scriptCMIE report: 1.89 crore salaried people jobs loss since April | CMIE Report : अप्रैल से अब तक 1.89 करोड़ सैलरीड लोगों की गई नौकरी | Patrika News

CMIE Report : अप्रैल से अब तक 1.89 करोड़ सैलरीड लोगों की गई नौकरी

  • अप्रैल के महीने में गई थी सबसे ज्यादा 1.77 करोड़ Salaried की नौकरी, जुलाई में 50 लाख पहुंचा आंकड़ा
  • जून में 39 लाख वेतनभोगियों को मिली थी नौकरी, इस दौरान 1.49 करोड़ लोगों ने की Farming

नई दिल्ली

Updated: August 19, 2020 07:57:45 am

नई दिल्ली। कोरोना काल ( Corona Era ) में अप्रैल से लेकर जुलाई तक देश में 1.89 करोड़ लोगों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है। ये वो लोग हैं जो सैलरीड पर्सन है। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी ( Center for Monitoring Indian Economy ) की रिपोर्ट के अनुसार ऐसे लोगों की नौकरी जाना थोड़ा मुश्किल होता है, लेकिन चले जाने के बाद दोबारा मिलना और ज्यादा मुश्किल हो जाता है। अप्रैल से जुलाई के बीच जून ही एक ऐसा महीना देखने को मिला है, जिसमें नौकरी में इजाफा हुआ है, वर्ना बाकी सभी महीनों में लोगों को अपनी नौकरी गंवानी ( Job loss ) पड़ी है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर किस तरह की रिपोर्ट सामने आई है।

Jobloss in india

यह भी पढ़ेंः- India China Tension: HDFC के बाद चीनी केंद्रीय बैंक का ICICI में निवेश

चार महीने में 1.89 करोड़ सैलरीड लोगों ने नौकरी गंवाई
सीएमआईई के आंकड़ों के अनुसार, कोरोनोवायरस महामारी के बीच अपनी नौकरी गंवाने वाले वेतनभोगियों की संख्या अप्रैल से अब तक 1.89 करोड़ हो गई है, पिछले महीने लगभग 50 लाख लोगों ने नौकरी गंवाई है। आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल महीने में 1.77 करोड़ वेतनभोगियों की नौकरी चली गई, मई में लगभग 1 लाख, जबकि जून में लगभग 39 लाख लोगों को नौकरियां मिली, लेकिन जुलाई में करीब 50 लाख लोगों की नौकरी फिर से चली गई।

यह भी पढ़ेंः- IPL 2020 Title Sponsor Dream11 में है चीनी कंपनी Tencent का निवेश, जानिए कितना लगा है रुपया

22 फीसदी कम हुई नौकरियां
सीएमआईई सीईओ महेश व्यास ने कहा कि जबकि वेतनभोगियों की नौकरियां जल्दी नहीं जाती, लेकिन जब जाती है तो, दोबारा पाना बहुत मुश्किल होता है, इसलिए ये हमारे लिए चिंता का विषय है।उन्होंने कहा कि 2019-20 में वेतनभोगी नौकरियां औसतन लगभग 190 लाख थीं। लेकिन पिछले वित्त वर्ष में इसकी संख्या कम होकर अपने स्तर से 22 फीसदी नीचे चली गई।

यह भी पढ़ेंः- IPL 2020 के Sponsor की तलाश खत्म, Dream11 ने खरीदे 222 करोड़ में खरीदे अधिकार

1.49 करोड़ लोगों ने किसानी की
वहीं दूसरी ओर पहली तिमाही में लोगों का रुझान खेती की ओर से ज्यादा बढ़ा है। लॉकडाउन और नौकरी जाने के बाद लोग द्वारा अपने गांवों की ओर पलायन करने के बाद खेती करनी शुरू की है।इस दौरान लगभग 1.49 करोड़ लोगों ने किसानी की। एग्रीकल्चर मिनीस्ट्री के आंकड़ों के अनुसार सभी अनाजों और फसलों के रकबे में इजाफा देखने को मिला है। सरकार खुद इस बात को मान रही है कि देश में इस अच्छी खेती देखने को मिली है और अनाज की कोई कमी है। सीएमआईई के नए आंकड़ों के अनुसार इस अवधि के दौरान लगभग 68 लाख दैनिक वेतन भोगियों ने अपनी नौकरी खोई है। यही वजह है लोगों का रुझान खेती की ओर गया है।

यह भी पढ़ेंः- Elon Musk ने एक ही दिन में कमा लिए 52 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा, दुनिया के बने 5वें सबसे अमीर शख्स

लीव विदाउट पेड
रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर विभिन्न सेक्टर की कंपनियों ने अपने कर्मचारियों के वेतन काटे या फिर उन्हें बिना भुगतान के छुट्टी दे दी। उद्योग निकायों और कई अर्थशास्त्रियों ने बड़े पैमाने पर कंपनियों पर महामारी के प्रभाव से बचने और नौकरी के नुकसान से बचने के लिए उद्योग को सरकारी समर्थन देने का अनुरोध किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: पावर प्ले में बैंगलोर ने बनाए 1 विकेट के नुकसान पर 46 रनपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.