Ghaziabad: सड़क पर खड़ी गाड़ी का पुलिस ने किया चालान तो जमकर हुआ हाइवॉल्टेज ड्रामा

Highlights:

-पुलिसकर्मियों पर पिटाई का आरोप

-लोगों ने थाने पर किया हंगामा

-अधिकारी बोले- जांच के बाद होगी कार्रवाई

By: Rahul Chauhan

Updated: 23 Jun 2020, 01:07 PM IST

गाजियाबाद। सड़क के बीच में गाड़ी खड़े करने पर पुलिस ने चालान कर दिया। जिसके बाद युवक पुलिस से ही भिड़ गया और मामला हाथापाई तक पहुंच गया। जिसके बाद ड्राइवर को पुलिसकर्मी थाने ले गए। वहीं उसके पीछे-पीछे इलाके के लोग भी थाने पहुंच गए। जहां जमकर हाइवेल्टेज ड्रामा हुआ। जिसके बाद पुलिस द्वारा युवक को छोड़ दिया गया। युवक और उसके परिजनों का आरोप है कि पुलिसकर्मियों द्वारा उसकी गाड़ी में भी पिटाई की गई और थाने पर लाकर भी उसे जमकर पीटा गया। जिसकी शिकायत उनके द्वारा उच्च अधिकारियों से की गई है।

यह भी पढ़ें : Lockdown में अपने गांव पहुंच Nawazuddin siddiqui कर रहे खेती, शेयर किया वीडियो

इस मामले में पीड़ित कामिल और उसके परिजनों का कहना है कि वह अपनी मोबाइल की दुकान पर मौजूद था। उसकी गाड़ी दुकान के आगे ही खड़ी हुई थी। अचानक ही पुलिसकर्मी आए और फोटो खींचकर उसका चालान करने लगे। इस बात पर सिर्फ युवक द्वारा पुलिसकर्मियों को टोका गया। आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने उसकी पिटाई करनी शुरू कर दी और उसे गाड़ी में डालकर थाने ले गए। आरोप है कि थाने में भी कामिल की जमकर पिटाई की गई।

कुछ देर बाद जब स्थानीय लोग थाने पर पहुंचे और उन्होंने थाने पर हंगामा करना शुरू कर दिया तो उसे छोड़ा गया। कामिल का कहना है कि आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसने पुलिस के आला अधिकारियों से स्थानीय पुलिस की लिखित में शिकायत करते हुए उनसे न्याय की गुहार लगाई है। वहीं इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए क्षेत्राधिकारी सदर धर्मेंद्र सिंह का कहना है कि थाना मसूरी इलाके के डासना कस्बे में लोग अक्सर सड़क पर ही गाड़ियां खड़ी कर देते हैं। जिसके बाद वहां से निकलने वाले अन्य लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। स्थानीय लोगों के द्वारा ही थाना मसूरी पुलिस से इस बात की शिकायत की गई थी। जिसके बाद थाना मसूरी पुलिस द्वारा सड़क पर गाड़ी खड़े करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया गया और सड़क पर खड़ी कामिल नामक युवक की गाड़ी का चालान किया जा रहा था।

यह भी पढ़ें: 'TikTok Star' को पुलिस ने किया गिरफ्तार, मामला जानकर आ जाएगा गुस्सा

सीओ ने बताया कि इसी दौरान कामिल पुलिसकर्मियों से ही भिड़ गया। जब वह पुलिसकर्मियों के साथ हाथापाई करने लगा तो उसे थाने लाया गया। लेकिन स्थानीय लोगों के पहुंचने पर कामिल को उसके परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया। कामिल के द्वारा स्थानीय पुलिस की शिकायत की गई है। जिसमें बताया गया है कि उसकी बेवजह पुलिस के द्वारा पिटाई की गई है। पूरे मामले की गहनता से जांच की जा रही है, जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned