पर्यावरण की सुरक्षा के लिए पेड़-पौधों के रिश्तेदार बनकर देखभाल करना होगी

अनुभूति कैंप करजवानी में

वन्य क्षेत्र का भ्रमण करवाकर वनों से प्राप्त होने वाले लाभों की दी जानकारी

 

डही. अनुभूति कैंप हमें प्रकृति को निकट से देखने और समझने का अवसर प्रदान कर रहे हैं। हम सभी को पर्यावरण की सुरक्षा के लिए पेड़-पौधों के रिश्तेदार बनकर देखभाल करना होगी। तभी प्रकृति का संतुलन बना रहेगा। यह बात रेंजर संतोष पाराशर ने मप्र इको पर्यटन विकास बोर्ड के तहत वन विभाग परिक्षेत्र कुक्षी के माध्यम से गुरुवार को क्षेत्र के ग्राम करजवानी की शासकीय नर्सरी में आयोजित अनुभूति शिविर में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कही। शिविर में उपस्थित हाईस्कूल करजवानी के 102 विद्यार्थियों व शिक्षकों को वन क्षेत्र का भ्रमण कराया गया। मास्टर ट्रेनर जितेंद्र गौड़ ने बच्चों को वनों का महत्व, संरक्षण, संवर्धन व वनों से प्राप्त होने वाले लाभों व प्रकृति की जानकारी दी। वनस्पतियों व वन्य प्राणियों के बारे में भी बताया। बीईओ सतीशचंद्र पाटीदार, इरफान मंसूरी, प्रभारी प्राचार्य चटियासिंह मंडलोई ने भी संबोधित किया।

विद्यार्थियों ने किया वन्य क्षेत्र का भ्रमण

रेंज के वन्य परिक्षेत्र करजवानी में भ्रमण के लिए ले जाया गया। कैंप में विद्यार्थियों को वनस्पतियों व पेड़-पौधों की जानकारी दी गई। वन विभाग की टीम ने वन्य प्राणियों व वनस्पतियों के बारे में विद्यार्थियों के पूछे गए सवालों का जवाब दिया। इस दौरान डिप्टी रेंजर केशरसिंह बघेल, देवेंद्र राठौड़, भायसिंह चौंगड़, गुलाबसिंह सोलंकी, मदनलाल चौहान, रोपणी सहायक महेंद्र चौहान, वनरक्षक राजेंद्र नरगावा, राजेंद्र मंडलोई आदि उपस्थित थे। वन विभाग के अमले और विद्यार्थियों ने शपथ लेते हुए संकल्प व्यक्त किया कि ईश्वर को साक्षी मानते हुए निष्ठा पूर्वक शपथ लेता हूं कि मैं वनों, वन्य प्राणियों एवं पर्यावरण के संरक्षण के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दूंगा। मैं स्वयं अपने घर, खेत में वृक्ष लगाऊंगा एवं उनको संरक्षित भी करूंगा और अन्य लोगों को भी पौधारोपण एवं उनके संरक्षण के लिए प्रेरित करूंगा। वन एवं वन्य प्राणियों को नुकसान नहीं पहुंचाऊंगा एवं अन्य लोगों को भी नुकसान पहुंचाने से रोकने का सर्वोत्तम प्रयास करूंगा। अपने घर, गांव, नगर को स्वच्छ बनाए रखने में अपना योगदान दूंगा एवं प्लास्टिक के उपयोग में कमी करने का भी वचन देता हूं।

shyam awasthi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned