scriptNow the work of Dausa-Gangapur rail project is in the last phase. | अब आखिरी दौर में दौसा-गंगापुर रेल परियोजना का कार्य | Patrika News

अब आखिरी दौर में दौसा-गंगापुर रेल परियोजना का कार्य

locationदौसाPublished: Dec 24, 2023 01:12:41 pm

Submitted by:

Rajendra Jain

उप महाप्रबंधक ने किया निरीक्षण: विशेष यान से पहुंचे रेल सुरंग पर, कार्य समय पर पूरा करने के दिए निर्देश

अब आखिरी दौर में दौसा-गंगापुर रेल परियोजना का कार्य
रेलवे स्टेशन पर स्टेशन मास्टर के कक्ष में ट्रेन की आवाजाही पर नजर रखने लिए लगाई दो बड़ी एर्लईडी व अन्य उपकरण।
लालसोट. दौसा- गंगापुर रेल परियोजना का कार्य अब आखिरी दौर में पहुंच गया है और रेलवे अब इस परियोजना पर शेष कार्र्य को आगामी कुछ ही दिनों मेें पूरा करते हुए दौसा से गंगापुर सिटी तक रेल चलाने की तैयारियों में जोर शोर से जुट गया है।
उत्तर पश्चमी रेलवे के उप महाप्रबंधक गौतम अरोड़ा ने शनिवार को इस परियोजना पर चल रहे कार्य का निरीक्षण किया। अरोड़ा सुबह करीब दस बजे विशेष निरीक्षण यान से दौसा से रवाना हुए। इस दौरान नांगल राजवतान व सलेमपुरा स्टेशनों पर भी रुककर निरीक्षण किया।
इसके अलावा पूरे रूट का उन्होंने ङ्क्षवडो निरीक्षण भी किया। दोपहर करीब 12 बजे अरोड़ा विशेष निरीक्षण यान से डिडवाना स्थित रेल सुरंग पर पहुंचे। विशेष निरीक्षण यान को देखनेे के लिए सुरंग के आस पास ग्रामीणों की जुट गई। उप महाप्र्रबंधक ने अपने निरीक्षण यान से उतर कर पैदल ही सुरंग मेें अधिकारियों के साथ पहुंचे और सुंरग में बिछाए जा रहे ब्लास्ट लेस्ट व अन्य कार्यों का निरीक्षण करते हुए इंदावा स्थित सुरंग के दूसरे छोर पर पहुुंचे। इसके बाद वे अधिकारियों के साथ बामनवास रेलवे स्टेशन का निरीक्षण करने के लिए रवाना हो गए।
इस दौरान एडीआरम मनीष गोयल, चीफ इंंजीनियर गगन गोयल, उप मुख्य अभियंता विक्रम मीना, सीई दामोदार मीना एवं र्एईएन रामावतार मीना समेत कई अधिकारी भी मौजूद रहे। मात्र 800 मीटर में ट्रेक बिछना शेष सूत्रों के अनुसार रेलवे का लक्ष्य है कि हर हालत में दौसा गंगापुर रेल परियोजना का कार्य जनवरी माह में काम पूरा हो जाए, फिलहाल इस परियोजना पर बन रही प्रदेश की सबसे बड़ी रेल सुरंग में 2192 मीटर में सेे मात्र 800 मीटर में ही ट्रेक बिछना शेष है, सुरंग में इन दिनों ब्लास्ट लेस्ट ट्रेक बिछाने का कार्य जोर शोर से जारी है, इसके अलावा सुरंग में टेली कम्यूनिकेशन का भी काम किया जा रहा है।
सुरंग में ट्रेक बिछाने समेत सभी कार्य 15 जनवरी तक पूरा कर लिए जाएगा। परियोजना पर सिग्नल व टेली कम्यूनिकेशन का काम भी हुआ पूरा हो गया है। लालसोट समेत सभी स्टेशनों पर इन दिनों स्टेशन मास्टर के कक्ष मेें ट्रेन को कंट्रोल करने के लिए विभिन्न उपकरण लगाए जा रहे हैं।
लालसोट रेलवे स्टेशन पर मौजूद स्टेशन मास्टर के कक्ष मेें ट्रैन की आवाजाही पर नजर रखने लिए दो बड़ी एर्लईडी भी लगाई जा चुकी है और तकनीकी विशेषज्ञों की टीम दिन रात जुुटी हुई है। सुरंग के अलावा सभी कार्य हो चुके पूरे गौतम ने पत्रिका को बताया कि परियोजना का कार्य शीघ्र ही पूरा होगा। इसमें मात्र टनल मेें ही काम बाकी है। टनल में भी 70 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है, शेष सभी कार्य जल्दी ही पूरा हो जाएगा। शीघ्र ही परियोजना की सीआरएस भी प्रस्तावित है। पूरे निरीक्षण के बाद ही इस बारे में निर्णय लिया जाएगा कि कब सीआएस होगी। रेलवे स्टेशन पर स्टेशन मास्टर के कक्ष में ट्रेन की आवाजाही पर नजर रखने लिए लगाई दो बड़ी एर्लईडी व अन्य उपकरण।

ट्रेंडिंग वीडियो