ब्रिटेन: ब्रेक्जिट पर PM थेरेसा मे ने पेश की नई रूपरेखा, सांसद दूसरे रेफ्रेंडम के लिए कर सकते हैं वोट

  • पीएम थेेरेसा मे ने ब्रेक्जिट को लेकर एक नया रूपरेखा तैयार किया है।
  • जून के पहले हफ्ते में पेश किया जा सकता है प्रस्ताव।
  • यह चौथी बार होगा जब पीएम थेरेसा मे ब्रेक्जिट को लेकर संसद में प्रस्ताव रखेंगी।

By: Anil Kumar

Updated: 22 May 2019, 12:01 PM IST

लंदन। ब्रिटेन में ब्रिक्जिट ( Brexit ) को लेकर चल रही सियासी लड़ाई के बीच एक बार फिर से यह मुद्दा गर्मा गया है। मंगलवार को प्रधानमंत्री थेरेसा मे ( Prime Minister Theresa May ) ने संसद द्वारा ब्रेक्जिट प्लान को खारिज किए जाने के बाद एक बार फिर से नए प्रस्ताव की घोषणा की है। इस बार थेरेसा मे ने एक दूसरे जनमत संग्रह की संभावना को भी खतरे में डाल दिया है। मे ने अपने भाषण में दावा किया कि यह एक 'नया ब्रेक्जिट सौदा' है, जो कि वास्तव में संसद के संदिग्ध सदस्यों के समर्थन को आकर्षित करने के लिए कुछ अच्छे डिजाइन के साथ अपने पुराने ब्रेक्जिट सौदे की तरह दिखता है। उन्होंने कहा कि यदि सांसद इस बिल के भी विरोध में वोट करते हैं तो इसका मतलब यह होगा कि वे ब्रेक्जिट को रोकने के लिए वोट कर रहे हैं।

ब्रेक्जिट पर रार बरकरार, थेरेसा मे और कार्बिन के बीच नहीं बन सकी सहमति

तीन बार खारिज हो चुका है प्रस्ताव

बता दें कि इससे पहले थेरेसा मे ने तीन बार संसद में ब्रेक्जिट प्रस्ताव रखा लेकिन तीनों बार संसद में प्रस्ताव खारिज हो चुका है। अब एक बार फिर से थेरेसा में इस योजना को पास करने का प्रयास में लगी हैं। मे ने यूरोपीय संघ ( European Union ) से ब्रिटेन ( Britain ) के निकलने वाले व्यापक कानून में कई तरह के ने नियमों को शामिल किया है। जिसमें साथ ही साथ एक दूसरे जनमत संग्रह ( referendum ) की पेशकश की है , जिसका संबंध श्रमिकों के अधिकारों, पर्यावरणीय प्रावधानों, साथ ही यूरोपीय संघ के साथ एक अस्थायी सीमा शुल्क से भी है| मे ने कहा कि यदि इस समझौते से सहमत होने में विफलता मिलती है तो यह 'स्थायी रूप से ध्रुवीकृत राजनीति के बुरे सपने' को जन्म देगी। प्रधानमंत्री मे के इस प्रस्ताव को पहले से भी बदतर बताते हुए प्रधानमंत्री की पार्टी में प्रो-ब्रेक्जिट ब्लॉक के नेता और कंजर्वेटिव सांसद जैकब-रीस मोग ने कहा कि हम यूरोपीय संघ को रियायतें देने के लिए गहराई से बाध्य करेंगे। लेबर पार्टी के सांसद मार्गरेट बेकेट जो कि आधिकारिक लोगों के वोट अभियान का समर्थन करते हैं, ने इसे 'हॉच-पॉच ऑफर' के रूप में देखा और कहा है कि इस अस्वीकार कर देना चाहिए।

ब्रिटेन: शाही परिवार के नए राजकुमार का हुआ नामकरण, प्रिंस हैरी और मेघन मर्केल ने की घोषणा

जून में रखा जाएगा प्रस्ताव

ब्रेक्जिट को लेकर एक बार फिर से प्रधानमंत्री थेरेसा मे जून के पहले हफ्ते में संसद में प्रस्ताव रखेंगी। जब मे हाउस ऑफ कॉमन्स के समक्ष प्रस्ताव रखेंगी तो यह चौथी बार होगा जब इसे पास कराने का प्रयास किया जाएगा। संभवतः यह आखिरी मौका होगा क्योंकि यूरोपीय संघ को छोड़ने के लिए बढ़ते दबाव का सामना करना पड़ रहा है। ब्रेक्जिट के लिए मतदान अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की आगामी ब्रिटेन यात्रा के साथ होगा। ऐसा माना जा रहा है कि यूरोपीय चुनावों में कंजर्वेटिव पार्टी की ओर से हिंसक प्रदर्शन होने की संभावना है, जिससे बचने की पीएम मे को उम्मीद थी।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned