Sri lankan Cricketer ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास, सारे टेस्ट शतक लगाए भारत के खिलाफ

2009 में श्रीलंकाई टीम के बस पर जब पाकिस्तान दौरे पर आतंकी हमला हुआ था, तब उस टीम के साथ Tharanga Paranavitana भी गए थे। वह उस हमले में घायल भी हो गए थे।

By: Mazkoor

Updated: 26 Aug 2020, 01:05 AM IST

कोलंबो : श्रीलंकाई क्रिकेटर थरंगा परानाविताना (Tharanga Paranavitana) ने मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया। उन्होंने एक साथ तीनों फॉर्मेट को छोड़ने का ऐलान किया और इस बाबत औपचारिक घोषणा भी कर दी है। परानाविताना ने पाकिस्तान के खिलाफ (Sri Lanka vs Pakistan) कराची टेस्ट में अपना डेब्यू मैच खेला था। गौरतलब है कि उन्होंने अपने करियर के दोनों टेस्ट शतक भारत के खिलाफ (Sri Lanka vs India) जड़े। 2010 में गॉल और फिर कोलंबो टेस्ट में उन्होंने 111 और 100 रनों की पारी खेली थी।

Michael Holding का बड़ा बयान, उम्र के साथ बदलते गए लीक से हटकर चलने वाले Mahendra Singh Dhoni

करियर पर एक नजर

परानाविताना के करियर पर नजर डालें तो श्रीलंका की ओर से वह 32 टेस्ट मैच खेले हैं और इस दौरान उन्होंने 32.58 की औसत से 1792 रन बनाने के दौरान उन्होंने 2 शतक और 11 अर्धशतक लगाए हैं। परानाविताना ने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2012 में खेला था और इसके बाद वे कभी भी टीम में वापसी नहीं कर सके। उन्होंने कुल 222 फर्स्ट क्लास मैच खेले और इस दौरान 40 सेंचुरी और 45.82 की औसत से उन्होंने कुल 14940 रन बनाए। गॉल में पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए अपने करियर के तीसरे टेस्ट में परानाविताना ने 72 और 49 रनों की पारी खेली थी।

Pathan बोले, टूट सकता है Tendulkar के 100 शतकों का रिकॉर्ड, इस भारतीय बल्लेबाज पर लगाया दांव

लाहौर के आतंकी हमले के दौरान हुए थे घायल

2009 में परानाविताना श्रीलंकाई टीम के साथ पाकिस्तान दौरे पर गए थे। 2009 टेस्ट सीरीज के दौरान लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में श्रीलंकाई बस पर आतंकी हमला हुआ था। इसमें कई क्रिकेटर घायल हुए थे। घायल हुए श्रीलंकाई क्रिकेटरों में थरंगा परानाविताना भी शामिल थे। मार्च में हुए इस हमले में घायल होने के बाद परानाविताना ने जुलाई 2009 में ही मैदान पर वापसी कर ली थी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned