन्हें अपनी टीम में चाहेगा

Ben Stokes वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरुआती दो टेस्ट में 313 रन बनाने के साथ-साथ नौ विकेट भी ले चुके हैं। Gautam Gambhir ने कहा कि इस समय उन जैसा कोई क्रिकेटर विश्व में नहीं है।

By: Mazkoor

Published: 26 Jul 2020, 10:01 PM IST

नई दिल्ली : टीम इंडिया (Team India) के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) इंग्लैंड के हरफनमौला बेन स्टोक्स (Ben Stokes) के मुरीदों में शामिल हो गए हैं। इंग्लैंड को आईसीसी एकदिवसीय विश्व कप 2019 (ICC ODI World Cup 2019) का खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाने के बाद से स्टोक्स लगातार मैच विजयी प्रदर्शन कर रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज (England vs Australia Ashes Test Series) बराबरी पर खत्म कराने में अहम भूमिका निभाया। एक बार फिर अब वेस्टइंडीज के खिलाफ (England vs West Indies) दूसरे टेस्ट मैच में 176 और नाबाद 78 रन की मैच विजयी पारी खेलकर सीरीज में पीछे चल रहे इंग्लैंड को बराबरी दिलाई। वह टेस्ट सीरीज के शुरुआती दो मैचों में 313 रन बनाने के साथ नौ विकेट भी ले चुके हैं। उनके इन प्रदर्शनों के मद्देनजर गौतम गंभीर ने कहा कि न सिर्फ भारत में, बल्कि विश्व में उन जैसा कोई क्रिकेटर नहीं है।

Steve Bucknor पर शांत नहीं हुआ Irfan Pathan का गुस्सा, बोले- दो नहीं सात-सात गलतियां हुई

स्टोक्स के करीब भी कोई नहीं

टीम इंडिया की ओर से 58 टेस्ट खेल चुके 38 साल के गौतम गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम 'क्रिकेट कनेक्टेड' में कहा कि बेन स्टोक्स जिस तरह से टेस्ट, वनडे और और टी-20 क्रिकेट में लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं, उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि उन जैसा कोई क्रिकेटर न सिर्फ भारत में, बल्कि विश्व में नहीं है। उनके आसपास भी कोई नहीं है।

कोई भी टीम में रखना चाहेगा

गंभीर ने कहा कि स्टोक्स चुनिंदा ऐसे खिलाड़ियों में शामिल हैं, जिन्हें कोई भी कप्तान अपनी टीम में रखना चाहेगा। गंभीर के अनुसार, स्टोक्स मैच में प्रभाव छोड़ने वाले ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनकी जरूरत हर टीम को होती है। किसी भी कप्तान का सपना होगा कि उनकी टीम में स्टोक्स जैसा खिलाड़ी हो। गंभीर ने कहा कि स्टोक्स की बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण सबकुछ शानदार है।

Kemar Roach ने हासिल की बड़ी उपब्लधि, 26 साल से विंडीज का कोई गेंदबाज नहीं कर पाया ऐसा

प्रदर्शन से स्टोक्स कप्तान ही हैं

नियमित कप्तान जो रूट (Joe Root) की गैरमौजूदगी में बेन स्टोक्स ने वेस्टइंडीज के खिलाफ विजडन ट्रॉफी (Wisden Trophy) के पहले टेस्ट में इंग्लैंड की कमान संभाली थी, लेकिन उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा था। जब गंभीर से स्टोक्स के नेतृत्व गुणों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह अपनी क्षमता के लिहाज से कप्तान ही है। गंभीर ने कहा कि कप्तान होने के लिए कप्तान कहलाने की जरूरत नहीं होती है, बल्कि अपने प्रदर्शन से कोई नेतृत्वकर्ता बन सकता है। इस लिहाज से उन्हें लगता है कि दुनिया के बहुत सारे खिलाड़ी वास्तव में बेन स्टोक्स से प्रेरणा ले रहे होंगे, लेकिन दुर्भाग्य से इस समय विश्व क्रिकेट में उन जैसा कोई नहीं है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned