सिडनी टेस्ट : भारत को जीत के लिए 309 रन की जरुरत, पुजारा और रहाणे से उम्मीदें

  • चौथे दिन का खेल खत्म होने तक भारत ने 2 दो विकेट के नुकसान पर बनाए 98 रन
  • रोहित अर्धशतक लगाकर आउट, राहणे और पुजारा क्रीज पर डटे, 407 का मिला था टारगेट

By: Saurabh Sharma

Updated: 10 Jan 2021, 01:18 PM IST

सिडनी। भारत ने यहां सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन का अंत अपनी दूसरी पारी में दो विकेट के नुकसान पर 98 रनों के साथ किया है। वह आस्ट्रेलिया द्वारा रखे गए 407 रनों को हासिल करने से अभी 309 रन दूर है। दिन का खेल खत्म होने तक चेतेश्वर पुजारा 9 और कप्तान अजिंक्य रहाणे 4 रन बनाकर खेल रहे हैं।

भारत ने खोए दो विकेट
भारत ने शुभमन गिल और रोहित शर्मा के विकेट खोए हैं। गिल ने 64 गेंदों पर 31 रन बनाए। रोहित ने 98 गेंदों का सामना करते पांच चौके और एक छक्के की मदद से 52 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए जोश हेजलवुड और पैट कमिंस ने एक-एक विकेट लिए। ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में 338 रन बनाए थे। भारत अपनी पहली पारी में 244 रन ही बना सकी थी। दूसरी पारी में आस्ट्रेलिया 94 रनों की बढ़त के साथ उतरी थी। मेजबान टीम ने दूसरी पारी छह विकेट के नुकसान पर 312 रनों पर घोषित कर भारत को मजबूत लक्ष्य दिया।

यह भी पढ़ेंः- सिडनी टेस्ट: ऑस्ट्रेलिया ने भारत को दिया 406 रन का विशाल लक्ष्य, बल्लेबाजों पर दारोमदार

स्मिथ-लाबुशैन की साझेदारी
दिन के पहले सत्र में भारत ने मार्नस लाबुशैन (73) और मैथ्यू वेड (4) के विकेट निकाले। दोनों विकेट अपना पहला टेस्ट खेल रहे नवदीप सैनी ने लिए। दूसरे सत्र में पहली पारी में शानदार शतक लगाने वाले दिग्गज स्टिव स्मिथ और ग्रीन आउट हुए। स्मिथ ने 81 रन बनाए। मेजबान टीम ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने के तक अपनी दूसरी पारी में दो विकेट पर 103 रन बनाए थे। लाबुशैन 47 और स्मिथ 29 रनों पर नाबाद लौटे थे। मेजबानों को पहली पारी के आधार पर 94 रनों की बढ़त मिली थी, इस लिहाज से तीसरे दिन स्टम्प्स तक उनकी कुल बढ़त 197 रनों की हो गई थी।

दोनों लगाए अर्धशतक
चौथे दिन स्मिथ और लाबुशैन ने सम्भलकर खेलना शुरू किया। पहली पारी में भी 91 रन बनाने वाले लाबुशैन ने अपना 10वां अर्धशतक पूरा किया। इसके लिए उन्होंने 82 गेंदों का सामना किया और छह चौके लगाए। वह जितनी तेजी से रन बना रहे थे स्मिथ उतना ही सम्भलकर खेल रहे थे। मार्नस हालांकि 73 के निजी योग पर 138 के कुल योग पर डेब्यूटेंट नवदीप सैनी की गेंद पर विकेट के पीछे लपक लिए गए। अपनी 118 गेंदों की पारी में मार्नस ने नौ चौके लगाए।

यह भी पढ़ेंः- लगातार दूसरे दिन नस्लीय टिप्पणी का शिकार हुए मोहम्मद सिराज, हिरासत में पांच दर्शक

वेड फिर फ्लाॅप
इसके बाद स्मिथ का साथ देने आए विकेटकीपर मैथ्य वेड लेकिन सैनी ने उन्हें भी पैर नहीं जमाने दिया और चार के निजी योग पर साहा के हाथों कैच कराकर 148 के कुल योग पर मेजबान टीम को चौथा झटका दिया। स्मिथ का साथ देने आए ऑलराउंडर कैमरन ग्रीन ने सम्भलकर खेलते हुए अपना विकेट बचाए रखा और आस्ट्रेलियाई टीम ने चार विकेट पर 182 रन बनाकर कुल 276 रनों की लीड के साथ लंच ब्रेक लिया। लंच के समय स्मिथ 55 और ग्रीन 20 रनों पर नाबाद थे।

यह भी पढ़ेंः- सिडनी टेस्ट: स्टीव स्मिथ ने लगाई रिकॉर्ड की झड़ी, सचिन, विराट, कैलिस, इंजामाम जैसे दिग्गजों को छोड़ा पीछे

कैमरून ग्रीन की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी
लंच के बाद स्मिथ ने संभलकर खेलते हुए 75 का निजी योग, ग्रीन के साथ 50 रनों की साझेदारी को पार किया लेकिन 208 के कुल योग पर रविचंद्रन अश्विन द्वारा पगबाधा आउट कर दिए गए। स्मिथ ने 167 गेंदों का सामना कर 8 चौके और एक सिक्सर लगाया। स्मिथ के जाने के बाद दूसरे सत्र की समाप्ति तक ग्रीन और पेन ने कोई और नुकसान नहीं होने दिया लेकिन जसप्रीत बुमराह द्वारा फेंके गए पारी के 87वें ओवर की अंतिम गेंद पर ग्रीन आउट हो गए। अपने करियर का पहला अर्धशतक लगाने वाले ग्रीन ने 132 गेंदों का सामना कर आठ चौके और चार छक्के लगाए।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned