विधि-विधान के साथ भगवान जगन्नाथ की प्रतिमा गर्भगृह हुई स्थापित, आज धूमधाम से निकलेगी रथयात्रा

विधि-विधान के साथ भगवान जगन्नाथ की प्रतिमा गर्भगृह हुई स्थापित, आज धूमधाम से निकलेगी रथयात्रा

Deepak Sahu | Publish: Jul, 14 2018 10:54:55 AM (IST) | Updated: Jul, 14 2018 10:58:02 AM (IST) Dhamtari, Chhattisgarh, India

मंदिर के गर्भगृह में पूजा-अर्चना के बाद भगवान की प्रतिमा को स्थापित किया गया महाप्रभु जगन्नाथ की रथयात्रा आज बड़े धूमधाम के साथ निकलेगी

धमतरी. महाप्रभु जगन्नाथ की रथयात्रा आज बड़े धूमधाम के साथ निकलेगी। इसे लेकर लेकर श्रद्धालुओं में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है। शुक्रवार को मंदिर के गर्भगृह में पूजा-अर्चना के बाद भगवान की प्रतिमा को स्थापित किया गया।

शुक्रवार को सुबह 10 बजे मंदिर का पट खोला गया। इसके बाद 10.30 पंडित बालकृष्ण शर्मा वेद मंत्रों के उच्चारण के साथ महाप्रभु की पूजा कराया। यजमान के रूप में अजय अग्रवाल और उनकी धर्मपत्नी ने पूजा-अर्चना कर परिवार तथा शहरवासियों के सुख-समृद्धि की कामना की। करीब एक घंटे के पूजा-अर्चना के बाद विश्व शांति के लिए हवन कुंड में आहुतियां डाली गई, जिसके बाद महाप्रभु भगवान जगन्नाथ, माता सुभ्रदा, भाई बलभद्र और सुदर्शन चक्र को गर्भगृह में स्थापित किया गया।

 

cg news

मंदिर के मुख्य पुजारी ने बताया कि 14 जुलाई को अलसुबह 5 बजे भगवान की पूजा आरती के बाद मंदिर का पट श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दिया जाएगा। उधर धमतरी शहर के सबसे प्राचीन जगन्नाथ मंदिर में भगवान को एक नए रूप में देखने के लिए श्रद्धालुओं में उत्साह बना हुआ है। मंदिर समिति द्वारा दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए विशेष व्यवस्था की गई है। बताया गया है कि दोपहर 1.30 बजे भगवान जगन्नाथ को रथ में विराजित किया जाएगा। इस अवसर पर किशन अग्रवाल, भरत सोनी, अनिल मित्तल, किरण कुमार गांधी, लक्ष्मीचंद बाहेती समेत श्रद्धालु बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

फूलों से सजा मंदिर
शताब्दी वर्ष होने के चलते मंदिर को रंग-बिरंगे और आकर्षक फूलों से सजाया गया है। रथ का रंग-रोगन कर फाइल टच दिया जा रहा है। शनिवार की सुबह रथ को फूलों से सजाया जाएगा। ट्रस्टी लक्खू भाई भानुशाली ने बताया कि रथ में गोपाल प्रसाद शर्मा, विपिन भाई पटेल बैठकर व्यवस्था संहाम्लेंगे।

रहेगी चाक-चौबंध व्यवस्था
रथयात्रा पर्व को लेकर पुलिस प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। सूत्रों की मानें तो रथयात्रा पर्व में शहर के चौक-चौराहों और गली-मोहल्लो में करीब 30० पुलिस जवानों की ड्यूटी लगाई जाएगी। सिविल ड्रेस में भी पुलिस के जवान असामाजिक तत्वों पर नजर रखेंगी। इसके अलावा ड्रोन से लोगों पर नजर रखा जाएगा।

Ad Block is Banned