इंग्लैंड के खिलाफ समय से पहले टेस्ट मैच के खत्म होने से कंफ्यूज हो गई थीं मिताली राज

मिताली ने कहा कि वह खेल को जारी रखना चाहते थे और इस बारे में इंग्लैंड की टीम की कप्तान को बता भी चुके थे और उन्होंने खेल जारी रखने के लिए हां भी कर दी थी।

By: Mahendra Yadav

Updated: 28 Jun 2021, 07:51 AM IST

भारतीय महिला क्रिकेट टीम फिलहाल इंग्लैंड के खिलाफ वनडे खेल रही है। रविवार को खेले गए पहले वनडे मुकाबले में इंग्लैंड ने भारत को 8 विकेट से हरा दिया। वहीं पिछले हफ्ते टीम इंडिया ने इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट भी खेला था, जिसका नतीजा ड्रॉ रहा था। भारतीय टेस्ट और वनडे कप्तान मिताली राज ने आश्चर्य व्यक्त किया है कि पिछले हफ्ते इंग्लैंड के खिलाफ उनका एकमात्र टेस्ट जल्दी कैसे समाप्त हुआ। मिताली का कहना है कि उनकी टीम मैच जारी रखना चाहती थी और 12 ओवर बचे हुए थे। वहीं इंग्लैंड की कप्तान हेदर नाइट ने इसका जवाब देते हुए कहा है कि खराब रोशनी के कारण अंपायर ने तय समय से पहले मैच को खत्म करने का निर्णय लिया था

विपक्षी टीम को खेल जारी रखने को कहा था
जिस समय इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच को खत्म करने का फैसला लिया गया था, उस वक्त टीम इंडिया की स्नेह राणा और तानिया भाटिया क्रमशः 80 और 44 के नाबाद स्कोर पर बल्लेबाजी कर रही थीं। इंग्लैंड के खिलाफ वनडे मैच से पहले मिताली ने कहा कि वह खेल को जारी रखना चाहते थे और इस बारे में इंग्लैंड की टीम की कप्तान को बता भी चुके थे और उन्होंने खेल जारी रखने के लिए हां भी कर दी थी।

यह भी पढ़ें— वनडे क्रिकेट में 22 साल पूरे करने वाली पहली भारतीय महिला क्रिकेटर बनीं मिताली राज

india_vs_england.png

कन्फ्यूज हो गईं मिताली
इसके बाद स्नेह राणा ने मिताली को बताया कि बेल्स निकाली जा रही हैं और विपक्षी टीम के खिलाड़ी मैदान से बाहर जा रहे हैं। यह देखकर मिताली भी कन्फ्यूज हो गईं। मिताली ने इसका कारण पूछा तो बताया गया कि खराब लाइट के कारण अंपायर ने मैच रोकने का फैसला लिया है। मिताली का कहना है कि टीमें एक दूसरे को बधाई दे रही हैं इसलिए अंपायरों ने कहा कि चूंकि दोनों टीमें बधाई दे रही हैं तो मैच को खत्म किया जा रहा है। मिताली का कहना है कि स्नेह राणा ने उन्हें यही बताया था।

यह भी पढ़ें— हारते हुए मैच को ड्रॉ कराने के लिए पूर्व क्रिकेटरों ने दी भारतीय महिला टीम को बधाई

खेल जारी रखने को तैयार थी इंग्लैंड टीम
इंग्लैंड टीम की कप्तान नाइट ने इसका जवाब देते हुए बताया कि जब इंग्लैंड आगे के खेल को जारी रखने के लिए तैयार थी, तब मिताली बात करने के लिए आस-पास नहीं थी। साथ ही उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट हो गया था कि मैच ड्रॉ पर समाप्त होने वाला है, इसलिए उन्होंने अपने खिलाड़ियों को भारतीय टीम से हाथ मिलाने के लिए कहा। नाइट का कहना है कि मिताली आस—पास नहीं थी जिससे कि उनसे मैच जारी रखने के बारे में बात की जाए। इसके बाद अंपायर (क्रिस वाट्स और सू रेडफर्न) ने खराब रोशनी के कारण मैच को खत्म करने का निर्णय लिया और फिर भारतीय खिलाड़ियों ने आकर इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने हाथ मिलाया।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned